BREAKING NEWS

CAB के खिलाफ जामिया के छात्रों ने किया उग्र प्रदर्शन, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले◾राहुल के 'रेप इन इंडिया' वाले बयान को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर जनता का ध्यान भटकाने का लगाया आरोप◾निर्भया के दोषियों पर फैसला 18 दिसंबर को : कोर्ट ◾गुवाहाटी में मोदी और शिंजो आबे के बीच होनी वाली शिखर वार्ता हुई स्थगित◾लोकसभा में बोले राजनाथ सिंह- राहुल गांधी को सांसद होने का नैतिक अधिकार नहीं◾'रेप इन इंडिया' वाले बयान पर बोले राहुल-कभी माफी नहीं मांगने वाला◾राहुल गांधी के 'रेप इन इंडिया' वाले बयान पर लोकसभा में हंगामा, महिला सांसदों ने की माफी की मांग ◾निर्भया गैंगरेप : पटियाला हाउस कोर्ट में टली सुनवाई, पीड़िता की मां ने आरोपी की पुनर्विचार याचिका का किया विरोध ◾आम चुनावों में प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को मिला बहुमत, PM मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप ने दी बधाई◾तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने नागरिकता संशोधन कानून को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती ◾संसद हमले की 18वीं बरसी आज, पार्लियामेंट के बाहर PM मोदी समेत कई सांसदों ने दी श्रद्धांजलि◾नागरिकता संशोधन विधेयक: भारत की यात्रा रद्द कर सकते हैं जापान के PM शिंजो आबे◾पिछले तीन साल में उच्चतम स्तर पर महंगाई, लेकिन प्रधानमंत्री मौन : प्रियंका गांधी◾नागरिकता संशोधन विधेयक: डिब्रूगढ़ में कर्फ्यू में ढील, गुवाहाटी में प्रदर्शनकारी कर रहे हैं अनशन◾निर्भया गैंगरेप : चारों आरोपियों की जल्दी फांसी की मांग को लेकर पटियाला हाउस कोर्ट में आज होगी सुनवाई◾केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन का जन्मदिन आज, PM मोदी ने दी बधाई◾CAB : अमेरिका ने भारत से धार्मिक अल्पसंख्यकों के अधिकारों की रक्षा करने का किया अनुरोध◾झारखंड विधानसभा चुनाव : झरिया में देवरानी-जेठानी के बीच दिलचस्प मुकाबला◾किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लिए सरकार ने बनाया रोडमैप : कृषि मंत्री ◾उत्तर भारत में बर्फबारी के बाद बढ़ी ठंड, दिल्ली में भी हुई बारिश ◾

देश

रामलीला मैदान में मोदी सरकार की ‘जनविरोधी नीतियों’ के खिलाफ विपक्ष करेगी बड़ी रैली

 congress main

 कांग्रेस ने शनिवार को कहा कि वह बेरोजगारी, आर्थिक मंदी और कृषि संकट को लेकर आगामी 30 नवंबर को दिल्ली के रामलीला मैदान में बड़ी रैली का आयोजन करेगी ताकि नरेंद्र मोदी सरकार की ‘जनविरोधी नीतियों’ को जनता के समक्ष बेनकाब किया जा सके। 

मुख्य विपक्षी पार्टी इन मुद्दों को लेकर पहले ही जिला और प्रदेश स्तर पर आंदोलन कर रही है और इसका समापन दिल्ली की रैली से होगा जिसे ‘भारत बचाओ रैली’ नाम दिया गया है। 

कांग्रेस ने पांच नवम्बर से 15 नवम्बर के बीच देश के विभिन्न हिस्सों में आंदोलन करने की योजना बनाई थी, हालांकि अयोध्या मामले का फैसला आने की पृष्ठभूमि में कुछ राज्यों में पार्टी ने इस कार्यक्रम को थोड़ा आगे बढ़ा दिया है। पार्टी का कहना है कि उसने पिछले कुछ दिनों देश के अलग अलग हिस्सों में मोदी सरकार की ‘विफलताओं’’ को उजागर करने के लिए विरोध प्रदर्शन किया। 

कांग्रेस महसचिवों, प्रदेश प्रभारियों, विभाग अध्यक्षों, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रमुखों और विधायक दल के नेताओं की बैठक में 30 नवम्बर की रैली करने का निर्णय हुआ। 

बैठक के बाद कांग्रेस के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘आज, हमने फैसला किया है कि जिला और राज्य स्तरों पर आंदोलनों को 25 नवम्बर से पहले पूरा कर लिया जायेगा।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘हमने दिल्ली के रामलीला मैदान में 30 नवम्बर को केन्द्र सरकार की जन-विरोधी नीतियों के खिलाफ एक विशाल रैली करने का फैसला लिया है। बैठक में इस रैली को ‘भारत बचाओ रैली’ नाम दिये जाने का भी निर्णय किया गया क्योंकि लोग बहुत ज्यादा दुखी हैं।’’ 

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाया, ‘‘ भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने भारत को बर्बाद कर दिया है। उसने भारत को मंदी और तालाबंदी की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है, भारत को भुखमरी की तरफ धकेल दिया है और भारत को बेरोजगारी के कुएं में धकेल दिया है। इस सरकार ने भारत की सम्प्रभुता, आर्थिक सबलता पर आक्रमण और हमला कर दिया है।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘सोनिया गांधी और राहुल गांधी के आह्वान पर 25 तारीख तक हर जिले के अंदर और हर प्रांत के अंदर एक व्यापक आंदोलन का आगाज हमने किया था। 60 प्रतिशत मुल्क में यह आंदोलन संपूर्ण हो चुका है और आज की बैठक में निर्णय किया गया कि 40 प्रतिशत जहां बचा है, वहां भी ये संपूर्ण हो जाएगा। इस सारे आंदोलन समापन 30 नवंबर को ‘भारत बचाओ’ रैली के माध्यम से होगा।’’