BREAKING NEWS

थानों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना के लिए 100 करोड़ रुपये आवंटित◾कर्नाटक उपचुनाव में 62.18 प्रतिशत मतदान, 12 सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला ◾प्याज को लेकर भाजपा सांसद ने कांग्रेस पर कसा तंज ◾मोदी को तानाशाह के रूप में बदनाम करने की साजिश : स्वामी◾आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री पहुंचे दिल्ली, मिलेंगे प्रधानमंत्री एवं केंद्रीय मंत्रियों से ◾उन्नाव बलात्कार पीड़िता दिल्ली हवाई अड्डे पहुंची, पुलिस ने अस्पताल तक बनाया ग्रीन कॉरीडोर ◾अनुच्छेद 370 : लाइव स्ट्रीमिंग संबंधी याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾हफ्ते भर बाद भी मंत्रियों को नहीं मिला विभाग, भाजपा ने की आलोचना ◾बैंक धोखाधड़ी : ईडी ने रतुल पुरी की जमानत अर्जी का किया विरोध◾राहुल गांधी ने प्याज पर सीतारमण के बयान को लेकर तंज कसा ◾TOP 20 NEWS 05 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾PNB घोटाला : नीरव मोदी भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित ◾DTC और क्लस्टर बसों में लगेंगे CCTV कैमरे, पैनिक बटन, GPS : केजरीवाल ◾मायावती ने केंद्र द्वारा लाए गए नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी और असंवैधानिक◾चिदंबरम ने पहले ही दिन जमानत की शर्तों का उल्लंघन किया: प्रकाश जावड़ेकर◾अर्थव्यवस्था पर असामान्य रूप से मौन हैं PM मोदी, सरकार को नहीं कोई खबर : चिदंबरम ◾रेपो दर में नहीं हुआ कोई बदलाव, RBI ने GDP ग्रोथ अनुमान घटाकर किया 5 फीसदी◾वायनाड में बोले राहुल- PM मोदी और अमित शाह ‘काल्पनिक’ दुनिया में जी रहे हैं इसलिए देश संकट में है◾जेल से बाहर आते ही एक्शन में दिखे चिदंबरम, संसद परिसर में मोदी सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन◾प्रियंका ने योगी सरकार पर साधा निशाना, कहा- प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहतर होने के फर्जी प्रचार से बाहर निकलना चाहिए◾

देश

हंगामे के बाद राज्यसभा दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित, लोकसभा में किसानों के मुद्दे को लेकर विपक्ष ने की नारेबाजी

 parliament winter

सोमवार से संसद के शीतकालीन सत्र की शरुआत हो चुकी है। सत्र के पहले दिन की शरुआत हंगामेदार रही है। संसद के दोनों सदनों लोकसभा और राज्यसभा में कश्मीर मुद्दे और जेएनयू विवाद को लेकर कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार के खिलाफ हंगामे किया। आज भी इन्ही मुद्दों लेकर लोकसभा और राज्यसभा में चर्चा होनी है।

LIVE UPDATES :

- टीएमसी संसद काकोली घोष ने कहा, राष्ट्रीय राजधानी में वायु प्रदूषण के बढ़ते स्तर के बारे में सोचने की आवश्यकता है। हमें राजनीति से ऊपर उठने और समाधान खोजने के लिए एकजुट होने की जरूरत है। हमें जलवायु परिवर्तन से लड़ने का तरीका खोजने की जरूरत है।

- लोकसभा में विपक्षी दाल के नेता सदन में आकर ' वी वांट जस्टिस, वी वांट जस्टिस' और 'जवाब दो, जवाब दो' के नारे लगा रहे हैं।

- केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने पराली को खेत में ही निष्तारित करने के उपायों के बारे में बताया।इसके साथ ही जैविक खेती को बढ़ावा देने वाली कुछ कृषि योजनाओं के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि जैविक खेती की योजनाओं का लाभ 15 लाख किसानों को मिला है। जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए हमारी सरकार लगातार प्रयासरत है।

- लोकसभा में कृषि और किसानों से जुड़े प्रश्न पर चर्चा के दौरान विपक्ष लगातार नारेबाजी करता रहा।

राज्यसभा के सभापति नायडू द्वारा नियम 267 के तहत व्यापार को निलंबित करने की अनुमति देने से इनकार करने के बाद  सदन को दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया।

राज्यसभा के मार्शल्स के बदले गए ड्रेस कोड को लेकर सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा, राज्यसभा का सचिवालय विभिन्न सुझावों पर विचार करने के बाद मार्शलों के लिए एक नया ड्रेस कोड लेकर आया। लेकिन हमें कुछ राजनीतिक के साथ-साथ अच्छी तरह से अर्थ रखने वाले लोगों द्वारा कुछ अवलोकन प्राप्त हुए हैं। मैंने सचिवालय से फिर से विचार करने को कहा है। 

लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान विपक्ष दलों ने 'तानशाही बंद करो, बंद करो' के नारे लगाए गए।

असम कांग्रेस के सांसद रिपुन बोरा सहित कई सांसदों ने संसद परिसर में महात्मा गांधी की मूर्ति के सामने नुमालीगढ़ रिफाइनरी के निजीकरण के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

राज्यसभा सांसदों, आरके सिन्हा, विजय गोयल, केटीएस तुलसी, जीवीएल नरसिम्हा राव और नरेंद्र जाधव ने देश में वायु प्रदूषण के मुद्दे पर शून्यकाल नोटिस दिया है।

रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी (RSP), इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML) और तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने जेएनयू में फीस बढ़ोतरी के मुद्दे पर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव दिया।

कांग्रेस पार्टी ने 'सोनिया गांधी और राहुल गांधी के विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) संरक्षण को वापस लेने' को लेकर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है।

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) के राज्यसभा सांसद बिनॉय विश्वन ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के मुद्दे पर नियम 267 के तहत ऊपरी सदन में व्यावसायिक नोटिस को निलंबित कर दिया।