BREAKING NEWS

Howdy Modi: 7 दिनों के अमेरिका दौरे पर रवाना हुए पीएम मोदी, ये रहेगा कार्यक्रम◾शरद पवार बोले- केवल पुलवामा जैसी घटना ही महाराष्ट्र में बदल सकती है लोगों का मूड◾नीतीश पर तेजस्वी का पलटवार, कहा- जब एबीसीडी नहीं आती, तो मुझे उपमुख्यमंत्री क्यों बनाया था?◾महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनावों के लिए आज होगी तारीखों की घोषणा, 12 बजे EC की प्रेस कॉन्फ्रेंस◾विदेश मंत्री जयशंकर ने फिनलैंड के शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात की◾सुरक्षा बल और वैज्ञानिक हर चुनौती से निपटने में सक्षम : राजनाथ ◾पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंड़ल से कोई बातचीत नहीं होगी : अकबरुद्दीन◾भारत, अमेरिका अधिक शांतिपूर्ण व स्थिर दुनिया के निर्माण में दे सकते हैं योगदान : PM मोदी◾कॉरपोरेट कर दर में कटौती : मोदी-भाजपा ने किया स्वागत, कांग्रेस ने समय पर सवाल उठाया ◾चांद को रात लेगी आगोश में, ‘विक्रम’ से संपर्क की संभावना लगभग खत्म ◾J&K : महबूबा मुफ्ती ने पांच अगस्त से हिरासत में लिए गए लोगों का ब्यौरा मांगा◾अनुभवहीनता और गलत नीतियों के कारण देश में आर्थिक मंदी - कमलनाथ◾वायुसेना प्रमुख ने अभिनंदन की शीघ्र रिहाई का श्रेय राष्ट्रीय नेतृत्व को दिया ◾न तो कोई भाषा थोपिए और न ही किसी भाषा का विरोध कीजिए : उपराष्ट्रपति का लोगों से अनुरोध◾अनुच्छेद 370 फैसला : केंद्र के कदम से श्रीनगर में आम आदमी दिल से खुश - केंद्रीय मंत्री◾TOP 20 NEWS 20 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾राहुल का प्रधानमंत्री पर तंज, कहा- ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम ‘आर्थिक बदहाली’ को नहीं छिपा सकता◾रेप के अलावा चिन्मयानंद ने कबूले सभी आरोप, कहा-किए पर हूं शर्मिंदा◾डराने की सियासत का जरिया है NRC, यूपी में कार्रवाई की गई तो सबसे पहले योगी को छोड़ना पड़ेगा प्रदेश : अखिलेश यादव◾नीतीश कुमार ने विधानसभा चुनाव में NDA की बड़ी जीत का किया दावा, कहा- गठबंधन में दरार पैदा करने वालों का होगा बुरा हाल◾

देश

शरद पवार, अन्य के खिलाफ बैंक घोटाला मामले में FIR दर्ज करने का आदेश

बंबई हाईकोर्ट ने गुरुवार को पुलिस को महाराष्ट्र स्टेट कोऑपरेटिव बैंक में 1,000 करोड़ रुपये के घोटाले के मामले राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार, पूर्व उप-मुख्यमंत्री अजीत पवार समेत 70 अन्य लोगों के खिलाफ पांच दिन के अंदर एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए। 

जस्टिस एस. सी. धर्माधिकारी और जस्टिस एस. के. शिंदे की बेंच ने प्रथमदृष्टया साक्ष्यों के आधार पर आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) के अधिकारियों को संबंधित कानून के तहत कार्रवाई करने को कहा। 

मुंबई के एक कार्यकर्ता सुरिंदर एम. अरोड़ा द्वारा दाखिल पीआईएल (जनहित याचिका) में दोनों पवार के अलावा, एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल समेत कई जानेमाने नेताओं, सरकारी और बैंक अधिकारियों का नाम हैं। 

इन पर राज्य के शीर्ष सहकारी बैंक को 2007 से 2011 के बीच 1,000 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाने का आरोप है। 

इससे पहले, महाराष्ट्र कोऑपरेटिव सोसाइटीज एक्ट के तहत एक अर्ध न्यायिक जांच समिति ने इस मामले में पवार और अन्य को जिम्मेदार ठहराया था। 

नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रुरल डेवलपमेंट (नाबार्ड) ने भी एमएससीबी की जांच की थी, जिसमें खुलासा हुआ था कि चीनी मिलों और कपास मिलों को बैंकिंग और भारतीय रिजर्व बैंक के कई नियमों की धज्जियां उड़ाकर अंधाधुंध तरीके से कर्ज बांटे गए, जिन्हें लौटाया नहीं गया।

 

अरोड़ा द्वारा जांच के नतीजे और शिकायतों को दाखिल करने के बावजूद इस मामले में किसी के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं की गई, जिसके बाद उन्होंने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया।