BREAKING NEWS

प्रधानमंत्री ने पीएमओ में कार्यरत कर्मचारियों की बेटियों से बंधवाई राखी, देशवासियों को दी शुभकामनायें ◾शिवसेना का बीजेपी पर प्रहार, कहा- मोदी के लिए नीतीश ने खड़ा किया तूफ़ान◾28 अगस्त को महंगाई पर 'हल्ला बोल रैली' करेगी कांग्रेस, कहा - पीएम हताश है और जनता त्रस्त ◾जगदीप धनखड़ ने उपराष्ट्रपति पद की शपथ ली, राजघाट जा कर महात्मा गांधी को दी श्रद्धांजलि ◾मेस का खाना देखकर रोया कॉन्स्टेबल, बोला- मिलती हैं पानी वाली दाल और कच्ची रोटियां◾बिहार में मंत्रिमंडल को लेकर RJD की नजर 'ए टू जेड' पर, मंत्रियों की सूची पर लालू लगाएंगे अंतिम मुहर ◾बिज़नेस टाइकून एलन मस्क ने टेस्ला में अपने 80 लाख शेयर बेचे, क्या फिर करने जा रहे है बड़ा धमाका ◾राजस्‍थान : गौवंश पर कहर बनकर टूटा लम्‍पी रोग, हजारों मवेशियों की मौत के बाद पशु मेलों पर रोक◾गुरुग्राम के क्लब में बाउंसर ने की लड़की से छेड़छाड़, विरोध करने पर दोस्तों से हुई मारपीट, सात लोग गिरफ्तार◾ताइवान के खिलाफ चीन की 'आक्रामकता' पर ब्रिटेन सख्त, उठाया ये कदम ◾जम्मू कश्मीर में आतंकी हमला, सेना कैंप में घुस रहे 2 आतंकी ढेर, 3 जवान शहीद◾आज का राशिफल (11 अगस्त 2022)◾हर घर तिरंगा अभियान : शौर्य चक्र से सम्मानित सिपाही औरंगजेब की मां ने अपने घर पर फहराया 'तिरंगा'◾दिल का दौरा पड़ने के बाद राजू श्रीवास्तव एम्स में भर्ती , वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखे गए◾माकपा ने 'मुफ्त उपहार' वाले बयान को लेकर PM मोदी पर निशाना साधा◾कांग्रेस ने महाराष्ट्र मंत्रिमंडल में संजय राठौर को शामिल किए जाने को लेकर BJP पर साधा निशाना◾High Court में जनहित याचिका : याददाश्त खो चुके हैं सत्येंद्र जैन, विधानसभा और मंत्रिमंडल से अयोग्य घोषित किया जाए◾केजरीवाल ने गुजरात में सत्ता में आने पर महिलाओं को 1000 रुपये मासिक भत्ता देने का किया ऐलान ◾ISRO ने गगनयान से जुड़ा LEM परीक्षण सफलतापूर्वक पूरा किया◾Corbevax Corona Vaccine : केंद्र सरकार ने वयस्कों को कॉर्बेवैक्स की बूस्टर खुराक देने को दी मंजूरी ◾

राष्ट्रपति चुनाव : विपक्षी बैठक के लिए AIMIM को निमंत्रण नहीं, AAP का आने से इनकार, TRS ने भी किया किनारा

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर ममता बनर्जी विपक्षी दलों का एक मोर्चा बनाने के प्रयासों में लगी हैं, लेकिन उनकी ये कोशिश शुरू होने से पहले ही असफल होती नजर आ रही है। ममता बनर्जी ने आज दिल्ली में विपक्षी दलों की बैठक बुलाई। बैठक में AIMIM को निमंत्रण नहीं दिया गया, वहीं टीआरएस और आम आदमी पार्टी ने शामिल होने से इनकार कर दिया।

AIMIM को नहीं मिला निमंत्रण

ममता बनर्जी द्वारा बुलाई गई विपक्ष की बैठक पर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मुझे नहीं बुलाया गया है, अगर बुलाया जाता तो भी मैं नहीं जाता, इसकी वजह कांग्रेस है। हमें खरी खोटी सुनाने वाली TMC बुलाती तो हम इसलिए नहीं जाते क्योंकि उन्होंने बैठक में कांग्रेस को बुलाया है।

कांग्रेस को निमंत्रण दिए जाने पर TRS को ऐतराज

वहीं टीआरएस का भी इस बैठक में शामिल न होने के कारण कांग्रेस है। केसीआर का कहना है कि उनकी पार्टी कांग्रेस के साथ मंच साझा नहीं कर सकती। टीआरएस नेताओं का कहना है कि उनकी ओर से कांग्रेस को निमंत्रण दिए जाने पर ऐतराज जताया गया है। 

टीआरएस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कांग्रेस के साथ मंच साझा करने का कोई सवाल ही नहीं उठता है। पार्टी का कहना है कि कांग्रेस और उसके नेता राहुल गांधी टीआरएस पर मुखर हमले करते रहे हैं। ऐसे में उनके साथ वह नहीं आ सकती। टीआरएस ने तो कांग्रेस पर बीजेपी के साथ ही गठजोड़ करने का आरोप लगाया है।

टीआरएस ने बयान जारी कर कहा गया है, 'तेलंगाना में हाल ही में हुई एक रैली में राहुल गांधी ने टीआरएस की सरकार की आलोचना की थी, लेकिन बीजेपी के खिलाफ कुछ भी नहीं बोला।' टीआरएस ने कहा कि हमारे अलावा कुछ और दल इससे दूर रह सकते हैं। 

AAP का मीटिंग से इनकार

आम आदमी पार्टी (AAP) के सूत्रों ने भी ममता बनर्जी की मीटिंग में शामिल होने से इनकार किया है। पार्टी सूत्रों ने कहा कि आगामी राष्ट्रपति चुनाव के लिए उम्मीदवार घोषित होने के बाद ही आप इस मुद्दे पर विचार करेगी। इसके अलावा बीजू जनता दल के भी बैठक में शामिल होने की उम्मीदें कम हैं।

गौरतलब है कि ममता बनर्जी ने दिल्ली में आज विपक्षी दलों की एक बैठक बुलाई है। इस बैठक में विपक्ष की ओर से राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार के नाम पर चर्चा होगी। इस बैठक में सपा के अखिलेश यादव, कांग्रेस से मल्लिकार्जुन खड़गे और जयराम रमेश हिस्सा लेंगे। इसके अलावा झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन, आरएलडी के जयंत चौधरी, सीपीआई के बिनॉय बिस्वास, डीएमके के टीआर बालू, शिवसेना के सुभाष देसाई, एनसी के उमर अब्दुल्ला औैर पीडीपी की नेता महबूबा मुफ्ती भी इस बैठक में आ सकते हैं।

ममता बनर्जी मंगलवार को दिल्ली पहुंचीं और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार से उनके आवास पर मुलाकात की। उन्होंने पवार को राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष का उम्मीदवार बनने के लिए कहा, जिसे उन्होंने यह कहते हुए मना कर दिया कि वह सक्रिय राजनीति में रहना चाहते हैं। हालांकि, शरद पवार विपक्ष की बैठक में शामिल होंगे।