प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पश्चिम बंगाल में मतदाताओं से ‘स्पीड-ब्रेकर दीदी’ ममता बनर्जी के शासन पर ब्रेक लगाने और ‘धमकी, लूट और भ्रष्टाचार की राजनीति’ को समाप्त करने के लिए कहा। पीएम मोदी ने कहा,  ‘मां काली और भगवान शिव जी की इस धरती को मेरा नमन। पूरा देश कह रहा है कि इस बार पश्चिम बंगाल में कुछ बड़ा हो रहा है। जो हो रहा है वो आपके इस प्यार और स्नेह से साफ़ दिखाई दे रहा है।’ एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने मुख्यमंत्री पर लोगों को ‘मां, माटी और मानुष’ के नाम पर मूर्ख बनाने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि बंगाल में पहले और दूसरे चरण में मतदान की जो रिपोर्ट आई हैं, उसने स्पीड ब्रेकर दीदी की नींद उड़ गई है। इसी बौखलाहट में किस तरह के जघन्य अपराध हो रहे हैं, वो भी देश देख रहा है। पुरुलिया में हमारे एक और कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई है।

बुनियादपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, “क्या आप नहीं चाहते कि धमकी, लूट और भ्रष्टाचार की यह राजनीति खत्म हो? फिर हर गांव, शहर, नुक्कड़ और कोने से बाहर आएं और तृणमूल के आतंक के शासन को रोकने के लिए माकूल जवाब दें। 23 मई को अपना जवाब दें और बंगाल को ऊपर उठाएं।”

PM Modi

दीदी के घोटालों ने बंगाल को किया बर्बाद, केंद्र की योजनाओं के लाभ से लोगों को रखा वंचित : मोदी

ममता पर हमला बोलते हुए पीएम ने कहा कि दीदी ने पश्चिम बंगाल के मॉडल को पूरे देश में लागू करने का इरादा किया है। गरीबों को गरीब रखा जाता है और धार्मिक जुलूस निकालना मुश्किल होता है। यह वह मॉडल है जिसका वह उल्लेख कर रही है। उन्होंने कहा कि दीदी अपनी पार्टी में जगाई-मथाई की भर्ती कर रही हैं, लेकिन जिन युवाओं ने एग्जाम पास किया है, उनको नौकरी नहीं देतीं। इनके पास गुंडों को देने के लिए पैसा है, लेकिन कर्मचारियों को DA देने के लिए पैसे नहीं हैं।

रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ” जब हमारे वीर सपूतों ने पाकिस्तान में घुसकर आतंकवादियों को साफ किया, तब दीदी उन लोगों में से थीं, जिन्होंने इसका सबूत मांगा। अरे दीदी, सबूत ही खोजने हैं तो चिटफंड के घोटालेबाज़ों के सबूत खोजो।”

प्रधानमंत्री मोदी ने यह शर्मनाक है कि पड़ोसी देश के लोग तृणमूल कांग्रेस के लिए चुनाव प्रचार कर रहे हैं, ऐसा अल्पसंख्यक समुदाय को खुश करने के लिए किया गया है। उन्होंने पूछा कि क्या कभी हिंदुस्तान में ऐसा हुआ है कि दुनिया के किसी देश के लोग आ करके भारत में चुनाव प्रचार करे ? अपने वोट बैंक के लिए, तुष्टिकरण के लिए, दीदी किसी भी हद्द तक जाने के लिए तैयार है । इसके अलावा मोदी ने दावा किया कि डराने-धमकाने से तृणमूल की बड़ी हार नहीं टलेगी। बंगाल भाजपा के साथ है।