BREAKING NEWS

भाजपा के सहयोगी अपना दल सोनेलाल ने किया मुस्लिम उम्मीदवार का एलान,आजम खान के बेटे के खिलाफ ठोकेंगे ताल◾दिल्ली : गणतंत्र दिवस से पहले दिल्ली में तैनात हुए 27 हजार से अधिक जवान, कमिश्नर ने दी जानकारी ◾हिंदुओं को जलसे की इजाजत दी तो..विवादित बोल पर बवाल, सिद्धू के सलाहकार मुस्तफा ने धर्म विशेष के खिलाफ उगला जहर ◾बेरोजगारी पर राहुल ने किया केंद्र का घेराव, कहा- सरकार कर रही पूंजीपतियों का विकास, सिर्फ ‘हमारे दो’... ◾PLC ने 22 उम्मीदवारों की पहली सूची की जारी, इस शहर से चुनाव लड़ेंगे कैप्टन अमरिंदर सिंह◾अपर्णा यादव ने बांधे BJP की तारीफों के पुल, कहा- राष्ट्र को बचाने के लिए पार्टी की सत्ता में वापसी बहुत जरूरी ◾BJP में शामिल हुई अदिति सिंह ने प्रियंका को दी चुनाव लड़ने की चुनौती, कहा- रायबरेली अब कांग्रेस का गढ़ नहीं ◾SP ने जारी की पहली स्टार प्रचारकों की लिस्ट, मुलायम और अखिलेश समेत मौर्य का भी नाम, जानें पूरी सूची ◾अरविंद केजरीवाल का केंद्र पर बड़ा आरोप, बोले- सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार कर सकती है ED◾चीनी PLA ने अरुणाचल से 'लापता' लड़के का लगाया पता, भारतीय सेना को किया सूचित, जानें क्या कहा?◾UP: केशव प्रसाद मौर्य ने विरोधियों पर बोला हमला, कहा- 10 मार्च को सपा, बसपा और कांग्रेस का होगा सूपड़ा साफ◾‘अमर जवान ज्योति’ को युद्ध स्मारक ले जाने के फैसले का अखिलेश ने किया विरोध, देशवासियों से की ये अपील ◾मायावती ने कांग्रेस को बताया ‘वोटकटवा’, बोलीं- पार्टी इतनी खस्ताहाल कि प्रियंका ने बदला CM बनने का इरादा ◾कांग्रेस कैंडिडेट सुप्रिया ऐरन और उनके पति ने छोड़ा पार्टी का हाथ, बरेली कैंट से SP के टिकट पर लड़ेंगी चुनाव ◾UP चुनाव: SP का बढ़ा कद, भारत का सबसे लंबा व्यक्ति हुआ पार्टी में शामिल, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज ◾न्यूजीलैंड: ओमिक्रोन के मामले आने के बाद नए कोविड प्रतिबंध लगाने का फैसला, PM ने कैंसिल कर दी अपनी शादी ◾पंजाब: किसान संगठनों ने गैंगस्टर से कार्यकर्ता बने लाखा सिधाना को दिया टिकट, लाल किला हिंसा में आरोपी ◾शिवसेना के संस्थापक बाबासाहेब की 96वीं जयंती पर पीएम मोदी ने दी श्रद्धांजलि, कहा- ठाकरे को सदा याद रखा जाएगा◾World Corona: कोविड संक्रमण का आंकड़ा 34.85 करोड़ के पार पहुंचा, 55.9 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾Today Corona Update: कोविड के नए मामलों में लगातार दूसरे दिन मामूली राहत, 24 घंटे में मिले 3.33 लाख केस◾

PM मोदी का कांग्रेस पर वार- दिल्ली में कुछ लोग सुबह-शाम मुझे लोकतंत्र का पाठ पढ़ाने में लगे हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को जम्मू-कश्मीर में सेहत योजना लांच करने के दौरान यहां हुए पंचायत चुनावों की चर्चा करते हुए कांग्रेस पर संकेतों में निशाना साधा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में कुछ लोग सुबह-शाम उन्हें लोकतंत्र का पाठ पढ़ाते हैं। ये वही लोग हैं, जिनकी सरकार ने पुदुचेरी में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद पंचायत चुनाव नहीं होने दिया। जबकि यूटी बनने के साल भर में ही जम्मू-कश्मीर में त्रिस्तरीय पंचायतीराज व्यवस्था के चुनाव हो गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह बयान ऐसे समय में आया है, जब बीते दिनों कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने देश में काल्पनिक लोकतंत्र होने की बात कही थी। माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के लोकतंत्र को लेकर उठाए सवाल पर पलटवार किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल माध्यम से संबोधन के दौरान जम्मू-कश्मीर में हुए जिला विकास परिषद चुनावों को लेकर कहा, "इन चुनावों ने दिखाया है कि देश में लोकतंत्र कितना मजबूत है। लेकिन मैं आज देश के सामने एक और पीड़ा व्यक्त करना चाहता हूं। जम्मू-कश्मीर ने तो यूटी बनने के एक साल के भीतर त्रिस्तरीय पंचायतीराज व्यवस्था के चुनाव करवा दिए और लोगों को उनका हक दिया।"

उन्होंने कहा कि अब यही चुने हुए लोग जम्मू-कश्मीर के गांवो, जिलों का भाग्य तय करेंगे। लेकिन दिल्ली में कुछ लोग सुबह-शाम आए दिन मोदी को कोसते रहते हैं, टोकते रहते हैं, अपशब्दों का प्रयोग करते हैं, लोकतंत्र सिखाने के लिए पाठ पढ़ाते रहते हैं।" प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "केंद्रशासित प्रदेश बनने के बाद जम्मू-कश्मीर ने कम समय में त्रिस्तरीय पंचायत व्यवस्था को स्वीकार कर काम आगे बढ़ाया, वहीं पुडूचेरी में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद पंचायत और म्यूनिसिपल इलेक्शन नहीं हो रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "जो लोग लोकतंत्र के पाठ पढ़ाते हैं, उनकी पार्टी वहां राज कर रही है। सुप्रीम कोर्ट ने 2018 में ही चुनाव के लिए आदेश दिया था। वहां की सरकार इस मामले को लगातार टाल रही है। पुडूचेरी में दशकों से इंतजार के बाद 2006 में लोकल बाडी चुनाव हुए थे। जो चुने गए उनका कार्यकाल 2011 में ही खत्म हो गया था।"

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, "इससे राजनीतिक दलों की कथनी और करनी का फर्क पता चलता है। केंद्र सरकार यह लगातार कोशिश कर रही है कि गांव के विकास में गांव के लोगों की भूमिका सबसे ज्यादा रहे। प्लानिंग से लेकर अमल तक पंचायतीराज से जुड़ी संस्थाओं को ज्यादा ताकत दी जा रही है।

J-K में PM मोदी ने शुरू की 'पीएम-जय' योजना, कहा- दशकों तक सीमावर्ती विकास को किया गया नजरअंदाज