BREAKING NEWS

1 फरवरी को संसद के पटल पर होगा बजट पेश, 'लोगों को काफी उम्मीदें'◾राजस्‍थान में शीतलहर का कहर, 5वीं कक्षा तक के स्‍कूल 31 जनवरी तक बंद ◾आज का राशिफल (30 जनवरी 2022)◾सिर्फ मोदी को लगता है, चीन ने हमारी जमीन नहीं ली : राहुल गांधी◾BCCI ने भारतीय अंडर-19 महिला टीम के लिए 5 करोड़ के नकद पुरस्कार की घोषणा की◾भारतीय महिला टीम बनी अंडर-19 टी20 विश्व कप चैम्पियन, बधाइयों का लगा तांता◾बारिश भी नहीं डिगा सका बीटिंग रिट्रीट के जज्बे को, गणतंत्र दिवस समारोह का हुआ औपचारिक समापन◾दिल्ली में बारिश, अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री नीचे◾ओडिशा के मंत्री नब किशोर दास की गोली लगने से मौत, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री ने शोक जताया◾IND vs NZ : स्पिनरों के दबदबे के बीच भारत ने न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराया, श्रृंखला 1-1 से बराबर◾हमीरपुर में दूषित जल पीने से बीमार पड़ने वालों की संख्या 535 हुई, मुख्यमंत्री ने रिपोर्ट मांगी◾प्रधानमंत्री मोदी : 'तकनीकी दशक बनाने का भारत का सपना होगा साकार'◾रामचरितमानस विवाद में घिरे स्वामी प्रसाद को अखिलेश ने बनाया राष्ट्रीय महासचिव, चाचा शिवपाल को भी मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾यूपी के मंत्री जितिन प्रसाद ने स्वामी प्रसाद मौर्य के रामचरितमानस बयान को बताया चुनावी रणनीति◾Air Asia Flight: एयर एशिया के विमान से टकराया पक्षी, लखनऊ एयरपोर्ट पर हुई इमरजेंसी लैंडिंग◾ सपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की लिस्ट में पार्टी नेताओं के नाम किए घोषित,विवादों में रहें स्वामी प्रसाद मौर्य को बनाया गया महासचिव◾पाकिस्तान की जनता पर टूटा दुखों का पहाड़, पेट्रोल, डीजल के दाम 35-35 रुपये लीटर बढ़े◾Gonda Crime : धारदार हथियार से की शिक्षक की हत्या, मिले कुछ महत्वपूर्ण सुराग ◾2024 के लिए कठिन क्यों है कांग्रेस का डगर, भारत जोड़ो यात्रा से लोगों में दिखा असर◾कांग्रेस पार्टी शुरु करेंगी हाथ से हाथ जोड़ो अभियान, केंद्र की खराब नीतियों से कराएगी अवगत◾

भारत में टारगेट हत्याओं के पीछे पाकिस्तान-कनाडा स्थित आतंकवादी, NIA जांच में खुलासा

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के अधिकारियों ने मंगलवार को आतंकवादी-गैंगस्टर सांठगांठ मामले के सिलसिले में देश भर में गैंगस्टरों से संबंधित 13 से अधिक स्थानों पर छापे मारे और विभिन्न प्रकार के वर्जित सामान के साथ गोलाबारूद और कई आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किए हैं।

जानकारी के मुताबिक एनआईए ने पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, यूटी चंडीगढ़ और दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में 13 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की। टारगेट जिले फाजिल्का, तरनतारन, लुधियाना, संगरूर, पंजाब में मोहाली, हरियाणा के यमुनानगर, राजस्थान में सीकर और दिल्ली के बाहरी उत्तरी जिले थे।

एनआईए के एक अधिकारी ने कहा, हमने भारत और विदेशों में स्थित आतंकवादियों, गैंगस्टरों और मादक पदार्थों के तस्करों के बीच उभरती सांठगांठ को खत्म करने और तोड़ने के लिए छापे मारे। एनआईए द्वारा संगठित आपराधिक सिंडिकेट और नेटवर्क, शीर्ष गैंगस्टरों, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में स्थित उनके आपराधिक और व्यापारिक सहयोगियों और राजस्थान और दिल्ली में स्थित हथियार आपूर्तिकर्ताओं पर छापेमारी और तलाशी का यह तीसरा दौर था।

जिन गैंगस्टरों के घरों पर छापेमारी की गई, उनमें गुरुग्राम-राजस्थान का कौशल चौधरी, प्रहलपुर-दिल्ली का विशाल मान, संगरूर-पंजाब का बिन्नी गुर्जर, लुधियाना-पंजाब का रवि राजगढ़ और उसके सहयोगी शामिल हैं। एनआईए ने कहा कि वह इस तरह के आतंकी नेटवर्क के साथ-साथ उनकी फंडिंग और सपोर्ट इंफ्रास्ट्रक्च र को खत्म करना जारी रखेगी। अधिकारी ने कहा कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि ये गिरोह लक्षित (टारगेट) हत्याओं को अंजाम दे रहे थे और ड्रग्स और हथियारों की तस्करी के जरिए अपनी आपराधिक गतिविधियों के लिए धन भी जुटा रहे थे।

एनआईए ने कहा- हाल ही में आपराधिक सिंडिकेट और गैंगस्टरों द्वारा व्यवसायियों, पेशेवरों, डॉक्टरों आदि को जबरन वसूली के कॉल ने लोगों के बीच व्यापक डर पैदा कर दिया था। ये गिरोह बड़े पैमाने पर जनता के बीच आतंक पैदा करने के लिए इन अपराधों को प्रचारित करने के लिए साइबर स्पेस का उपयोग कर रहे थे।

एनआईए को जांच के दौरान यह भी पता चला है कि इस तरह की आपराधिक हरकतें स्थानीय घटनाएं नहीं थीं, बल्कि आतंकवादियों, गैंगस्टरों और ड्रग तस्करी के कार्टेल और नेटवर्क के बीच गहरी साजिश थी, जो देश के भीतर और बाहर दोनों जगह से काम कर रहे थे। गिरोह के कई नेता और सदस्य भारत से भाग गए थे और पाकिस्तान, कनाडा, मलेशिया, ऑस्ट्रेलिया सहित विदेशों से काम कर रहे हैं। इनमें से अधिकांश साजिशें विभिन्न राज्यों की जेलों के अंदर से रची जा रही थीं और विदेशों में स्थित गुर्गों के एक संगठित नेटवर्क द्वारा इन्हें अंजाम दिया जा रहा था।