BREAKING NEWS

बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य ने ठुकराया पद्म भूषण सम्मान◾गणतंत्र दिवस : सरकार ने पद्म पुरस्कारों का किया ऐलान, CDS रावत समेत अन्य हस्तियों को दिया जाएगा सम्मान ◾गणतंत्र दिवस : सरकार ने पद्म पुरस्कारों का किया ऐलान, CDS रावत समेत अन्य हस्तियों को दिया जाएगा सम्मान ◾गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबोधन- अधिकार और कर्तव्य एक सिक्के के दो पहलू◾दिल्ली कोरोना : बीते 24 घंटों में आए 6,028 मामले, 31 लोगों की हुई मौत ◾RRB-NTPC रिजल्ट को लेकर बिहार में रेलवे ट्रैक पर उतरे छात्र, कई ट्रेनों के मार्ग में बदलाव ◾BJP के बागी नेता मौर्य की बेटी संघमित्रा का बयान, पिताजी की बात PM मोदी तक पहुंची, वह शीघ्र करेंगे समाधान ◾UP चुनाव में अब नहीं है धर्म का फंदा, बाबरी मस्जिद नहीं मुसलमानों के लिए राज्य का विकास अहम मुद्दा ◾Delhi NCR में सीजन का सबसे ठंडा दिन दर्ज किया गया, सामान्य से 4.5 डिग्री कम रहा तापमान◾उत्तराखंड: सतपाल महाराज की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, कांग्रेस हरक सिंह रावत पर दांव खेलने का कर रही विचार ◾धर्म या जिन्ना पर नहीं विकास पर हो बात, प्रियंका बोलीं- BJP नहीं जानती शासन, ध्रुवीकरण की कर रहे राजनीति ◾ नीरज चोपड़ा को पर‍म विशिष्‍ट सेवा मेडल से सम्‍मानित किया जाएगा, जानिए और किन लोगों को मिलेगा पुरस्कार◾देर आया दुरुस्त आया! RPN बोले- कांग्रेस में नहीं रही 32 साल पहले वाली बात, BJP की नीतियों से हूं प्रभावित ◾यूपी : JDU ने जारी की 20 उम्मीदवारों की सूची, BJP से गठबंधन का जवाब न आने पर अकेले लड़ रही चुनाव ◾CM केजरीवाल का एलान- कार्यालय में अंबेडकर और भगत सिंह की लगेंगी तस्वीरें, जानें इसके पीछे के सभी समीकरण◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर उप राष्ट्रपति ने दिया बयान, अगले लोकसभा चुनाव में कम से कम 75 % होना चाहिए मतदान ◾राहुल का हाथ छोड़ अब BJP का कमल खिलाएंगे RPN, कांग्रेस बोली- 'कायर' नहीं लड़ सकते हमारी लड़ाई... ◾अपना दल ने पहले और दूसरे चरण के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की, जानें- किन किन नेताओं का है नाम?◾नमो ऐप के जरिए बोले पीएम मोदी- पहले देश, फिर दल, यह हमेशा हमारे कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा का मंत्र रहा है◾Himachal: शादी में बर्फबारी बनी रोड़ा, तो शादी करने JCB लेकर पहुंचा दूल्हा◾

पेंडोरा पेपर्स : भारतीय हस्तियों की विदेशों में संपत्ति का खुलासा, तेंदुलकर और अंबानी समेत कई बड़े नाम शामिल

दुनिया भर की 14 कंपनियों से मिलीं लगभग एक करोड़ 20 लाख फाइलों की समीक्षा से विश्व के सैकड़ों नेताओं, अरबपतियों, मशहूर हस्तियों, धार्मिक नेताओं और नशीले पदार्थों के कारोबार में शामिल लोगों के उन निवेशों का खुलासा हुआ है, जिन्हें पिछले 25 साल से हवेलियों, समुद्र तट पर बनीं विशेष संपत्तियों, नौकाओं और अन्य संपत्तियों के माध्यम से छुपाकर रखा गया था।

लीक हुए दस्तावेजों से छुपाई गई वित्तीय जानकारियों का हुआ खुलासा

‘इंटरनेशनल कंसोर्टियम ऑफ इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट्स’ ने यह रिपोर्ट जारी की, जो 117 देशों के 150 मीडिया संस्थानों के 600 पत्रकारों की मदद से तैयार की गई। इस रिपोर्ट को ‘पेंडोरा पेपर्स’ (भानुमति से पिटारे से निकले दस्तावेज) करार दिया जा रहा है, क्योंकि इसने प्रभावशाली एवं भ्रष्ट लोगों के छुपाकर रखे गए धन की जानकारी दी और बताया है कि इन लोगों ने किस प्रकार हजारों अरब डॉलर की अवैध संपत्ति को छुपाने के लिए विदेश में खातों का इस्तेमाल किया।

भारत के भी कई उद्योगपतियों और हस्तियों ने नाम भी पेपर्स में शामिल

  • अनिल अंबानी– देश के मशहूर उद्योगपति और रिलायंस ग्रुप के चेयरमैन अनिल अंबानी का नाम भी इन पेपर्स में है। मिली जानकारी के अनुसार अनिल अंबानी और उनके प्रतिनिधियों की जर्सी, आईलैंड्स और साइप्रस में 18 ऑफशोर कंपनियां हैं। वहीं यह सभी कंपनियां 2007 से 2010 के बीच बनी हैं। कई कंपनियों ने कर्ज लिया और 1.3 बिलियन डॉलर (9648 करोड़ रुपये से ज्यादा) का निवेश किया है।
  • नीरव मोदी– इस लिस्ट में नीरव मोदी का नाम भी शामिल है। बैकों के करोड़ों रुपये लेकर देश से फरार हुए बिजनेसमैन नीरव मोदी जनवरी 2018 में देश छोड़कर भागने से एक महीने पहले ही उनकी बहन पूर्वी मोदी ने ब्रिटिश वर्जिन आईलैंड्स में एक कंपनी बनाई थी। 
  • किरन मजूमदार शॉ के पति- इसी साल जुलाई में सेबी ने एलेर्गो कैपिटल प्राइवेट लिमिटेड और इसके सबसे ज्यादा शेयरहोल्डर कुनाल अशोक कश्यप पर अगले एक साल तक शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने से रोक लगा दी थी।  कुनाल पर गलत तरीके से साढ़े तीन साल में 12 फीसद के ब्याज के साथ 24.68 लाख रुपये कमाने का आरोप है जिसके बाद यह कार्रवाई की गई थी। कुनाल कश्यप जुलाई 2015 में मॉरिशस में बनी ग्लेनटेक इंटरनेशनल द्वारा बनाए गए डीनस्टोन ट्रस्ट के सेटलर हैं। वहीं ग्लेनटेक के 99 फीसद शेयर मैक्कलुम मार्शल शॉ के पास हैं। बता दें कि मैक्कलुम मार्शल शॉ एक ब्रिटिश सिटिजन हैं और किरन मजूमदार शॉ के पति हैं।
  • सचिन तेंदुलकर – मास्टर ब्लास्टर  और क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का नाम भी पंडोरा पेपर्स में शामिल है। मिली जानकारी के अनुसार इन पेपर्स में सचिन के साथ उनकी पत्नी अंजली तेंदुलकर, ससुर आनंद मेहता का भी नाम है।

विनोद अडाणी, जैकी श्रॉफ समेत 300 भारतीय लोगों के भी नाम 

'पेंडोरा पेपर्स' में सचिन तेंदुलकर, अनिल अंबानी, विनोद अडाणी, नीरा राडिया, सतीश शर्मा, जैकी श्रॉफ, नीरव मोदी और किरण मजूमदार-शॉ समेत 300 भारतीय लोगों के नाम हैं। वहीं किरण मजूमदार शॉ ने सोमवार को कहा कि 'पेंडोरा पेपर्स' में उनके पति के विदेश स्थित ट्रस्ट का नाम गलत तरीके से शामिल किया गया है और यह संगठन 'वास्तविक' और 'वैध' है।

किरण मजूमदार शॉ बोलीं- पति के विदेशी ट्रस्ट का नाम गलत तरीके से दिया गया

जैव प्रौद्योगिकी कंपनी बायोकॉन की प्रमुख मजूमदार-शॉ ने कहा कि "पेंडोरा पेपर्स से जुड़ी मीडिया की खबरों में मेरे पति के विदेशी ट्रस्ट का नाम गलत तरीके से शामिल किया जा रहा है जो एक वास्तविक, वैध ट्रस्ट है और स्वतंत्र ट्रस्टियों द्वारा प्रबंधित किया जाता है। भारत में रहने किसी भी व्यक्ति के पास ट्रस्ट की 'कुंजी' नहीं है, जैसा कि इन खबरों में आरोप लगाया गया है।"

इन गुप्त खातों के लाभार्थियों के रूप में पहचाने गए 330 से अधिक वर्तमान और पूर्व नेताओं में ये नाम शामिल

बता दें कि इन गुप्त खातों के लाभार्थियों के रूप में पहचाने गए 330 से अधिक वर्तमान और पूर्व नेताओं में जॉर्डन के शाह अब्दुल्ला द्वितीय, ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर, चेक गणराज्य के प्रधानमंत्री आंद्रेज बाबिस, केन्या के राष्ट्रपति उहुरू केन्याटा और इक्वाडोर के राष्ट्रपति गुइलेर्मो लासो के अलावा पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सहयोगी शामिल हैं।

अधिकतर खातों का इस्तेमाल कर चोरी करने और पूंजी को छुपाने के लिए किया गया

रिपोर्ट में जिन अरबपतियों के नाम सामने आए हैं, उनमें तुर्की के कारोबारी एर्मन इलिकैक और सॉफ्टवेयर निर्माता रेनॉल्ड्स एंड रेनॉल्ड्स के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी रॉबर्ट टी. ब्रोकमैन शामिल हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि अधिकतर खातों का इस्तेमाल कर चोरी करने और पूंजी को छुपाने के लिए किया गया। यूरोप की संसद में ‘ग्रीन’ पार्टी के सांसद स्वेन गीगोल्ड ने कहा, ‘‘लीक हुए नए आंकड़ों के बाद सभी को सतर्क हो जाना चाहिए। वैश्विक कर चोरी से वैश्विक असमानता पैदा होती है। हमें इससे निपटने के प्रयासों को विस्तार देने की आवश्यकता है।’’ 

पाकिस्तान के 700 लोगों के नाम, इमरान खान की बढ़ी मुश्किलें 

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के करीबी लोगों और कुछ मंत्रियों समेत 700 से अधिक लोगों के नाम पंडोरा पेपर मामले में सामने आए हैं। पंडोरा पेपर में विश्व भर में उच्च पदों पर आसीन लोगों के गुप्त वित्तीय लेन-देन का खुलासा किया गया है।  ‘पंडोरा पेपर’ के अनुसार वित्त मंत्री शौकत तारिन, जल संसाधन मंत्री मूनिस इलाही, सांसद फैसल वावड़ा, उद्योग और उत्पादन मंत्री खुसरो बख्तियार के परिवार समेत अन्य लोगों के विदेशी कंपनियों से लेन-देन के संबंध थे।

PM मोदी ने आत्मनिर्भर भारत के निर्माण का किया आवाह्न, कहा- खादी से प्रेम देगा संकल्प को मजबूती