BREAKING NEWS

सचिन पायलट ने 30 विधायकों के समर्थन का दावा किया, कांग्रेस बोली- सुरक्षित है गहलोत सरकार ◾विकास दुबे के लिए मुखबिरी करने के आरोपी पुलिसकर्मी को खुद के एनकाउंटर का डर, SC में दी याचिका◾सचिन पायलट की खुली बगावत, विधायक दल की बैठक में नहीं होंगे शामिल, बोले- अल्पमत में है गहलोत सरकार◾राजस्थान में गुटबाजी के संकट को टालने के लिये अजय माकन और रणदीप सुरजेवाला जयपुर भेजे गए ◾राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच, सिंधिया का ट्वीट, बोले- कांग्रेस पार्टी में प्रतिभा और क्षमता का स्थान नहीं◾नहीं थम रहा महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट, बीते 24 घंटे में 7,827 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 2.54 लाख के पार◾राजस्थान सियासी संकट के बीच, ज्योतिरादित्य सिंधिया से मिले सचिन पायलट ◾सियासी घमासान के बीच, मुख्यमंत्री गहलोत ने सोमवार सुबह 10:30 बजे बुलाई कांग्रेस विधायक दल की बैठक◾दिल्ली में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में 1,573 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1.12 लाख के पार◾राजस्थान घमासान पर सिब्बल ने जताई चिंता, कहा - क्या घोड़ों के अस्तबल से निकलने के बाद ही हम जागेंगे?◾विकास दुबे प्रकरण की जांच के लिए आयोग गठित, रिटायर जज शशि कांत अग्रवाल होंगे अध्यक्ष ◾सरकार पर संकट के बीच CM गहलोत ने आज रात 9 बजे बुलाई विधायकों की बैठक◾राजस्थान सरकार संकट : विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में SOG के नोटिस को CM गहलोत ने बताया सामान्य ◾अमिताभ-अभिषेक के बाद ऐश्वर्या और आराध्या भी कोरोना पॉजिटिव ◾PAK ने फिर शुरू किए आतंकी सरगना हाफिज सईद समेत JuD के नेताओं के बैंक अकाउंट◾राजस्थान में गहलोत सरकार पर संकट, सचिन पायलट विधायकों के साथ दिल्ली पहुंचे ◾कोरोना से निपटने के लिए UP में अब होगा वीकेंड लॉकडाउन, हर शनिवार और रविवार बंद रहेंगे बाजार ◾अनुपम खेर का भी परिवार आया कोरोना की चपेट में, मां समेत 4 सदस्य पॉजिटिव ◾अमित शाह बोले-कोरोना के खिलाफ देश की लड़ाई में बड़ी भूमिका निभा रहे हैं सुरक्षा बल◾राहुल ने किया ट्वीट- ऐसा क्या हुआ कि मोदी जी के रहते भारत माता की पवित्र जमीन को चीन ने छीन लिया?◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का हालचाल जानने एम्स जाएंगे राष्ट्रपति कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का हालचाल जानने के लिए शुक्रवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) जाएंगे, जहां जेटली का आईसीयू में इलाज चल रहा है। बता दें कि पिछले एक सप्ताह से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती पूर्व वित्त मंत्री स्वास्थ्य मंत्री अरुण जेटली की सेहत में अभी कुछ खास सुधार नहीं आया है। 

वह अभी भी अस्पताल की सघन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में भर्ती है और उनकी हालत नाजुक बनी हुई है। सूत्रों की माने तो अरुण जेटली के लंग्स में फिर से पानी भरने लगा है, जिसकी वजह से उनकी हालत एक बार फिर अधिक खराब होने लगी है। पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली की सेहत पर एम्स की तरफ से पिछले छह दिनों से कोई बुलिटेन जारी नहीं किया गया है। 

गौरतलब है कि 9 अगस्त यानी शुक्रवार को 66 वर्षीय अरुण जेटली को दिल की धड़कन तेज होने और बेचैनी की शिकायत के बाद एम्स के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। चिकित्सकों ने तब कहा था कि उनकी हालत ‘हीमोडायनैमिकली’ स्थिर बनी हुई है और विभिन्न क्षेत्र के विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम उनके उपचार की निगरानी कर रही है। सूत्रों की माने अरुण जेटली के लंग्स में पानी आने की शिकायत आई थी, जिसकी वजह से उन्हें सांस लेने में दिक्कत हो रही है। 

चिकित्सकों की टीम लंग्स से पानी निकालने का प्रयास कर रही है, लेकिन बानी बार-बार बनने की शिकायत अभी भी बरकरार है। जेटली के एम्स में भर्ती होते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, लोकसभा के स्पीकर ओम बिड़ला और अन्य शीर्ष भाजपा के नेता जेटली को देखने एम्स जा चुके हैं। बता दें कि स्वास्थ्य का हवाला देते हुए जेटली ने इस साल चुनाव नहीं लड़ा था।