BREAKING NEWS

मोदी सात जुलाई को जाएंगे वाराणसी, विकास परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास◾ रो-कर बागियों को वापस लौटने की अपील करने वाले विधायक शिंदे गुट में शामिल◾राष्ट्रपति चुनाव : मुर्मू संकल्प ले वह निर्वाचित होने के बाद ‘रबर स्टाम्प राष्ट्रपति’ नही होगी - यशवंत सिन्हा ◾राष्ट्रपति चुनाव : मुर्मू संकल्प ले वह निर्वाचित होने के बाद ‘रबर स्टाम्प राष्ट्रपति’ नही होगी - यशवंत सिन्हा ◾दिल्ली में दरिंदों ने की हदपार! लक्ष्मीनगर इलाके में 7 साल की बच्ची के साथ किया कुर्कम, पॉस्कों एक्ट के तहत दर्ज मामला◾ PM Modi security breach : पीएम मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक, चॉपर के उड़ान भरते ही आसमान में उड़ाए गए काले गुब्बारे ◾Punjab News: मान ने पंजाब कैबिनेट का किया विस्तार, इन पांच विधायकों ने ली मंत्री पथ की शपथ ◾मीडिया का परिदृश्य पिछले कुछ सालों में बदल गया......., बोले केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ◾RCP Singh: भाजपा को बड़ा झटका! केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह BJP में नहीं हुए शामिल ◾आप आग से नहीं खेल सकते... नूपुर शर्मा को करें गिरफ्तार! CM ममता ने फिर उठाई कड़ी कार्रवाई की मांग ◾ खाली हाथ रह गया उद्धव गुट, अजीत पवार को चुना गया महाराष्ट्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ◾ ज्ञानवापी केस : जिला अदालत में सुनवाई टली, 12 को पक्ष रखेंगे मुस्लिम अधिवक्ता ◾Punjab Board Result 2022: पंजाब में कल छात्र-छात्राओं का अहम दिन, जारी होगा 10वीं का रिजल्ट, इस लिंक पर करें चेक◾ यशवंत सिन्हा की मुर्मू से अपील उनकी ओछी मानसिकता को दर्शाती है - सीटी रवि ◾शरद के बाद कांग्रेस ने भी शिंदे सरकार को लेकर की भविष्यवाणी, कहा - लंबे समय तक नही़ टिकेगी सरकार ◾महाराष्ट्र में 'कानून का शासन' नहीं, शिवसेना बोली- BJP का स्पीकर चुनाव जीतना हैरानी की बात नहीं... ◾राम रहीम को लेकर याचिकाकर्ता पर भड़का हाईकोर्ट, कहा - ये फिल्म चल रही है क्या ◾गुजरात को भी बनाएंगे दिल्ली और पंजाब मॉडल, केजरीवाल बोले- 300 यूनिट तक देंगे मुफ्त बिजली, भाजपा पर भी साधा निशाना◾दिल्ली में विधायकों के वेतन में 66 प्रतिशत की होगी वृद्धि, विधानसभा में पारित हुआ विधेयक ◾शिंदे के सीएम बनने पर दिग्विजय ने सिंधिया पर ली सियासी चुटकी ◾

चेनाब नदी पर बन रहे भारत के कीरू हाइड्रो प्रोजेक्ट पर पाकिस्तान ने जताई आपत्ति, मिला ये जवाब

पाकिस्तान ने जम्मू कश्मीर में चेनाब नदी पर 624 मेगावाट की बड़ी विद्युत परियोजना ‘कीरू जलविद्युत संयंत्र’ की डिजाइन पर आपत्ति जताई है, हालांकि भारत का दावा है कि परियोजना में सिंधु जल संधि का पूरी तरह पालन किया गया है। 

भारत के सिंधु आयुक्त प्रदीप कुमार सक्सेना ने इस घटनाक्रम की पुष्टि करते हुए ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि पाकिस्तान के सिंधु आयुक्त सैयद मुहम्मद मेहर अली शाह ने पिछले सप्ताह इस संबंध में आपत्ति दर्ज कराई थी। सक्सेना ने हालांकि कहा कि परियोजना की डिजाइन में सिंधु जल संधि के प्रावधानों का पूरी तरह पालन किया गया है। उनके मुताबिक इसे केंद्रीय जल आयोग ने प्रमाणित किया है, जो जल संसाधन के क्षेत्र में देश का शीर्ष संस्थान है। 

उल्लेखनीय है कि परियोजना को चेनाब घाटी विद्युत परियोजना लिमिटेड द्वारा क्रियान्वित किया जा रहा है जो राष्ट्रीय जलविद्युत कंपनी और जम्मू कश्मीर राज्य विद्युत विकास निगम (जेकेएसपीडीसी) का संयुक्त उपक्रम है। सक्सेना ने कहा, ‘‘नदी के प्रवाह के मार्ग में ऊपर की ओर होने के नाते जिम्मेदार देश के रूप में भारत अपने अधिकारों का पूरी तरह उपयोग करने के लिए प्रतिबद्ध है और संधि के अनुरूप पाकिस्तानी पक्ष द्वारा उठाये गये मुद्दों पर सौहार्दपूर्ण समाधान में भरोसा करता है।’’ 

उन्होंने मंगलवार को बताया था कि इस परियोजना पर पाकिस्तान की आपत्तियों पर इस साल पाकिस्तान में होने वाली स्थायी सिंधु आयोग की अगली बैठक में चर्चा हो सकती है। सक्सेना ने कहा, ‘‘ आगामी बैठक में भारतीय पक्ष अपना रुख रखेगा और उम्मीद करता है कि पाकिस्तान उसे स्वीकार करेगा और बातचीत के माध्यम से उसकी आशंकाओं पर ध्यान दिया जाएगा।’’ 

गौरतलब है कि संधि में पाकिस्तान को सूचना मिलने के तीन महीने के अंदर भारत की डिजाइन पर ऐतराज जताने का अधिकार है। भारत ने इस परियोजना संबंधी जानकारी जून में पाकिस्तान को दे दी थी।