BREAKING NEWS

सोनिया ने केरल में चांडी की अगुवाई में बनाई चुनाव प्रबंधन समिति◾राहुल ने जारी किया 'खेती का खून' बुकलेट, जावड़ेकर बोले-कांग्रेस को खून शब्द से बहुत प्यार◾राहुल का वार- हिंदुस्तान के पास नहीं है कोई रणनीति, स्पष्ट संदेश नहीं दिया तो चीन उठाएगा फायदा ◾कृषि कानून पर SC द्वारा गठित समिति के सदस्यों की पहली बैठक, घनवट बोले- निजी राय को नहीं होने देंगे हावी ◾पश्चिम बंगाल : ममता बनर्जी का BJP पर जोरदार हमला, बताया नक्सलियों से ज्यादा खतरनाक◾कोविशील्ड के इस्तेमाल से कोई गंभीर एलर्जी की दिक्कत वाले लोग वैक्सीन नहीं लें : सीरम इंस्टीट्यूट ◾राहुल गांधी ने जारी की 'खेती का खून' बुकलेट, कहा- कृषि क्षेत्र पर पूंजीपतियों का हो जाएगा एकाधिकार ◾ब्रिस्बेन में चौथे टेस्ट में जीत के साथ भारत ने रचा इतिहास, कंगारुओं को सिखाया सबक ◾चीन मुद्दे को लेकर नड्डा के निशाने पर राहुल, पूछा-झूठ बोलना कब बंद करेगी कांग्रेस?◾BJP सांसद का पलटवार- 80 के दशक से जमीन पर कब्जा करके बैठा है चीन, कांग्रेस ने क्यों नहीं की कार्रवाई ◾2019 में TMC को किया आधा, 2021 में कर देंगे सफाया : दिलीप घोष◾अरुणाचल प्रदेश में चीन के गांव को बसाए जाने की रिपोर्ट पर सियासत तेज, राहुल ने PM पर साधा निशाना ◾देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के नए मामले 10 हजार से कम, 137 लोगों ने गंवाई जान ◾कांग्रेस मुख्यालय में आज राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कृषि कानूनों पर जारी करेंगे बुकलेट◾दुनियाभर में कोरोना का प्रकोप लगातार जारी, मरीजों का आंकड़ा 9.55 करोड़ तक पहुंचा◾TOP 5 NEWS 19 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾विदेशी आतंकियों की मौजूदगी से आतंकवाद विरोधी प्रयास हो रहे कमजोर : टी. एस. तिरुमूर्ति◾गुजरात : सूरत में सड़क किनारे सो रहे प्रवासी मजदूरों को ट्रक ने कुचला, 13 लोगों की मौत ◾शुभेंदु अधिकारी ने ममता के गढ़ में चुनाव लड़ने का किया ऐलान बोले- 50 हजार वोटों से हारेंगी, नहीं तो छोड़ दूंगा राजनीति ◾किसान संगठनों और सरकार के बीच दसवें दौर की वार्ता अब बुधवार को होगी◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

22 जुलाई को ‘इंडिया आइडियाज समिट’ को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 जुलाई को अमेरिका-भारत कारोबार परिषद (यूएसआईबीसी) द्वारा आयोजित ‘इंडिया आइडियाज समिट’ को संबोधित करेंगे। इस शिखर सम्मेलन में दुनियाभर के लोगों की नजर होगी। यूएसआईबीसी ने बृहस्पतिवार को इसकी जानकारी दी। अमेरिका और भारत की मुख्य भागीदारी वाला यह दो दिनों का शिखर सम्मेलन है, जिसे डिजिटल माध्यम से आयोजित किया जा रहा है। इसका आयोजन 21-22 जुलाई को होगा। 

यूएसआईबीसी ने बताया कि इस शिखर सम्मेलन में भारत सरकार और अमेरिका की सरकार के वे शीर्ष अधिकारी एक साथ आयेंगे, जो महामारी के बाद उबरने की रूपरेखा पर काम कर रहे हैं। 

इस साल के शिखर सम्मेलन को संबोधित करने वालों में अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ, भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल, अमेरिका के स्वास्थ्य एवं मानव सेवा विभाग के उपमंत्री एरिक हैगन, वर्जीनिया के सीनेटर मार्क वार्नर, कैलिफोर्निया की अमेरिकी प्रतिनिधि एमी बेरा, राजदूत केनेथ जस्टर और कई अन्य शामिल हैं। 

यूएसआईबीसी ने कहा, "यूएसआईबीसी अमेरिका-भारत साझेदारी को बढ़ाने के लिए 45 साल के काम का जश्न मना रहा है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोविड-19 के बाद की दुनिया में प्रमुख भागीदार व अगुवा के रूप में अमेरिका और भारत को लेकर दुनियाभर के प्रतिनिधियों को संबोधित करेंगे। उनका संबोधन 22 जुलाई को स्थानीय समय के अनुसार शाम साढ़े आठ बजे होगा।’’ 

शिखर सम्मेलन में शीर्ष अमेरिकी और भारतीय कंपनियों के वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल होंगे। इन कार्यकारियों में यूएसआईबीसी के 2020 ग्लोबल लीडरशिप अवार्ड प्राप्तकर्ता ‘लॉकहीड मार्टिन कॉर्पोरेशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) जिम टैसलेट और टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन’ शामिल हैं। 

यूएसआईबीसी ग्लोबल बोर्ड के अध्यक्ष तथा नुवीन के कार्यकारी चेयरमैन विजय आडवाणी ने कहा, "हम अमेरिका- भारत कारोबार परिषद की 45 वीं वर्षगांठ के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी के जुड़ने से सम्मानित हुए हैं।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘इस वर्ष एक बेहतर भविष्य के निर्माण पर ध्यान केंद्रित होगा। जैसा कि प्रधानमंत्री मोदी कोविड-19 के स्वास्थ्य प्रभाव और संबंधित वैश्विक आर्थिक व्यवधान की दोहरी चुनौतियों का सामना कर रहे हैं, उन्होंने आर्थिक नवीनीकरण और समावेशी अवसर के एक युग की शुरुआत करने में भारत व अमेरिका की भागीदारी के महत्व को स्पष्ट किया है।"

यूएसआईबीसी की अध्यक्ष निशा बिस्वाल ने कहा, "प्रधानमंत्री मोदी ने लगातार अमेरिकी प्रशासन के साथ जुड़ाव के माध्यम से अमेरिका-भारत संबंध को नयी ऊंचाइयों पर पहुंचाया है।’’ 

PM मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र आर्थिक एवं सामाजिक परिषद के सत्र को करेंगे संबोधित