BREAKING NEWS

राज्यसभा मार्शल्स की नई वर्दी पर उठे सवाल, वैंकेया नायडू ने पुनर्विचार के दिए आदेश◾मायावती ने प्रदूषण पर जताई चिंता, कहा- संसद में चर्चा के बाद ठोस नीति बनाए सरकार ◾हंगामे के बाद राज्यसभा दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित, लोकसभा में किसानों के मुद्दे को लेकर विपक्ष ने की नारेबाजी◾रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सियाचिन में सेना के जवानों और उनके कुलियों की मौत पर जताया शोक◾शिवसेना ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- एनडीए की अनुमति ली थी क्या? ◾संजय राउत का शायराना ट्वीट- 'अगर जिंदगी में कुछ पाना हो तो तरीके बदलो इरादे नहीं'◾सरहदों की निगरानी के लिए ISRO लॉन्च करेगा कार्टोसैट-3, दुश्मन देशों की हरकतों पर रहेगी नजर ◾जलियांवाला बाग राष्ट्रीय स्मारक संशोधन विधेयक राज्यसभा में आज होगा पेश◾JNU छात्र आज फिर उतर सकते है सड़को पर, प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे स्टूडेंट ◾1 दिसंबर से ग्राहकों की जेब पर बढ़ेगा बोझ, ये दूरसंचार कंपनियां बढ़ाएंगी मोबाइल सेवाओं की दरें◾इंदिरा गांधी की जयंती पर PM मोदी, सोनिया, मनमोहन और प्रणब मुखर्जी ने दी श्रद्धांजलि◾महाराष्ट्र : महीनेभर बाद भी एक ही सवाल, कब और कैसे बनेगी सरकार? ◾झारखंड के चुनाव परिणाम बिहार राजग पर डालेंगे असर! ◾ खट्टर ने स्थानीय युवाओं को नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण देने वाला विधेयक न लाने के संकेत दिए ◾सबरीमला में श्रद्धालुओं की जबरदस्त भीड़, 2 महिलायें वापस भेजी गयी ◾जेएनयू छात्रसंघ पदाधिकारियों का दावा, एचआरडी मंत्रालय के अधिकारी ने दिया समिति से मुलाकात का आश्वासन ◾प्रियंका गांधी ने इलेक्टोरल बांड को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾TOP 20 NEWS 18 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद पवार बोले- किसी के साथ सरकार बनाने पर चर्चा नहीं◾INX मीडिया धनशोधन मामला : चिदंबरम ने जमानत याचिका खारिज करने के आदेश को न्यायालय में दी चुनौती ◾

देश

राठौर ने प्रधानमंत्री एवं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र डॉक्टरों द्वारा गरीबों को जान-बुझ कर महंगी दवा लिखी जाती है

पटना : अखिल भारतीय अपराधी विरोध मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनवंत सिंह राठौर ने प्रधानमंत्री, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री एवं राज्यमंत्री को पत्र लिखकर आईजीआईएमएस में कार्यरत चिकित्सकों पर बड़े-बड़े दवा कंपनियों से मिलीभगत कर मरीजों को लिखे जाने वाले महंगी दवा की जांच कराकर दोषी डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। आयोजित संवाददाता सम्मेलन में श्री राठौर ने कहा कि आईजीआईएमएस, शेखपुरा में डॉक्टर मरीजों को सस्ती दवा लिखने के बजाये जान-बुझकर महंगी दवा लिखते हैं।

जबकि आईजीआईएमएस परिसर में अमृत मेडिकल हॉल है जहां मरीजों को सस्ती दवा मिलती है। लेकिन दवा कंपनियों के साथ मिलीभगत रहने के कारण चिकित्सक जान-बुझकर महंगी दवा लिखते हैं जो बाहर के दुकानों में ही उपलब्ध है। अस्पताल व सरकार द्वारा संचालित दवाखाना में चिकित्सकों द्वारा जो दवा लिखी जाती है उस कम्पोजिशन के सस्ते कीमत की दवा रहने के बावजूद मरीजों को बाहर से कई गुणा अधिक कीमतों पर दवा खरीदना पड़ता है।

श्री राठौर ने अपने पत्र में प्रधानमंत्री, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री एवं स्वास्थ्य राज्यमंत्री से अपील किया कि वे चिकित्सकों को अस्पताल द्वारा संचालित दवाखाना में मौजूद कम कीमत की दवा ही लिखने का आदेश निर्गत करें। दिन भी विभिन्न दवा कंपनियों के एजेंट अपने कंपनी केदवा लिखाने के लिए अस्पताल परिसर में डॉक्टरों के साथ बातचीत करते हुए घुमते नजर आते हैं। उसी कम्पोजिशन के सस्ती दवा रहने के बावजूद महंगी दवा खरीदने का खामियाजा खासकर रगरीब मरीजों को उठाना पड़ता है। संवाददाता सम्मेलन में महासचिव मनोज लाल दास मनु, युवा प्रदेश अध्यक्ष राहुल कुमार, मनीष कुमार ङ्क्षसह एवंविवेक कुमार ङ्क्षसह शामिल थे।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ