BREAKING NEWS

KKR vs MI IPL 2020: मुंबई ने कोलकाता को दिया 196 रनों का टारगेट◾महाराष्ट्र में कोरोना के 21 हजार से अधिक नए केस, 479 और लोगों की मौत◾कोरोना प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बोले PM मोदी- 7 दिन तक 1 घंटा लोगों से सीधे करें बात◾ड्रग केस में बड़ी कार्यवाही : NCB ने दीपिका, सारा , श्रद्धा कपूर और रकुल प्रीत सिंह को भेजा समन◾दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की तबीयत बिगड़ी, LNJP हॉस्पिटल में भर्ती◾राहुल गांधी का तीखा वार : मप्र में कांग्रेस ने किसानों का कर्ज माफ किया, भाजपा ने झूठे वादे किए◾कृषि बिल पर विरोध : दिल्ली की ओर कूच कर रहे युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका, कई हिरासत में◾धोनी पर बरसे गंभीर , कहा - सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करना मोर्चे से अगुवाई नहीं◾DRDO ने टैंक रोधी मिसाइल का किया सफल परीक्षण, रक्षा मंत्री ने दी बधाई ◾कोविड-19: देश में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में लगातार तेजी, रिकवरी रेट 81.25 प्रतिशत ◾कृषि बिल पर विरोध जारी, संसद परिसर में गांधी प्रतिमा से अंबेडकर प्रतिमा तक विपक्ष का मार्च ◾कृषि बिल : विपक्ष का संसद परिसर में प्रदर्शन, आज शाम 5 बजे 5 नेताओं से मिलेंगे राष्ट्रपति◾बारिश की वजह से डूबी मुंबई, सड़क और रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित ◾सुशांत केस : ड्रग्स मामले में रिया-शोविक की सुनवाई टली, मुंबई में बारिश के चलते आज HC की छुट्टी◾कश्मीर के मुद्दे को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति पर भड़का भारत, कहा- आंतरिक मामलों में दखल स्वीकार नहीं◾राहुल ने पीएम मोदी पर पड़ोसी देशों के साथ संबंधों को नष्ट करने का लगाया आरोप◾कोरोना संक्रमण के फैलते प्रकोप की वजह से संसद का मानसून सत्र आज से अनिश्चित काल के लिए स्थगित ◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 56 लाख के पार, 90 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾पीएम मोदी की 7 राज्यों के CM के साथ बैठक आज, कोरोना महामारी पर करेंगे चर्चा ◾अमेरिका में वैश्विक महामारी के नए मामलों में कमी, कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 2 लाख के पार ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

राहुल गांधी ने नए ईआईए 2020 मसौदे के खिलाफ लोगों से प्रदर्शन करने की अपील की

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को लोगों से अनुरोध किया कि वे नए पर्यावरण प्रभाव आकलन (ईआईए) 2020 मसौदे के खिलाफ प्रदर्शन करें। उन्होंने कहा कि यह खतरनाक है और अगर अधिसूचित होता है तो इसके दीर्घकालिक परिणाम विनाशकारी होंगे। पर्यावरण मंत्रालय ने इस साल मार्च में मसौदा ईआईए अधिसूचना जारी की थी और इस पर जनता से सुझाव आमंत्रित किये गए थे। इसके तहत विभिन्न परियोजनाओं के लिये पर्यावरण मंजूरी देने के मामले आते हैं।

हैशटैग ‘विदड्रॉईआईए2020’(ईआईए2020 वापस लो) के साथ एक फेसबुक पोस्ट में गांधी ने ईआईए 2020 मसौदे के लिये सरकार की निंदा करते हुए कहा कि यह न सिर्फ “अपमानजनक” बल्कि “खतरनाक” भी है। उन्होंने कहा, “इसमें पर्यावरण की सुरक्षा के लिहाज से लंबी लड़ाई के बाद हासिल हुए फायदों को न सिर्फ पलटने की क्षमता है बल्कि इसमें पूरे भारत में पर्यावरण के लिहाज से व्यापक विनाश और बर्बादी फैलाने की भी क्षमता है।”

गांधी ने कहा, “इस पर विचार कीजिए स्वच्छ भारत का दिखावा करने वाली हमारी सरकार के मुताबिक, अगर यह मसौदा अधिसूचना अमल में आती है तो रणनीतिक तरीके से कोयला खनन और अन्य खनिजों के खनन जैसे बेहद प्रदूषण फैलाने वाले उद्योगों को पर्यावरण प्रभाव आकलन की जरूरत नहीं रहेगी।” 

उन्होंने कहा कि घने जंगलों और पर्यावरण के लिहाज से संवेदनशील अन्य इलाकों से जाने वाले राजमार्गों या रेल लाइनों के लिये भी ईआईए की जरूरत नहीं होगी जिससे बड़े पैमाने पर पेड़ों की कटाई होगी, जिससे हजारों संरक्षित प्रजातियों के रिहाइश वाले इलाकों में बर्बादी होगी। उन्होंने कहा कि पर्यावरण प्रभाव आकलन काम होने के बाद भी दिया जा सकता है, यह “भयावह” है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, “इसका मतलब है, किसी परियोजना से पर्यावरण को नुकसान हो जाने के बाद भी, ईआईए किया जा सकता है।” गांधी ने कहा कि ईआईए 2020 मसौदा एक तबाही है और यह उन लोगों की आवाज को बंद करने वाली है जो पर्यावरण को होने वाले इस नुकसान से सीधे प्रभावित होंगे। गांधी ने कहा, “मैं सभी भारतीयों से इसके खिलाफ खड़े होने और प्रदर्शन करने का अनुरोध करता हूं।

 हमारे पर्यावरण को बचाने से जुड़ी हर लड़ाई में हमेशा बढ़चढ़कर हिस्सा लेने वाले हमारे युवाओं को निश्चित रूप से इस मुद्दे को उठाना चाहिए और इसे अपना बनाकर लड़ना चाहिए।” उन्होंने कहा, “पर्यावरण को बचाने की लड़ाई राजनीतिक और वैचारिक मान्यताओं से इतर है। यह कुछ और नहीं, हाल में कोविड-19 महामारी ने हमे दिखा दिया है कि मानव जीवन कितना क्षणभंगुर है।”