BREAKING NEWS

बोडो शांति समझौते पर हस्ताक्षर से पहले सभी पक्षकारों को विश्वास में लिया जाए : कांग्रेस ◾चीन में कोरोनावायरस संक्रमण से अभी तक कोई भारतीय प्रभावित नहीं : विदेश मंत्रालय ◾सभी शरणार्थियों को CAA के तहत दी जाएगी नागरिकता : पश्चिम बंगाल भाजपा प्रमुख ◾खेलो इंडिया की तर्ज पर हर वर्ष खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स आयोजित होगा : प्रधानमंत्री मोदी ◾हिंसा किसी समस्या का समाधान नहीं, शांति हर सवाल का जवाब : PM मोदी ◾उल्फा (आई) ने गणतंत्र दिवस पर असम में हुए विस्फोटों की जिम्मेदारी ली ◾गणतंत्र दिवस पर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी को संविधान की प्रति भेजी ◾ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो की मौजूदगी में भारत ने मनाया 71वां गणतंत्र दिवस ◾71वां गणतंत्र दिवस के मोके पर राष्ट्रपति कोविंद ने राजपथ पर फहराया तिरंगा◾गणतंत्र दिवस पर सैन्य शक्ति, सांस्कृतिक विरासत और सामाजिक-आर्थिक प्रगति का होगा भव्य प्रदर्शन◾अदनान सामी को पद्मश्री पुरस्कार मिलने पर हरदीप सिंह पुरी ने दी बधाई ◾पूर्व मंत्रियों अरूण जेटली, सुषमा स्वराज और जार्ज फर्नांडीज को पद्म विभूषण से किया गया सम्मानित, देखें पूरी लिस्ट !◾कोरोना विषाणु का खतरा : करीब 100 लोग निगरानी में रखे गए, PMO ने की तैयारियों की समीक्षा◾गणतंत्र दिवस : चार मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश एवं निकास कुछ घंटों के लिए रहेगा बंद ◾ISRO की उपलब्धियों पर सभी देशवासियों को गर्व है : राष्ट्रपति ◾भाजपा ने पहले भी मुश्किल लगने वाले चुनाव जीते हैं : शाह◾यमुना को इतना साफ कर देंगे कि लोग नदी में डुबकी लगा सकेंगे : केजरीवाल◾उमर की नयी तस्वीर सामने आई, ममता ने स्थिति को दुर्भाग्यपूर्ण बताया◾ओम बिरला ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी◾PM मोदी ने पद्म पुरस्कार पाने वालों को दी बधाई◾

राहुल के 'रेप इन इंडिया' वाले बयान को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर जनता का ध्यान भटकाने का लगाया आरोप

राहुल गांधी की 'रेप इन इंडिया' टिप्पणी पर शुक्रवार को लोकसभा में भारी हंगामा हुआ। इस बीच कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह देश की समस्याओं से जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश है। 

सुरजेवाला ने ट्वीट किया, "जनता का ध्यान देश में फैली अराजकता से हटाने के लिए आप (मोदी सरकार) संसद को काम करने से रोक रहे हैं। आपको ज्ञात होना चाहिए कि देश की महिलाएं दुष्कर्म के विरुद्ध एक निर्णायक कदम चाहती हैं।" उन्होंने कहा, "भारत में दुष्कर्म स्वीकार्य नहीं है। दुष्कर्म के मामले में खुद के बयानों को सुनें। अगर ये टिप्पणियां गलत हैं, तो पहले खुद माफी मांगें।" 

इसके साथ ही कांग्रेस प्रवक्ता ने एक वीडियो टैग किया, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी को इसी मुद्दे पर बोलते हुए सुना जा सकता है। वह कह रहे हैं, "दिल्ली को रेप कैपिटल बना दिया गया है और आपके पास (तत्कालीन कांग्रेस सरकार) इस प्रकार के अपराधों को रोकने की कोई नीति नहीं है।" 

एक अन्य ट्वीट में सुरजेवाला ने समचार साइट्स के स्क्रीनशॉट्स को पोस्ट करते हुए लिखा, "मोदी जी, आप दिल्ली, मुंबई, गुड़गांव, मध्यप्रदेश, कर्नाटक में देश की राजधानी दिल्ली को 'रेप कैपिटल' कहें तो वो विपक्षी नेता के तौर पर सरकार की आलोचना है और आए दिन हो रहीं दुष्कर्म की घटनाओं और आपकी रहस्यमयी चुप्पी पर राहुल गांधी जबाब मांगे तो वह देशद्रोह! वाह मोदी जी!"

राहुल गांधी की 'रेप इन इंडिया' टिप्पणी पर शुक्रवार को लोकसभा में भारी हंगामे के बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसदों ने इस टिप्पणी की निंदा की और राहुल गांधी से माफी की मांग की। गौरतलब है कि गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी के शासन में महिलाओं के खिलाफ अपराधों को उजागर करने के लिए गुरुवार को झारखंड के गोड्डा जिले में एक सार्वजनिक रैली के दौरान विवादास्पद 'रेप इन इंडिया' वाली टिप्पणी की थी। 

लोकसभा में बोले राजनाथ सिंह- राहुल गांधी को सांसद होने का नैतिक अधिकार नहीं