BREAKING NEWS

PM मोदी ने शपथ लेने पर जो बाइडेन और कमला हैरिस को दी बधाई ◾केंद्र सरकार के प्रस्ताव पर किसान नेताओं का रुख सकारात्मक, बोले- विचार करेंगे ◾लोकतंत्र की जीत हुई है : अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने पहले भाषण में कहा ◾जो बाइडेन बने अमेरिका के 46 वें राष्ट्रपति ◾कमला देवी हैरिस ने अमेरिका की उपराष्ट्रपति के रूप में शपथ लेकर रचा इतिहास ◾सरकार एक से डेढ़ साल तक भी कानून के क्रियान्वयन को स्थगित करने के लिए तैयार : नरेंद्र सिंह तोमर◾कृषि कानूनों पर रोक को तैयार हुई सरकार, अगली बैठक 22 जनवरी को◾TMC कार्यकर्ताओं ने रैली में की विवादित नारेबाजी, नारे से तृणमूल ने खुद को किया अलग◾चुनावों से पहले ममता को एक और झटका, BJP में शामिल हुए अरिंदम भट्टाचार्य◾कृषि कानूनों के खिलाफ टिकरी बॉर्डर पर धरना दे रहे किसान ने खाया जहर, इलाज़ के दौरान हुई मौत◾PM वास्तविकता के प्रति आंखे खोले, शौचालय, आवास और ओडीएफ के 'आंकड़े' को नहीं दोहराना चाहिए : चिदंबरम ◾क्या 26 जनवरी को निकलेगी किसानों की ट्रैक्टर रैली? कमेटी पर उठ रहे सवालों पर CJI सख्त◾आवास योजना के तहत PM मोदी ने जारी की वित्तीय मदद, 2022 तक सबको घर देने का रखा लक्ष्य◾बंगाल : जलपाईगुड़ी सड़क हादसे में 13 की मौत और 18 गंभीर रूप से घायल, PM मोदी ने जताया शोक◾बजट से पहले मोदी कैबिनेट की तैयारी, 30 जनवरी को बुलाई सर्वदलीय बैठक ◾जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना ने तीन घुसपैठियों को मार गिराया, 4 जवान घायल ◾अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के तौर पर बाइडन आज लेंगे शपथ, बयान देते समय हुए भावुक ◾TOP 5 NEWS 20 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान में अब तक 6.31 लाख स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया गया◾मोदी आज प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के लाभार्थियों को जारी करेंगे वित्तीय सहायता ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

दिल्ली हिंसा के मुद्दे पर विपक्ष के हंगामे के कारण राज्यसभा दिनभर के लिए स्थगित

दिल्ली में हुई सांप्रदायिक हिंसा के मुद्दे को लेकर विपक्षी नेताओं ने राज्यसभा में जमकर हंगामा किया, जिस कारण उच्च सदन की कार्यवाही शुरू होने के करीब 10 मिनट बाद ही पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गयी। बता दें कि सांप्रदायिक हिंसा के मुद्दे पर होली के बाद चर्चा कराने की पेशकश को अस्वीकार करते हुए विपक्षी दलों के सदस्यों ने बुधवार को राज्यसभा में हंगामा किया।

सभापति एम वेंकैया नायडू ने जरूरी दस्तावेज सदन के पटल पर रखवाने के बाद घोषणा की कि उन्हें 267 के तहत कुछ नोटिस मिले हैं जिन्हें उन्होंने स्वीकार नहीं किया है। लेकिन मुद्दे की गंभीरता को देखते हुए दिल्ली में हिंसा विषय पर सदन में चर्चा होगी। 

उन्होंने कहा कि वह इस संबंध में विभिन्न दलों के नेताओं के साथ मिलेंगे और तय करेंगे कि किस नियम के तहत इस मुद्दे पर चर्चा हो। उन्होंने होली के बाद इस पर चर्चा कराने की बात की। इसके बाद कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस सहित विभिन्न विपक्षी दलों के सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया। तृणमूल के कुछ सदस्य आसन के पास भी आ गए। 

दिल्ली हिंसा: आप के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन ने अग्रिम जमानत के लिए दायर की याचिका

नायडू ने हंगामा कर रहे सदस्यों से शांत रहने और सदन चलने देने की अपील की। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर चर्चा होगी लेकिन उसके लिए यह तय करना होगा कि किस नियम और प्रक्रिया के तहत यह चर्चा हो। लेकिन सदस्यों का हंगामा जारी रहा। उन्होंने कहा कि शून्यकाल के तहत कुल 16 मुद्दे स्वीकार किए गए हैं जिनमें कोरोना वायरस जैसे अहम मुद्दे भी हैं। 

उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि कुछ सदस्य नहीं चाहते कि सदन की कार्यवाही सुचारू रूप से चले। वे यह तय कर के आए हैं कि चर्चा नहीं होने देनी है। उन्होंने कहा कि परीक्षाएं चल रही हैं और छात्रों के मन में तनाव है। लेकिन यहां सदस्यों को हंगामा जारी है। इसके बाद उन्होंने 11 बजकर करीब 10 मिनट पर बैठक पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी। 

इससे पहले सदन ने अपने पूर्व सदस्य भद्रेश्वर बरगोंहाइ को श्रद्धांजलि दी। उनका पिछले दिनों निधन हो गया था। उन्होंने अप्रैल 1990 से अप्रैल 1996 तक उच्च सदन में असम का प्रतिनिधित्व किया था। नायडू ने केरल के निर्दलीय सदस्य एमपी वीरेंद्र कुमार के एक पत्र मिलने का भी उल्लेख किया जिसमें कुमार ने बीमारी के कारण दो मार्च से 20 मार्च तक सदन की कार्यवाही में भाग लेने में असमर्थता जतायी है। 

संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण सोमवार को शुरू हुआ है और बुधवार को लगातार तीसरे दिन भी उच्च सदन में गतिरोध कायम रहा। विपक्ष दिल्ली हिंसा के मुद्दे पर तत्काल चर्चा कराने की मांग कर रहा है। हंगामे की वजह से शून्यकाल और प्रश्नकाल भी बाधित हैं।