BREAKING NEWS

सैन्य वार्ता : भारत का हॉटस्प्रिंग्स, गोगरा एवं अन्य बिन्दुओं से सैनिकों की जल्द वापसी पर जोर◾PM मोदी सोमवार को डिजिटल भुगतान के लिए 'ई-रुपी' की करेंगे शुरुआत ◾राजस्थान में भारी बारिश के बाद रेल की पटरी बही, उत्तर और मध्य भारत में तेज बारिश की संभावना◾महाराष्ट्र के पुणे जिले में जीका वायरस का पहला मामला आया सामने ◾मानसून सत्र के पहले दो सप्ताहों में राज्यसभा के 40 घंटे हंगामे की भेंट चढ़े◾राजस्थान : गहलोत मंत्रिमंडल में संभावित फेरबदल से पहले अजय माकन बोले- कई मंत्री पद छोड़ने के इच्छुक◾शिवराज के मंत्री ने बढ़ती महंगाई के लिए नेहरू पर फोड़ा ठीकरा, कहा-1947 के भाषण से शुरू हुई अर्थव्यवस्था की बदहाली◾संसद में पेगासस व किसानों के मुद्दे पर चर्चा करवाने के लिए विपक्षी दलों ने किया राष्ट्रपति से दखल देने का आग्रह◾मोदी कैबिनेट से हटाए जाने के बाद बाबुल सुप्रियो ने राजनीति से संन्यास का किया ऐलान, बोले- समाज सेवा के लिए आया था◾राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह बने जेडीयू के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष, जानिए नीतीश के करीबी का राजनीतिक संघर्ष◾UP बोर्ड एग्जाम का रिजल्ट जारी, 10वीं में 99.53% और 12वीं में 97.88% स्टूडेंट्स पास ◾टोक्यो ओलंपिक 2020 : पीवी सिंधु फाइनल की रेस से हुई बाहर, मेडल की उम्मीद अब भी बरकरार◾मिजोरम पुलिस की FIR पर CM सरमा का ट्वीट, 'किसी भी जांच में शामिल होने पर होगी खुशी'◾ओलंपिक मुक्केबाजी : क्वार्टर फाइनल में हारीं पूजा रानी, पहले ही मुकाबले में हारकर बाहर हुए अमित पंघाल ◾चुनावों से पहले BJP खेल रही आरक्षण का कार्ड, जानिए UP समेत किन 5 राज्यों में गूंजेगा OBC रिजर्वेशन का मुद्दा ◾आतंकी सरगना मसूद अजहर का भतीजा 'लंबू' मुठभेड़ में ढेर, पुलवामा हमले की साजिश में था शामिल ◾असम और मिजोरम के बीच हुई हिंसा पर बोले राहुल- देश में दंगों को बीज की तरह बोया जा रहा है◾अखिलेश यादव ने भाजपा के कार्यकर्ताओं को बताया ई-रावण, सोशल मीडिया पर नफरत फैलाने का लगाया आरोप ◾'UPA सरकार ने कभी पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा नहीं दिया', BJP का कांग्रेस पर पलटवार◾भारत और चीन के बीच 12वें दौर की सैन्य वार्ता, हॉट स्प्रिंग और गोगरा इलाकों से गतिरोध खत्म करने पर जोर ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

तौकते के बाद सबसे पहले दवा उद्योग को काम शुरू करने की प्राथमिकता दी जायेगी : पीयूष गोयल

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को चक्रवात तौकते को देखते हुये तैयारियों को लेकर उद्योग जगत के साथ विचार विमर्श किया और कहा कि चक्रवात के गुजर जाने के बाद सबसे पहले दवा उद्योग और खासतौर से आक्सीजन का उत्पादन करने वाले उद्योगों को कामकाज शुरू करने में प्राथमिकता दी जायेगी।

तौकते तूफान के सोमवार की शाम तक गुजरात तट पहुंचने का अनुमान है। इसके बाद इसके मंगलवार सुबह पोरबंदर और महुवा (भावनगर जिले) को पार कर जाने का अनुमान है। इस दौरान 150 किलोमीटर प्रतिघंटा से अधिक रफ्तार से तेज हवायें चल सकती हैं। इस दौरान भारी बरसात और तेज समुद्री लहरें उठ सकतीं हैं। आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि उद्योगों के साथ गोयल की बैठक के दौरान आक्सीजन की लगातार आपूर्ति, दवाओं का बफर स्टॉक रखने और जरूरी चीजों को लेकर विचार विमर्श किया गया। इस दौरान संचार सुविधाओं और अन्य उपयोग की चीजों का सामान्य तौर पर उपलब्ध होने को लेकर भी बातचीत हुई।

गोयल ने कहा कि चक्रवात के बाद इसका प्रभाव दिख सकता है ऐसे में उद्योग को स्वास्थ्य कर्मियों को समर्थन एवं सहयोग देना होगा। बयान में कहा गया है, ‘‘उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि तरल चिकित्सा आक्सीजन, दवा उद्योग, सिलेंडर बनाने वाली इकाइयां अथवा दवा उद्योग की आपूर्ति श्रृंखला में काम करने वाले उद्योगों को परिचालन शुरू करने में प्राथमिकता दी जायेगी।’’

मंत्री ने रेलवे प्रशासन को भी स्थिति पर निगाह रखने को कहा और प्रभावित इलाकों में कम से कम समय में जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति और दूसरी मदद पहुंचाने के लिये तैयार रहने को कहा। गोयल ने कहा कि चकवात पर निगाह रखने के लिये चौबीसों घंटे काम करने वाले नियंत्रण कक्ष पहले से ही काम कर रहा है। उन्होंने बड़े उद्योगों से भी कहा कि वह अपने क्षेत्र में काम करने वाले छोटे उद्योगों आपूर्तिकर्ताओं और पास पड़ोस के उद्योग संघों के साथ सहयोग करें और उन्हें समर्थन दें।

इस बैठक में बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग राजय मंत्री मनसुख मांडविया भी उपस्थित थे। इसके अलावा भारतीय मौसम विभाग, बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग, रेल मंत्रालचय, एनउीएमए और गुजरात, महाराष्ट्र और गोवा तथा संघा शासित प्रदेश दादर और नागर हवेल, दमण और दीव के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

कर्नाटक: बेंगलुरु की सड़कों पर हर रोज सड़ चुके शवों को बरामद करने के लिए निकलते हैं कोविड योद्धा