BREAKING NEWS

BJP सांसद ओम बिड़ला बने नए लोकसभा स्पीकर, कांग्रेस सहित सभी दलों का मिला समर्थन◾49 साल के हुए राहुल गांधी, PM मोदी ने की लम्बी उम्र और अच्छे स्वास्थ्य की कामना◾बिहार में जारी है चमकी बुखार का कहर, अब तक 112 बच्चों की हुई मौत◾'एक देश, एक चुनाव' पर मोदी की बैठक में ये नेता नहीं होंगे शामिल, मायावती ने ट्वीट कर दिया बयान◾'एक देश एक चुनाव' पर PM मोदी की बैठक आज, ममता नहीं होंगी शामिल◾पेट्रोल और डीजल के दाम स्थिर, जाने आपके राज्य में क्या है भाव !◾बंगाल में BJP कार्यकर्ता की हत्या, तृणमूल पर लगाया आरोप◾CM योगी ने नड्डा,शाह से की मुलाकात◾कांग्रेस ने ‘पार्टी विरोधी’ गतिविधियों के लिए रोशन बेग को किया सस्पेंड◾तृणमूल के विधायक, कई पार्षदों ने थामा BJP का दामन◾‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ पर बुधवार सुबह निर्णय लेंगे कांग्रेस और सहयोगी दल ◾अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में कांग्रेस के बने नेता◾स्पीकर के चुनाव में बिड़ला का समर्थन करेगा UPA, ''एक राष्ट्र, एक चुनाव'' पर अभी निर्णय नहीं ◾बजट से पहले मोदी के साथ महत्वपूर्ण विभागों के सचिवों की बैठक ◾J&K : पुलवामा में पुलिस थाने पर ग्रेनेड हमला, 5 घायल, 2 की हालत गंभीर◾PM मोदी ने 19 जून को बुलाई सर्वदलीय बैठक, 'एक राष्ट्र एक चुनाव' पर करेंगे चर्चा◾मेरठ : गमगीन माहौल में हुआ शहीद मेजर का अंतिम संस्कार, अंतिम दर्शन को उमड़ा जनसैलाब ◾WORLD CUP 2019, ENG VS AFG : इंग्लैंड ने अफगानिस्तान के खिलाफ रिकार्डों की झड़ी लगाई ◾विपक्ष ने महाराष्ट्र के वित्त मंत्री के ट्विटर हैंडल पर बजट लीक को लेकर की सरकार आलोचना की◾Top 20 News - 18 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾

देश

मोदी सरकार पर भड़के ओवैसी, बोले- यदि तसलीमा भारत में शरण ले सकती है तो रोहिंग्या मुसलमान क्यो नहीं

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असादुद्दीन ओवैसी ने कहा कि यदि तिब्बत, बांग्लादेश और श्रीलंका के शरणार्थी भारत में रह सकते है तो म्यांमार के रोहिंग्या मुस्लिम क्यों नहीं रह सकते। उन्होंने बांग्लादेशी लेखिका तसलीमा नसरीन का भी हवाला दिया। तसलीमा अपने देश में इस्लामी कट्टरपंथियों से धमकी मिलने के बाद अब एक दशक से अधिक समय तक भारत में शरण लिये हुए है।

म्यांमार के हिंसाग्रस्त रखाइने प्रांत से भागे रोहिंग्या पर रूख को लेकर राजग सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा अपना सब कुछ खो चुके उन लोगों को क्या वापस भेजना मानवता है। यह गलत है। उन्होंने कल देर रात यहां लोगों को संबोधित करते हुए पूछा, यदि बांग्लादेशी लेखिका तसलीमा नसरीन भारत में शरण ले सकती है तो रोहिंग्या मुसलमान क्यो नहीं।

\"\"

हैदराबाद से लोकसभा सदस्य ओवैसी ने कहा जब तसलीमा नसरीन आपकी बहन हो सकती हैं तो रोहिंग्या भी आपके भाई हो सकते है, मिस्टर मोदी। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार को रोहिंग्या को शरणार्थी के रूप में देखना चाहिए न कि मुसलमान के रूप में। ओवैसी ने कहा भारत ने तिब्बत, श्रीलंका और बंगलादेश के चकमा शरणार्थियों को शरण दी।

उन्होंने कहा जब यह बताया गया कि वे (श्रीलंकाई शरणार्थी) आतंक में हिस्सा ले रहे है , क्या किया गया था? उन्हें एक शिविर से दूसरे शिविर में स्थानांतरित कर दिया गया। उन्होंने कहा कि भारत का संविधान सभी को समानता का अधिकार देता है और यह शरणार्थियों पर भी लागू होता है। ओवैसी ने कहा भाजपा सरकार कहती है कि हम रोहिंग्या मुस्लिमों को वापस भेजेंगे। हम भारतीय प्रधानमंत्री से यह पूछना चाहते है कि किस कानून के तहत आप उन्हें वापस भेजेंगे।