BREAKING NEWS

संयुक्त किसान मोर्चा ने किया ऐलान-अन्नदाता सीमा विरोध स्थलों पर 30 जून को 'हूल क्रांति दिवस' मनाएंगे◾जम्मू-कश्मीर के सोपोर में मुठभेड़ के दौरान सेना ने 3 आतंकवादियों को किया ढेर◾योग दिवस पर बोले PM मोदी- कोरोना महामारी के दौरान योग उम्मीद की एक किरण बना हुआ है ◾BJP ने आप पर साधा निशाना, कहा - वैक्सीनेशन पर ध्यान न देकर गुजरात और पंजाब के दौरे कर रहे केजरीवाल◾जम्मू कश्मीर के सोपोर इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़◾WTC फाइनल (NZ vs IND) : डेवोन कॉनवे का अर्धशतक, न्यूजीलैंड के 2/101◾CM योगी आदित्यनाथ ने कोरोना संक्रमण के मद्देनजर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को घर पर ही मनाने की अपील की◾PM मोदी के साथ सर्वदलीय बैठक का न्योता मिलने के बाद कश्मीर की पार्टियों में मंथन का दौर◾फारूक अब्दुल्ला ने केंद्र के वार्ता के न्योते पर जम्मू के NC नेताओं को चर्चा के लिए श्रीनगर बुलाया◾सत्ता के नशे में चूर मोदी सरकार लोगों के प्रति अपनी जिम्मेदारी पूरी तरह भूल चुकी है : सुरजेवाला ◾UP सरकार ने तय किया हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा का परिणाम फार्मूला◾अनलॉक की ओर बढ़ रहा UP, लगभग दो महीने बाद खुलेंगे रेस्टोरेंट व मॉल, जानेें कहा और कितनी दी गई रियायत ◾भाजपा पर बरसे अखिलेश, बोले- संकीर्ण राजनीति के चलते कोविड-19 टीकाकरण अभियान की गति हुई धीमी ◾केंद्रीय एजेंसियां सता रही, विधायक की उद्धव से अपील, कहा- बहुत देर होने से पहले भाजपा के साथ मेलमिलाप करना ही ठीक रहेगा◾दिल्ली में बीते चार महीने में सबसे कम कोरोना के नए मामले आए सामने, संक्रमण दर अब 0.17 फीसदी◾WHO की अपील- कोरोना को दोबारा जोर पकड़ने से रोकने के लिए स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत बनाएं देश◾पशुपति पारस को उनके ही संसदीय क्षेत्र में घेरने की तैयारी में जुटे चिराग, हाजीपुर से निकालेंगे 'संघर्ष यात्रा'◾राज्यों के पास 3.06 करोड़ से अधिक कोरोना टीके उपलब्ध, अब तक 27 करोड़ लोगों को लगी वैक्सीन ◾राम मंदिर जमीन मामले में रणदीप सुरजेवाला की मांग- सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में हो जांच◾दिल्ली में कल से 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुलेंगे बार, कोरोना के दिशानिर्देशों का करना होगा पालन ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

Sports Day : राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने खिलाड़ियों को राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों से सम्मानित किया

राम नाथ कोविंद ने खेल दिवस के दिन वर्चुअल माध्यम से देश के खिलाड़यों खेल पुरस्कारों से सम्मानित किया जो कई शहरों से ‘लाग इन’ हुए। रियो पैरालम्पिक के स्वर्ण पदक विजेता एथलीट मरियप्पन थंगावेलु, टेबल टेनिस स्टार मणिका बत्रा और महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल को वर्चुअल माध्यम से देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न से सम्मानित किया। इस साल 74 खिलाड़ियों को राष्ट्रीय पुरस्कार के लिये चुना गया जिसमें पांच को खेल रत्न और 27 को अर्जुन पुरस्कार से नवाजा गया। इनमें से 60 खिलाड़ियों ने भारतीय खेल प्राधिकरण के 11 केंद्रों से वर्चुअल समारोह में हिस्सा लिया। 

क्रिकेटर रोहित शर्मा (खेल रत्न) और इशांत शर्मा (अर्जुन पुरस्कार) समारोह में शामिल नहीं हो सके क्योंकि वे इंडियन प्रीमियर लीग की प्रतिबद्धता के लिये संयुक्त अरब अमीरात में हैं जबकि स्टार पहलवान विनेश फोगाट (खेल रत्न) और बैडमिंटन खिलाड़ी सत्विकसाइराज रंकीरेड्डी (अर्जुन पुरस्कार) को कोविड-19 पॉजिटिव पाये जाने के बाद समारोह से हटना पड़ा। 

रोहित और विनेश के अलावा तीन अन्य खेल रत्न पुरस्कार टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा, पैरालंपिक स्वर्ण पदकधारी मरियप्पन थांगवेलु और महिला हॉकी कप्तान रानी रामपाल को दिये गये जिन्होंने समारोह में हिस्सा लिया। मनिका ने पुणे से जबकि थांगवेलु और रानी ने भारतीय खेल प्राधिकरण के बंगलुरू केंद्र से ‘लॉग इन’ किया। राष्ट्रपति कोविंद ने भाग लेने वाले पुरस्कार विजेताओं की प्रशंसा की जिनके नाम पुकारे गये और उनकी उपलब्धियों बतायी गयीं। हालांकि राष्ट्रपति भवन के दरबार हॉल की कमी महसूस हुई, जहां यह समारोह आयोजित किया जाता है। खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने समारोह शुरू होने से पहले कहा, ‘‘कोविड-19 के दौरान यह पहला पुरस्कार समारोह है जिसमें राष्ट्रपति उपस्थित हुए हैं। ’’ 

इस साल खिलाड़ियों के नकद पुरस्कारों में बढ़ोतरी की गयी है। आज सुबह खेल रत्न की पुरस्कार राशि को 25 लाख रूपये तक बढ़ा दिया गया जो पहले 7.5 लाख रूपये थी। अर्जुन पुरस्कार हासिल करने के लिये समारोह में 22 खिलाड़ी ऑनलाइन हुए, उन्हें 15 लाख रूपये दिये गये जो राशि पहले की तुलना में 10 लाख रूपये अधिक है। द्रोणाचार्य (आजीवन) पुरस्कारों की राशि पहले पांच लाख हुआ करती थी जिसे 15 लाख रूपये कर दिया है। वहीं नियमित द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेताओं को 10 लाख रूपये प्रदान किये गये जो पहले पांच लाख रूपये होती थी। ध्यानचंद्र पुरस्कार विजेताओं को पांच लाख के बजाय 10 लाख रूपये दिये गये। 

कोविड-19 के कड़े प्रोटोकॉल के कारण पुरस्कार के 44 साल के इतिहास में पहली बार हुआ जब विजेता, मेहमान और गणमान्य लोग दरबार हॉल में इकट्ठा नहीं हो सके। इस साल अर्जुन पुरस्कार हासिल करने वालों में स्टार धाविका दुती चंद, महिला क्रिकेटर दीप्ति शर्मा, गोल्फर अदिति अशोक और पुरूष हॉकी टीम स्ट्राइकर आकाशदीप सिंह शामिल थे। 

द्रोणाचार्य लाइफटाइम पुरस्कार आठ कोचों को दिया गया जिसमें तीरंदाजी कोच धर्मेंद तिवारी, नरेश कुमार (टेनिस), शिव सिंह (मुक्केबाजी) और रमेश पठानिया (हॉकी) शामिल हैं। नियमित वर्ग में हॉकी कोच ज्यूड फेलिक्स और निशानेबाजी कोच जसपाल राणा सहित पांच को द्रोणाचार्य पुरस्कार से नवाजा गया। शुक्रवार को एक दुखद घटना हुई जब द्रोणाचार्य (आजीवन) विजेता एथलेटिक्स कोच पुरूषोत्तम राय का दिल का दौरा पड़ने से बेंगलुरू में निधन हो गया। 

इस साल ध्यानचंद पुरस्कार 15 कोचों को दिया गया है जिसमें सुखविदंर सिंह संधू (फुटबॉल), तृप्ति मुर्गुंडे (बैडमिंटन) और नंदन बाल (टेनिस) शामिल हैं। गोल्फर अदिति अशोक और पूर्व फुटबॉलर सुखविंदर सिंह संधू इसमें हिस्सा नहीं ले सके क्योंकि वे देश से बाहर हैं। केंद्रों पर स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य और सुरक्षा संबंधित सभी प्रोटोकॉल का पालन किया गया। बल्कि पुरस्कार विजेता पीपीई किट पहने दिखे। खेल मंत्रालय के निर्देशानुसार प्रत्येक पुरस्कार विजेता को केंद्र में आने से पहले कोविड-19 जांच से गुजरना था। 

राष्ट्रीय खेल पुरस्कार विजेता : 

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार : 

रोहित शर्मा (क्रिकेट), मरियप्पन थांगवेलु (पैरा एथलीट), मनिका बत्रा (टेबल टेनिस), विनेश फोगाट (कुश्ती), रानी रामपाल (हॉकी) 

अर्जुन पुरस्कार : 

अतनु दास (तीरंदाजी), दुती चंद (एथलेटिक्स), सात्विक साईराज रंकीरेड्डी (बैडमिंटन), चिराग चंद्रशेखर शेट्टी (बैडमिंटन), विश्वेश भृगुवंशी (बास्केटबॉल), मनीष कौशिक (मुक्केबाजी), लवलिना बोरगोहान (मुक्केबाजी), दीप्ति शर्मा (क्रिकेट), सावंत अजय अनंत (अश्वारोही), संदेश झिंगन (फुटबॉल), अदिति अशोक (गोल्फ), आकाशदीप सिंह (हॉकी), दीपिका (हॉकी), दीपक (कबड्डी), काले सारिका सुधाकर (खो खो), दत्तू बबन भोकानल (रोइंग), मनु भाकर (निशानेबाजी), सौरभ चौधरी (निशानेबाजी), मधुरिका पाटकर (टेबल टेनिस), दिविज शरण (टेनिस), शिवा केशवन (शीतकालीन खेल), दिव्या काकरान (कुश्ती), राहुल अवारे कुश्ती), सुयश नारायण जाधव (पैरा तैराक), संदीप (पैरा एथलीट), मनीष नरवाल (पैरा निशानेबाजी)। 

द्रोणाचार्य पुरस्कार (लाइफटाइम): 

धर्मेंद्र तिवारी (तीरंदाजी), पुरुषोत्तम राय (एथलेटिक्स), शिव सिंह (मुक्केबाजी), रोमेश पठानिया (हॉकी), कृष्ण कुमार हुड्डा (कबड्डी), विजय भालचंद्र मुनीश्वर (पैरा पावरलिफ्टिंग), नरेश कुमार (टेनिस), ओम प्रकाश दहिया (कुश्ती)। 

नियमित श्रेणी: ज्यूड फेलिक्स (हॉकी), योगेश मालवीय (मल्लखंब), जसपाल राणा (निशानेबाजी), कुलदीप कुमार हांडू (वुशु), गौरव खन्ना (पैरा बैडमिंटन)। 

ध्यानचंद पुरस्कार: 

कुलदीप सिंह भुल्लर (एथलेटिक्स), जिंसी फिलिप्स (एथलेटिक्स), प्रदीप श्रीकृष्ण गंधे (बैडमिंटन), तृप्ति मुर्गुंडे (बैडमिंटन), एन उषा (मुक्केबाजी), लखा सिंह (मुक्केबाजी), सुखविंदर सिंह संधू (फुटबॉल), अजीत सिंह (हॉकी), मनप्रीत सिंह (कबड्डी), जे रंजीत कुमार (पैरा एथलेटिक्स), सत्यप्रकाश तिवारी (पैरा बैडमिंटन), मंजीत सिंह (रोइंग), स्वर्गीय श्री सचिन नाग (तैराकी), नंदन बाल (टेनिस), नेत्रपाल हुड्डा(कुश्ती)। 

तेनजिंग नोर्गे राष्ट्रीय साहसिक पुरस्कार :

 अनीता देवी, कर्नल सरफराज सिंह, टाका तमुत, नरेंद्र सिंह, केवल हिरेन कक्का, सतेंद्र सिंह, गजानंद यादव, स्वर्गीय मगन बिस्सा। मौलाना अबुल कलाम आज़ाद ट्रॉफी: पंजाब विश्वविद्यालय, चंडीगढ़ राष्ट्रीय खेल प्रत्साहन पुरस्कार : लक्ष्य संस्थान ।