BREAKING NEWS

आज का राशिफल (27 फरवरी 2021)◾जम्मू-कश्मीर के रियासी में आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़, भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद जब्त ◾विकास दर में कमी, महंगाई में तेजी की ‘दोहरी मार’ से लोग प्रभावित : कांग्रेस ◾विधानसभा चुनावों की घोषणा : कांग्रेस ने निर्णय का किया स्वागत, कहा - लोग भाजपा को ‘करारा’ जवाब देंगे ◾टीएमसी, अन्य ने बंगाल में आठ चरणों में चुनाव पर सवाल उठाए, भाजपा ने आयोग के फैसले का किया स्वागत◾सीतारमण ने जी-20 बैठक में कोरोना संकट से निपटने की भारत की नीति की जानकारी दी ◾कांग्रेस ने अर्थव्यवस्था को लेकर केंद्र सरकार पर साधा निशाना ◾ममता बनर्जी ने उठाए आठ चरणों में वोटिंग पर सवाल, कहा- BJP के कहने पर चुनाव आयोग ने लिया फैसला◾TMC के शासन काल में राजनीतिक हिंसा ‘‘नई ऊंचाइयों’’ पर पहुंच गई है : राजनाथ सिंह ◾विधानसभा में जो भाषा मुख्यमंत्री बोलते है, वह किसी योगी द्वारा नहीं बोली जा सकती : अखिलेश यादव ◾ईंधन मूल्यों की बढ़ोतरी को सीतारमण ने बताया धर्मसंकट, शिवसेना ने कहा- पद पर बने रहने का अधिकार नहीं ◾अर्थव्यवस्था में आयी ऊंचाई , तीसरी तिमाही में जीडीपी में दर्ज हुई 0.4 प्रतिशत की वृद्धि ◾कोविड टीके के लिए वरिष्ठ नागरिक, बीमारी से ग्रसित 45 वर्ष से अधिक आयु के लोग कराएं ‘ऑन-साइट’ पंजीकरण ◾निर्वाचन आयोग ने बंगाल सहित 5 राज्यों में किया चुनावी तारीखों का ऐलान, 2 मई को आएंगे सभी राज्यों के नतीजे ◾बंगाल चुनाव के ऐलान से पहले ममता बनर्जी ने घोषणाओं की लगाई झड़ी, श्रमिकों का बढ़ाया वेतन ◾केंद्रीय गृह मंत्रालय ने किया ऐलान - कोविड-19 पर मौजूदा दिशानिर्देश 31 मार्च तक लागू रहेंगे ◾गुजरात में बोले केजरीवाल - जनता जानती है हम सच्चे देशभक्त हैं, 2022 चुनाव में एक बड़ी क्रांति आएगी◾पश्चिम बंगाल में रोड शो कर स्मृति रानी ने ममता बनर्जी को दिया जवाब, कहा - बंगाल में खिलेगा कमल◾CTET Result 2021: सीबीएसई द्वारा घोषित किए गए नतीजे, 6.5 लाख उम्मीदवार सफल◾PM मोदी ने किया खेलो इंडिया Winter games का उद्घाटन, कहा -स्पोर्ट सिर्फ एक हॉबी नहीं स्पिरिट है ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

चक्रवाती तूफान 'अम्फान' : PM मोदी स्थिति का जायजा लेने के लिए पश्चिम बंगाल रवाना, ओडिशा का भी करेंगे दौरा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भीषण चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ के कारण उत्पन्न हुई स्थिति का जायजा लेने के लिए शुक्रवार सुबह पश्चिम बंगाल और ओडिशा के दौरे पर रवाना हो गए। मोदी दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ राहत एवं पुनर्वास के उपायों पर चर्चा करेंगे। 

वह पूर्वाह्न लगभग 10:45 बजे कोलकाता पहुंचेंगे और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ राज्य का हवाई सर्वेक्षण करेंगे। दोनों नेता बशीरहाट में अपराह्न में एक प्रशासनिक बैठक को भी संबोधित करेंगे जिसके बाद मोदी भुवनेश्वर के लिए रवाना हो जाएंगे। बता दें कि इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से बंगाल आकर चक्रवात तूफान से प्रभावित इलाकों का दौरा करने की अपील की थी।

सीएम ममता ने गुरुवार सुबह एक समीक्षा बैठक के बाद कहा, "मैंने अपने जीवन में कभी भी इस तरह के भयंकर चक्रवात और विनाश को नहीं देखा। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अनुरोध करूंगी कि वे चक्रवात अम्फन से प्रभावित इलाकों का दौरा करें।" सीएम ममता की इस अपील को स्वीकारते हुए पीएम मोदी कल पश्चिम बंगाल के दौरे पर जाएंगे और चक्रवात तूफान से उत्पन्न हुई स्थिति का जायजा लेंगे। हालांकि पीएम मोदी खुद चक्रवाती तूफान अम्फान से प्रभावित राज्यों पर नजर रख रहे हैं।

सभी राज्य सख्ती से कराएं लॉकडाउन का पालन, नियम तोड़ने पर होनी चाहिए कड़ी कार्यवाही : गृह मंत्रालय

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, अम्फान के कारण पश्चिम बंगाल में हुई तबाही की तस्वीरें देख रहा हूं। यह चुनौतीपूर्ण समय है, पूरा देश पश्चिम बंगाल के साथ एकजुट होकर खड़ा है। राज्य के लोगों की भलाई के लिए प्रार्थना कर रहा हूं। स्थिति सामान्य करने के लिए प्रयास जारी हैं। बता दें कि बुधवार को पश्चिम बंगाल और ओडिशा में चक्रवाती अम्फान तूफान ने दस्तक दी थी।

पश्चिम बंगाल और ओडिशा में 160 से 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाले अम्फान तूफान ने  तबाही मचाई है। बंगाल की राजधानी कोलकाता के कई इलाकों में पानी भर गया है। इस तबाही से बंगाल में अब तक 72 लोगों की जान जा चुक है। पश्चिम बंगाल सरकार ने तटबंधों और मकानों की मरम्मत तथा प्रभावित इलाकों में जल आपूर्ति के लिए 1000 करोड़ रुपये का कोष बनाया है।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की सहायता प्रदान करने की घोषणा की है।अम्फान के कारण राज्य में 72 लोगों की मौत हुई है और संपत्ति को भी काफी नुकसान पहुंचा है। ओडिशा में तूफान की वजह से 10 उत्तरी जिलों के 44 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। तूफान ने एक लाख हेक्टेयर से अधिक भूमि में खड़ फसल तबाह कर दी है। राज्य सरकार ने बताया कि 6745 गांवों की 1500 ग्राम पंचायत और 89 खंडों में भारी नुकसान हुआ है