BREAKING NEWS

राहुल गांधी का केंद्र पर तंज, कहा- संक्रमण की गंभीर स्थिति में जिनकी जवाबदेही है वो छिपे बैठे हैं◾विपक्षी नेताओं ने PM को लिखा पत्र: सभी स्रोतों से खरीदा जाए टीका, हर नागरिक का मुफ्त हो टीकाकरण ◾ममता का मोदी को पत्र, कहा- सरकार कोविड रोधी टीकों के विनिर्माण के लिए जमीन और मदद उपलब्ध कराने को तैयार◾दिल्ली में कोरोना के 13,287 नए मामले सामने आए, 300 लोगों की मौत, संक्रमण दर में गिरावट जारी◾उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना ने ली 329 लोगों की जान, 18125 नए मरीजों की पुष्टि◾अब भारत में बनेंगी लंबे समय तक चलने वाली बैटरी, 18 हजार करोड़ के PLI इंसेंटिव को मंजूरी◾कांग्रेस ने केंद्र को बताया आपदा में अवसर वाली सरकार, कहा- चिकित्सा उपकरणों से हटाई जाए GST◾BJP का पलटवार- वैक्सीन को लेकर लगातार भ्रम उत्पन्न करने की कोशिश कर रहा है विपक्ष ◾देश में लगातार दूसरे दिन उपचाराधीन मरीजों की संख्या में आई कमी, 71.22 प्रतिशत मामले 10 राज्यों में आए सामने◾44 देशों में मिला कोरोना का इंडियन वैरिएंट, WHO ने कहा- वायरस का यह स्वरूप है खतरनाक ◾कांग्रेस का सरकार पर कटाक्ष, कहा- चुनाव के बाद विकास 100 रुपये प्रति लीटर पेट्रोल के साथ वापस आ गया◾क्या ऐसे होगी कोरोना पर जीत? PM केअर्स फंड से फरीदकोट भेजे गए वेंटिलेटर्स में से अधिकतर खराब◾भारत बायोटेक ने दिल्ली को कोवैक्सीन देने से किया इनकार, कई केंद्र करने पड़े बंद- सिसोदिया◾राहुल और प्रियंका का केंद्र पर वार- रेत में सिर डालना सकारात्मकता नहीं, देशवासियों के साथ है धोखा◾इमरान खान का कश्मीर राग बरकरार, कहा- जब तक निर्णय वापस नहीं होगा, भारत से वार्ता नहीं करेगा पाकिस्तान◾कोरोना वायरस : देश में पिछले 24 घंटे में साढ़े 3 लाख से कम मामलों की पुष्टि, 4205 लोगों ने गंवाई जान ◾कोरोना वायरस : 2 से 18 साल के बच्चों पर वैक्सीन के ट्रायल की भारत बायोटेक को मिली मंजूरी ◾गुजरात : कोरोना देखभाल केंद्र में लगी आग, 61 मरीजों को दूसरे अस्पतालों में किया गया शिफ्ट ◾उत्तर प्रदेश : एएमयू में अब तक 26 प्रोफेसरों की कोरोना से मौत, कोविड के वैरिएंट की होगी जांच◾पश्चिम बंगाल के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश, तूफान से 8 लोगों की मौत ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

चिदंबरम का केंद्र पर हमला: अर्थव्यवस्था में सुधार के लिए लोगों के हाथ में पैसा पहुंचाना जरूरी

अर्थव्यवस्था में लगातार हो रही गिरावट ने विपक्ष को केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलने का बड़ा मौका दिया है और मुख्य रूप से कांग्रेस इस मुद्दे पर लगातार मुखर होकर सरकार को आड़े हाथों ले रही है। राहुल गांधी , प्रियंका गांधी से लेकर तमाम वरिष्ठ नेता मोदी सरकार पर निशाना साध रहे है। इसी बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने भी सरकार की नीतियों पर एक बार फिर सवाल उठाया है 

चिदंबरम ने भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर, सेबी प्रमुख एवं आर्थिक मामलों के सचिव के ताजा बयानों को लेकर बृहस्पतिवार को सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि नीचे की आधी आबादी के हाथों में पैसा और गरीबों की थाली में भोजन पहुंचाए बिना अर्थव्यवस्था में सुधार नहीं किया जा सकता। 

पूर्व वित्त मंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘क्या यह पेचीदा बात नहीं है कि आरबीआई के गवर्नर, सेबी के अध्यक्ष और आर्थिक मामलों के सचिव एक ही विषय पर, एक ही दिन बोलते हैं ? इन तीनों ने अर्थव्यवस्था पर बात करने की कोशिश की है।’’ 

चिदंबरम ने तंज कसते हुए कहा कि काश ! अर्थव्यवस्था एक सर्कस का शेर होता जो रिंगमास्टर की छड़ी के हिसाब से चलता। उनके मुताबिक, जब तक सरकार नीचे के आधे परिवारों के हाथों में पैसा नहीं देती है और गरीबों की थाली में खाना नहीं पहुंचाती है, तब तक अर्थव्यवस्था में सुधार नहीं होगा। 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और वित्त मंत्रालय को टैग करते हुए कहा, ‘‘जो मैं कह रहा हूं, उस पर यदि आपको संदेह है तो बस आप बिहार के मतदाताओं की आवाज़ सुनें। उनके पास कोई काम नहीं या पर्याप्त काम नहीं है, कोई आमदनी नहीं या थोड़ी आय है और फिलहाल उनकी सोच जीवित बचे रहने पर केंद्रित है, खर्च करने पर नहीं।’’ 

गौरतलब है कि रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास, भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के प्रमुख अजय त्यागी और आर्थिक मामलों के सचिव तरूण बजाज ने बुधवार को अलग अलग मौकों पर अर्थव्यवस्था के संदर्भ में बयान दिए। 

दास ने कहा कि सरकार और केंद्रीय बैंक की उदार एवं अनुकूल मौद्रिक एवं राजकोषीय नीतियों के चलते भारत आर्थिक पुनरूत्थान की देहली पर खड़ा है। 

त्यागी ने कहा कि महामारी के झटके के बाद पूंजी बाजारों में व्यापक आधार पर सुधार हुआ है। शेयर बाजारों में तेजी तथा सुस्त अर्थव्यवस्था के बीच ‘किसी तरह का तालमेल’ नहीं होने की आलोचनाओं के बीच सेबी प्रमुख का यह बयान आया। 

बजाज ने कहा कि कोरोना वायरस से प्रभावित अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिये सरकार आगे और प्रोत्साहन उपाय करने को तैयार है। साथ ही उन्होंने बताया कि नई सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम नीति पर केन्द्रीय मंत्रिमंडल जल्द ही विचार करेगा। 

अमित शाह के जन्मदिन पर पीएम मोदी ने दी बधाई, बोले- भाजपा को मजबूत बनाने में शाह का योगदान बहुत अहम