BREAKING NEWS

दिल्ली हिंसा में मारे गए अंकित शर्मा के परिवार ने AAP पार्षद ताहिर हुसैन पर लगाए गंभीर आरोप◾दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या 27 पर पहुंची, हालात अभी भी तनावपूर्ण ◾कांग्रेस ने प्रधानमन्त्री मोदी पर कसा तंज, कहा- अगर शाह पर भरोसा नहीं तो बर्खास्त क्यों नहीं करते◾दिल्ली हिंसा में शामिल 106 लोग गिरफ्तार सहित 18 एफआईआर दर्ज, दिल्ली पुलिस ने जारी किए हेल्पलाइन नंबर◾मुख्यमंत्री केजरीवाल ने किया हिंसाग्रस्त उत्तर-पूर्वी दिल्ली का दौरा ◾अपने दौरे के बाद एनएसए डोभाल ने गृह मंत्री अमित शाह को उत्तर पूर्वी दिल्ली में मौजूदा हालात की जानकारी दी◾एनएसए डोभाल ने किया दंगा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा, बोले- उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात नियंत्रण में ◾TOP 20 NEWS 26 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾शहीद हेड कांस्टेबल रतन लाल के परिवार को 1 करोड़ और एक सदस्य नौकरी देंगे - अरविंद केजरीवाल ◾दिल्ली HC ने पुलिस को भड़काऊ बयान देने वाले BJP नेताओं पर FIR करने की दी सलाह◾दिल्ली हिंसा : IB अफसर अंकित शर्मा का मिला शव, हिंसा ग्रस्त इलाको में जारी है तनाव ◾हिंसा पर दिल्ली हाई कोर्ट सख्त, कहा-देश में एक और 1984 नहीं होने देंगे◾दिल्ली हिंसा पर PM मोदी की लोगों से अपील, ट्वीट कर लिखा-जल्द से जल्द बहाल हो सामान्य स्थिति◾दिल्ली हिंसा : हाई कोर्ट ने कपिल मिश्रा का वीडियो क्लिप देख कर पुलिस को लगाई कड़ी फटकार ◾सीएए हिंसा पर प्रियंका गांधी ने लोगों से की अपील, बोली- हिंसा न करें, सावधानी बरतें ◾सोनिया गांधी ने दिल्ली हिंसा को बताया सुनियोजित, गृहमंत्री से की इस्तीफे की मांग◾दिल्ली हिंसा : हेड कांस्टेबल रतनलाल को दिया गया शहीद का दर्जा, पत्नी को नौकरी के साथ मिलेंगे 1 करोड़ ◾सुप्रीम कोर्ट ने सीएए हिंसा को बताया दुर्भाग्यपूर्ण, याचिकाओं पर सुनवाई से किया इनकार ◾दिल्ली में हुई हिंसा के बाद यूपी में हाई अलर्ट, संवेदनशील जिलों में पुलिस बलों के साथ पीएसी तैनात ◾राजस्थान के बूंदी में नदी में बस गिरने से 24 लोगों की मौत, मृतकों में 3 बच्चे शामिल◾

कश्मीर पर भारत की निंदा करने के लिये पाकिस्तान सबसे ‘अयोग्य’ : थरूर

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता शशि थरूर ने शनिवार को कहा कि कश्मीर मुद्दे पर भारत की आलोचना करने के लिये पाकिस्तान “सबसे अयोग्य” देश है, खासतौर पर पाक अधिकृत कश्मीर में उसके खुद के रिकॉर्ड को देखते हुए। 

पुणे अंतरराष्ट्रीय साहित्य महोत्सव में केरल से लोकसभा सांसद ने कहा कि जब देश की विदेश नीति की बात आती है तो राजनीतिक दलों के बीच मतभेद मायने नहीं रखते। 

थरूर ने कहा, “मैं एक निहित संदेश बाहर भेजना पसंद करूंगा। देश के अंदर हमारे बीच भले मतभेद हों लेकिन जब बात भारत के हितों की आती हैं तब यह भाजपा की विदेश नीति या कांग्रेस की विदेश नीति नहीं रहती। यह भारत की विदेश नीति है।” 

उन्होंने कहा कि उन्हें जम्मू कश्मीर पर लोगों और राज्य के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के साथ हुए बर्ताव के लिये (केंद्र) सरकार की आलोचना का अधिकार है। 

थरूर ने कहा, “मैं घरेलू मुद्दों पर सरकार पर निशाना साधता रहूंगा, लेकिन जब अंतरराष्ट्रीय स्थिति की बात आती है तो मुझे लगता है कि कश्मीर मुद्दे पर भारत की निंदा के लिये पाकिस्तान सबसे अयोग्य है। देखिये पाक अधिकृत कश्मीर में उन्होंने क्या किया।” 

नरेंद्र मोदी के बारे में थरूर ने कहा कि उन्हें वह मिलना चाहिए जिसका एक लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित प्रधानमंत्री हकदार है। 

उन्होंने कहा, “हम उनकी राजनीति पसंद करें या नहीं, फिर भी वह देश के लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित प्रधानमंत्री हैं और जब वह विदेश जाते हैं तो वह भारत के प्रधानमंत्री हैं और वह हमारा झंडा (राष्ट्रीय ध्वज) ले जाते हैं। मैं चाहता हूं कि उसी सम्मान के साथ उनकी अगवानी और व्यवहार हो जिसके हकदार मेरे देश के प्रधानमंत्री हैं।” 

कांग्रेस सांसद ने कहा कि यह कहकर वह न सिर्फ प्रधानमंत्री की संस्था के प्रति सम्मान प्रदर्शित कर रहे हैं बल्कि भारतीय मतदाताओं के प्रति भी सम्मान व्यक्त कर रहे हैं।