BREAKING NEWS

महान संगीतकार ख्य्याम साहब का निधन, अभिनेता बनना चाहते थे ख्य्याम साहब◾प्रियंका का कटाक्ष : लगता है मोदी आरएसएस के विचारों का सम्मान नहीं करते ◾उत्तर भारत में बारिश का कहर, 38 की मौत ◾अलायंस एयर की उड़ान की दिल्ली हवाई अड्डे पर आपात लैंडिंग, सभी यात्री सुरक्षित ◾PM मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प से फोन पर की 30 मिनट बातचीत, बिना नाम लिए PAK को बनाया निशाना ◾TOP 20 NEWS 19 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾आरक्षण विरोधी मानसिकता त्यागे संघ : मायावती◾कश्मीर पर भारत की नीति से घबराया पाकिस्तान, अगले तीन साल पाकिस्तानी सेना प्रमुख बने रहेंगे बाजवा◾चिदंबरम ने भाजपा पर साधा निशाना, कहा- सब सामान्य तो महबूबा मुफ्ती की बेटी नजरबंद क्यों◾कांग्रेस ने बीजेपी और RSS को बताया दलित-पिछड़ा विरोधी◾गृहमंत्री अमित शाह से मिले अजीत डोभाल, जम्मू कश्मीर के हालात पर हुई चर्चा◾RSS अपनी आरक्षण-विरोधी मानसिकता त्याग दे तो बेहतर है : मायावती ◾गहलोत बोले- कांग्रेस ने देश में लोकतंत्र को मजबूत रखा जिसकी वजह से ही मोदी आज PM है ◾बैंकों के लिए कर्ज एवं जमा की ब्याज दरों को रेपो दर से जोड़ने का सही समय: शक्तिकांत दास◾राजीव गांधी की 75वीं जयंती: देश भर में कार्यक्रम आयोजित करेगी कांग्रेस◾दलितों-पिछड़ों को मिला आरक्षण खत्म करना BJP का असली एजेंडा : कांग्रेस ◾उन्नाव कांड: SC ने CBI को जांच पूरी करने के लिए 2 हफ्ते का समय और दिया, वकील को 5 लाख देने का आदेश◾अयोध्या भूमि विवाद मामले पर आज सुप्रीम कोर्ट में नहीं हुई सुनवाई ◾जम्मू-कश्मीर में पटरी पर लौटती जिंदगी, 14 दिन बाद खुले स्कूल-दफ्तर◾बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का 82 साल की उम्र में निधन◾

देश

राहुल के फ्यूल चैलेंज को स्वीकार करें प्रधानमंत्री

पटना  : बिहार कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी को राहुल गांधी जी की फ्यूल चैलेंज को स्वीकार करना चाहिए और पेट्रोल, डीजल की बढ़ती कीमतों पर अविलम्ब अंकुश लगाना चाहिए। ताकि जनता को राहत मिल सके अन्यथा कांग्रेस के राष्ट्रव्यापी आन्दोलन को झेलने के लिए तैयार रहना चाहिए। श्री सिंह ने कहा कि राहुल जी ने चुनौती देते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री जीए पेट्रोल,

डीजल के बढ़ते कीमत को कम कीजिये या कांग्रेस पार्टी राष्ट्रव्यापी आन्दोलन कर आपको ऐसा करने पर मजबूर करेगी। राहुल जी ने पीएम की प्रतिक्रिया का इंतजार करने की भी बात कही है। श्री सिंह ने कहा कि यह कितनी भयावह स्थिति है कि देश की जनता एक तरफ पेट्रोल, डीजल की बढ़ती कीमतों को झेल रही तो दूसरी तरफ इससे बढ़ने वाली महंगाई से भी तंग और तबाह हो रही है।

वहीं मोदी सरकार के संवेदनहीन मंत्रीगण जनता की पीड़ा को दरकिनार कर कह रहे हैं कि पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत नहीं बढ़ेगी तो योजनाओं के लिए पैसे कहां से आयेंगे। पिछले 4 सालों में केंद्र और राज्य सरकारों को पेट्रोलियम उत्पादों से हुई 14 लाख 67 हजार 462 करोड़ रुपये की कमाई का पैसा आखिर गया कहां? सवाल यह भी उठता है कि कांग्रेस सरकारों के समय पेट्रोल, डीजल की कीमतें बिना बढे कैसे विकास कार्य होते थे? क्या भाजपा इन सवालों का जवाब जनता को देगी?

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए यहां क्लिक करें।