BREAKING NEWS

हमारी पहली प्राथमिकता कोरोना के खिलाफ लड़ाई में है, महाराष्ट्र राजनीति में नहीं : रविशंकर प्रसाद ◾बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 792 नए मामले आए सामने, अब तक कुल 303 लोगों की मौत ◾प्रियंका ने CM योगी से किया सवाल, क्या मजदूरों को बंधुआ बनाना चाहती है सरकार?◾राहुल के 'लॉकडाउन' को विफल बताने वाले आरोपों को केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने बताया झूठ◾वायुसेना में शामिल हुई लड़ाकू विमान तेजस की दूसरी स्क्वाड्रन, इजरायल की मिसाइल से है लैस◾केन्द्र और महाराष्ट्र सरकार के विवाद में पिस रहे लाखों प्रवासी श्रमिक : मायावती ◾कोरोना संकट के बीच CM उद्धव ठाकरे ने बुलाई सहयोगी दलों की बैठक◾राहुल गांधी से बोले एक्सपर्ट- 2021 तक रहेगा कोरोना, आर्थिक गतिविधियों पर लोगों में विश्वास पैदा करने की जरूरत◾देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा डेढ़ लाख के पार, अब तक 4 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾राजस्थान में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7600 के पार, अब तक 172 लोगों की मौत हुई ◾Covid-19 : राहुल गांधी आज सुबह प्रसिद्ध स्वास्थ्य पेशेवरों के साथ करेंगे चर्चा ◾कोरोना संकट के बीच असम-मेघालय में बाढ़ का कहर जारी, करीब 2 लाख लोग हुए प्रभावित◾दिल्ली में कोरोना के 412 नये मामले आए सामने, मृतक संख्या 288 हुई ◾LAC पर चीन से बिगड़ते हालात को लेकर PM मोदी ने की हाईलेवल मीटिंग, NSA, CDS और तीनों सेना प्रमुख हुए शामिल◾महाराष्ट्र : उद्धव सरकार पर भड़के रेल मंत्री पीयूष गोयल, कहा- राज्य में सरकार नाम की कोई चीज नहीं◾महाराष्ट्र : फडणवीस की CM ठाकरे को नसीहत, कहा- कोरोना से निपटने में मजबूत नेतृत्व का करें प्रदर्शन ◾दिल्ली से अब तक करीब 2.41 लाख लोगों को 196 ट्रेनों से उनके गृह राज्य वापस भेजा : सिसोदिया◾स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- ढील दिए जाने के बाद 5 राज्यों में बढ़े कोरोना मामले◾राजनाथ सिंह ने CDS और तीनों सेना प्रमुखों के साथ की बैठक, सड़क का निर्माण कार्य रहेगा जारी ◾राहुल गांधी के वार पर BJP का पलटवार, नकवी ने कांग्रेस को बताया राजनीतिक पाखंड की प्रयोगशाला◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने प्रथम विश्वयुद्ध में मारे गए भारतीय सैनिकों को नमन किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 100 साल पूर्व प्रथम विश्वयुद्ध में लड़ चुके भारतीय सैनिकों को रविवार को श्रद्धांजलि देते हुए विश्व शांति के प्रति भारत की बचनबद्धता दोहराई और युद्ध रहित वातावरण बनाने संकल्प लिया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी पूर्वी अफ्रीका, पश्चिमी मोर्चे, गैलीपोली व खाड़ी, चेन्नई पर समुद्री हमले और फ्रांस के आसमान में कुबार्नी दे चुके भारतीय सैनिकों को नमन किया। उन्होंने कहा कि उनकी यादों ने हमें वैश्विक सुरक्षा और वैश्विक शांति के प्रति बचनबद्ध किया है।

 मोदी ने कहा, 'आज प्रथम विश्वयुद्ध की समाप्ति के 100 वर्ष पूरे होने पर हम विश्व शांति के प्रति अपनी बचनबद्धता दोहराते हैं और सद्भाव व भाईचारे का माहौल बनाने के लिए कार्य करने का संकल्प लेते हैं, ताकि फिर से युद्ध के कारण मौतें और तबाही न हो।' प्रथम विश्वयुद्ध के सैनिकों को याद करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत युद्ध में प्रत्यक्ष रूप से शामिल नहीं था, लेकिन हमारे सैनिकों ने सिर्फ शांति के लिए विश्व भर में लड़ाइयां लड़ी।

 मोदी ने कहा, 'मुझे फ्रांस के न्यूवे-चैपल मेमोरियल और इजरायल के हाइफा में स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित करने का सम्मान मिला। ये स्थान प्रथम विश्वयुद्ध में भारत की भूमिका से जुड़े हुए हैं।' उन्होंने कहा, 'जब इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भारत आए थे तो हमने तीनमूर्ति हाइफा चौक पर श्रद्धांजलि अर्पित की थी।' प्रथम विश्वयुद्ध 28 जुलाई, 1914 से 11 नवंबर, 1918 तक चला था।