BREAKING NEWS

कर्नाटक में Omicron के दो मामले आए सामने : एक दक्षिण अफ्रीकी नागरिक, एक स्थानीय व्यक्ति◾विपक्ष ने सरकार को कोरोना के मुद्दे पर घेरा, बूस्टर खुराक पर स्थिति स्पष्ट करने की मांग की◾शीतकालीन सत्रः राज्यसभा से निलंबित सदस्यों के मुद्दे पर सरकार-विपक्ष में हो रही वार्ता◾भारत के पहले Omicron संक्रमित मरीज की ये बात आई सामने, 27 नवंबर को जा चुका है दुबई◾सुरजेवाला का ममता पर पलटवार, पूछा- आपकी प्राथमिकता प्रधानमंत्री के खिलाफ लड़ना है या कांग्रेस के खिलाफ ?◾पंजाबः चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा-हमारी ‘चंगी सरकार’ वादों पर खरी उतरी◾कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट ने भारत में भी दी दस्तक, कर्नाटक में मिले हैं दो मामले◾काले अंग्रेज वाले बयान पर केजरीवाल का चन्नी पर पलटवार, सांवले रंग का व्यक्ति झूठे वादे नहीं करता... ◾केजरीवाल को प्यार करते हैं पंजाब के लोग, चड्ढा बोले- सही समय पर होगी पार्टी के CM पद के चेहरे की घोषणा ◾'किस चश्मे से यूपी में दिखता है बढ़ता अपराध' अखिलेश के वार पर अमित शाह का पलटवार◾ममता के बाद प्रशांत किशोर का कांग्रेस पर हमला, कहा- विपक्ष का नेतृत्व कांग्रेस का दैवीय अधिकार नहीं...◾कांग्रेस के बिना बीजेपी के खिलाफ गठबंधन संभव नहीं : दिग्विजय सिंह◾SC की फटकार के बाद हरकत में आई दिल्ली सरकार, कल से अगले आदेश तक बंद रहेंगे स्कूल ◾सांसदों के निलंबन को लेकर राहुल गांधी का ट्वीट, 'जो सरकार डरे, वो अन्याय ही करे'◾हार के डर से BJP खेल रही 'धार्मिक कार्ड', मायावती बोली- पार्टी के आखिरी हथकंडे से जनता रहे सावधान ◾विपक्ष के रवैये पर भड़के सभापति नायडू, कहा-1962 से हो रहा निलंबन, पहली बार नहीं हुआ ऐसा ◾प्रदूषण को लेकर SC की AAP सरकार को फटकार, जब बड़े घर पर हैं तो बच्चों के लिए क्यों खोले स्कूल? ◾शीतकालीन सत्र के चौथे दिन भी जारी रहा विपक्ष का प्रदर्शन, सांसद बोले- निलंबन वापसी तक देते रहेंगे धरना ◾Petrol-Diesel Price : दिल्ली में आज से नई कीमत लागू, जानिए आपके शहर में पेट्रोल-डीजल के दाम◾विश्व में ओमीक्रॉन के बढ़ते प्रकोप के बीच SII ने कोविशील्ड की बूस्टर डोज के लिए DCGI से मांगी मंजूरी ◾

उत्तराखंड : PM मोदी ने फोन पर CM धामी से की बात , हरसंभव सहायता का दिया आश्वासन

उत्तराखंड के कुमाऊं क्षेत्र में मूसलाधार बारिश होने से मंगलवार को 42 और लोगों की मौत हो गयी तथा कई मकान ढह गए। कई लोग अब भी मलबे में फंसे हुए हैं। इसके साथ ही वर्षाजनित घटनाओं में अब तक मरने वालों की संख्या 47 हो गई है।

नैनीताल से संपर्क बहाल

अधिकारियों ने बताया कि खराब मौसम के बीच कई घंटे के संघर्ष के बाद आज शाम नैनीताल से संपर्क बहाल कर दिया गया।

आपदा के कारण मरने वालों की संख्या 47 

कुमाऊं क्षेत्र में 42 और लोगों की मौत के साथ ही आपदा के कारण मरने वालों की संख्या 47 हो गई है क्योंकि पांच लोगों की मौत सोमवार को हुई थी।

डीआईजी निलेश आनंद भारने ने बताया, ‘‘कुमाऊं क्षेत्र में मरने वालों की संख्या 40 से अधिक हो गई है।’’

अधिकारी ने बताया कि इन 42 मौतों में से 28 लोग नैनीताल जिले में मारे गए, छह-छह लोगों की मौत अल्मोड़ा एवं चंपावत जिलों में, एक-एक व्यक्ति की मौत पिथौरागढ़ और उधम सिंह नगर जिले में हुई है।

मुख्यमंत्री धामी ने वर्षा प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया और प्रभावित लोगों से बातचीत किया ताकि क्षति का आकलन किया जा सके।

मारे गए लोगों के परिजन को चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने की की घोषणा 

उन्होंने राज्य में पिछले दो दिनों में वर्षाजनित घटनाओं में मारे गए लोगों के परिजन को चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने की भी घोषणा की।

PM मोदी ने भी फोन पर CM धामी से की बात 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी फोन पर धामी से बात की और स्थिति का जायजा लिया तथा हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के साथ कुमाऊं क्षेत्र में वर्षा प्रभावित इलाकों का दौरा करने गए पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि नैनीताल के काठगोदाम और लालकुआं तथा ऊधम सिंह नगर के रुद्रपुर में सड़कों, पुलों और रेल पटरियों को नुकसान पहुंचा हैं। कुमार ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि क्षतिग्रस्त पटरियों को ठीक करने में कम से कम चार-पांच दिन लगेंगे।

नैनीताल में बंद सड़कों को खोल दिया गया

डीआईजी भारने ने कहा कि खराब मौसम और लगातार बारिश के बावजूद नैनीताल में बंद सड़कों को खोल दिया गया है, मलबे हटा दिए गए हैं और पर्यटक स्थल का संपर्क बहाल कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि फंसे हुए पर्यटक कालाधुंगी ओर हलद्वानी के रास्ते अपने स्थानों के लिए रवाना हो रहे हैं।

धामी ने कहा कि भारतीय वायु सेना के तीन हेलीकॉप्टर राज्य में पहुंच गए हैं और राहत तथा बचाव कार्यों में मदद कर रहे हैं। दो हेलीकॉप्टर नैनीताल जिले में तैनात किए गए हैं जबकि तीसरा हेलीकॉप्टर गढ़वाल क्षेत्र में बचाव अभियान में शामिल है।

फंसे हुए लोगों को सुरक्षित निकालने पर ध्यान

मुख्यमंत्री ने राज्य के आपदा प्रबंधन मंत्री धन सिंह रावत और पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) अशोक कुमार के साथ बारिश से हुए नुकसान का आकलन करने के लिए प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। धामी ने कहा कि व्यापक क्षति हुई है। उन्होंने कहा कि फंसे हुए लोगों को सुरक्षित निकालने पर ध्यान दिया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने लोगों से नहीं घबराने की अपील करते हुए कहा कि लोगों की जान बचाने के लिए हरसंभव कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मौसम विभाग ने मंगलवार शाम से मौसम में सुधार होने की बात कही है।

उन्होंने चारधाम यात्रियों से फिर अपील की कि वे जहां हैं, वहीं रुक जाएं और मौसम में सुधार होने से पहले अपनी यात्रा शुरू नहीं करें। उन्होंने चमोली और रुद्रप्रयाग जिलों के जिलाधिकारियों से चारधाम यात्रा मार्ग पर फंसे हुए तीर्थयात्रियों की खासतौर से देखभाल करने का निर्देश दिया।

हरिद्वार में गंगा का जलस्तर 293.90 मीटर तक पंहुचा 

इस बीच, एसईओसी ने कहा कि राज्य की अधिकतर नदियां उफान पर हैं और हरिद्वार में गंगा का जलस्तर 293.90 मीटर तक पहुंच गया है, जो खतरे के निशान 294 मीटर से मामूली नीचे है।

एसईओसी ने बताया कि नैनीताल में 90 मिलीमीटर, हल्द्ववानी में 128 मिमी, कोश्याकुटोली में 86.6 मिमी, अल्मोड़ा में 216.6 मिमी, द्वाराहाट में 184 मिमी और जागेश्वर में 176 मिमी बारिश हुई।