BREAKING NEWS

कांग्रेस ने झारखंड चुनाव के लिए उम्मीदवारों की आखिरी सूची जारी की◾शेख हसीना के साथ बैठक सौहार्दपूर्ण रही : ममता ◾राजनाथ ने डीआरडीओ और घरेलू रक्षा उद्योगों के बीच सामंजस्य बनाने की अपील की ◾चुनावी बॉन्ड पर सरकार के पास जवाब नहीं : प्रियंका गांधी वाड्रा◾ कांग्रेस नेता अहमद पटेल बोले- बैठक अभी अधूरी है, कल हम फिर करेंगे बैठक ◾BHU में प्रो. फिरोज खान नियुक्ति विवाद पर छात्रों का धरना समाप्त,विरोध जारी◾राज्यसभा में उठा जेएनयू में फीस बढ़ोतरी का मुद्दा ◾TOP 20 NEWS 22 NOV : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾कांग्रेस, NCP और शिवसेना गठबंधन पर बोले गडकरी- वे महाराष्ट्र को एक स्थिर सरकार नहीं दे पाएंगे◾मुंबई में शिवसेना ने मारी बाजी, किशोरी पेडनेकर बीएमसी की नई मेयर चुनीं गईं◾प्रकाश जावड़ेकर बोले- बीजिंग से कम समय में दिल्ली में प्रदूषण से निपट लेंगे◾CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान, बोले-पानी और सीवर के नए कनेक्शन पर देने होंगे 2,310 रुपये ◾NCP ने ली भाजपा की चुटकी, कहा- 'शरद पवार ने राजनीति के चाणक्य को दी मात'◾महाराष्ट्र : सरकार गठन को लेकर मुंबई में शाम 4 बजे होगी शिवसेना, NCP और कांग्रेस की बैठक◾संसद परिसर में कांग्रेस ने 'Electoral Bond' के खिलाफ किया प्रदर्शन◾गठबंधन पर संजय निरुपम तंज, कहा- 'तीन तिगाड़े काम बिगाड़े' वाली सरकार चलेगी कब तक?◾महाराष्ट्र में 5 साल के लिए शिवसेना का ही होगा मुख्यमंत्री : संजय राउत◾इजराइल के PM बेंजामिन नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी और विश्वासघात मामले में आरोप तय◾सत्यपाल मलिक बोले- अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर में केवट-शबरी की भी हों मूर्तियां, ट्रस्ट को लिखूंगा चिट्ठी◾झारखंड चुनाव: भाजपा के 'बागी' सरयू राय के बहाने नीतीश ने 'तीर' से साधे कई निशाने◾

देश

पेरिस में PM मोदी का संबोधन, बोले-हिंदुस्तान में अब टेंपरेरी के लिए व्यवस्था नहीं

 modi paris

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज पेरिस में यूनेस्को कार्यालय पहुंचे है। जहां प्रधानमंत्री का शानदार स्वागत किया गया। इस दौरान पीएम मोदी ने यूनेस्को की महानिदेशक ऑड्रे एज़ोले से मुलाकात की। यूनेस्को कार्यालय में पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित किया। 

पीएम नरेंद्र मोदी ने पेरिस में यूनेस्को मुख्यालय में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा, मैं उन सभी महान भारतीय परमाणु भौतिक विज्ञानी होमी भाबा को नमन करता हूं, जिन्होंने दो दुर्घटनाओं (एयर इंडिया विमान दुर्घटना में, 1950 और 1966 में फ्रांस के सेंट ग्वारिस ) में अपनी जान गंवाई है।

उन्होंने ने कहा , मैं आपको बताना चाहता हूं कि भारत अब आगे बढ़ रहा है, हमें जो जनादेश मिला है वह केवल सरकार चलाने के लिए नहीं है, बल्कि नए भारत के निर्माण के लिए है। मैं फुटबॉल प्रेमियों के देश आया हूं, आप एक लक्ष्य के महत्व को अच्छी तरह से जानते हैं, यही अंतिम उपलब्धि है। पिछले 5 वर्षों में हमने ऐसे लक्ष्य निर्धारित किए जिन्हें पहले पूरा करना असंभव माना जाता था।

प्रधानमंत्री ने कहा , जब मैं 4 साल पहले फ्रांस आया था, तो हजारों की संख्या में भारतीयों से संवाद का अवसर मिला था।  मुझे याद है, तब मैंने आपसे एक वादा किया था। मैंने कहा था कि भारत आशाओं और आकांक्षाओं के नए सफर पर निकलने वाला है। आज जब आपके बीच आया हूं तो कह सकता हूं कि हम न सिर्फ उस सफर पर निकल पड़े, बल्कि 130 करोड़ भारतवासियों के सामूहिक प्रयासों से भारत तेज़ गति से विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है। यही कारण है कि इस बार फिर देशवासियों ने अधिक प्रचंड जनादेश देकर हमारी सरकार को समर्थन दिया है। 

पीएम मोदी ने कहा की इन दिनों पेरिस राम मैं रम गया है, पूज्य बापू (महात्मा गाँधी) की निश्रा में सब लोग राम की भक्ति मैं डूबे हैं। पीएम मोदी ने पेरिस में भ्रष्टाचार और आतंकवाद जैसे मुद्दों का जिक्र करते हुए कहा, नए भारत में भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद, लोगों के पैसे की लूट, आतंकवाद के खिलाफ जिस तरह से कार्रवाई हो रही है, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ। 

पीएम मोदी ने कहा की नए सरकार के सत्ता में आने के 75 दिनों के भीतर हमने कई मजबूत फैसले लिए है। आज 21 वीं सदी में हम इन्फ्रा की बात करते हैं। मैं कहना चाहूंगा कि मेरे लिए यह IN + FRA है, जिसका अर्थ है भारत और फ्रांस के बीच गठबंधन। मुझे बताया गया कि गणेश महोत्सव पेरिस के सांस्कृतिक कैलेंडर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है। इस दिन पेरिस एक मिनी इंडिया की तरह दिखता है, जिसका मतलब है कि कुछ दिनों में हम यहां 'गणपति बप्पा मोरया' का जाप करेंगे। 

उन्होंने कहा, ये जनादेश सिर्फ एक सरकार चलाने के लिए नहीं, बल्कि नए भारत के निर्माण के लिए है। ऐसा नया भारत जिसकी समृद्ध सभ्यता और संस्कृति पर पूरे विश्व को गर्व हो, और जो 21वीं सदी को संचालन करे। पूरी दुनिया में, एक तय समय में सबसे ज्यादा बैंक अकाउंट अगर किसी देश में खुले हैं, तो वो भारत है। पूरी दुनिया की अगर आज सबसे बड़ी हेल्थ एश्योरेंस स्कीम किसी देश में चल रही है, तो वो भारत है। 

अपने संबोधन में पीएम ने कहा, ‘हिंदुस्तान में अब टेंपरेरी के लिए व्यवस्था नहीं है, आपने देखा होगा कि 125 करोड़ लोगों का देश, गांधी और बुद्ध की धरती, राम-कृष्ण की भूमि से टेंपरेरी को निकालते-निकालते सत्तर साल चले गए। टेंपरेरी को निकालने में 70 साल, मुझे तो समझ नहीं आया कि हंसना है या रोना है।’