भाजपा ने राफेल विमान समझौते को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लगाए गए राहुल गांधी के आरोपों को मंगलवार को खारिज करते हुए इसे बेशर्मी और गैरजिम्मेदारी की पराकाष्ठा बताया। भाजपा ने कहा कि प्रधानमंत्री की आलोचना करने के लिए राहुल ने एयरबस के जिस ईमेल का जिक्र किया, उसमें लड़ाकू विमान की खरीदारी नहीं, बल्कि किसी हेलीकॉप्टर सौदे का उल्लेख है।

rafale

भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एयरबस को भी कटघरे में खड़े करते हुए कहा कि यूरोपीय विमान निर्माता कंपनी पूर्ववर्ती कांग्रेस नीत सरकार में हुए सौदों को लेकर संदेह के घेरे में है। उन्होंने राहुल गांधी से इस बात का जवाब देने को कहा कि उन्हें कंपनी का आंतरिक ईमेल कैसे मिला। उन्होंने राहुल गांधी पर विदेशी कंपनी के “लॉबीस्ट” के तौर पर काम करने का आरोप लगाया।

राफेल : राहुल ने PM मोदी पर साधा निशाना, कहा- सामने आया ईमेल

भाजपा नेता ने कहा कि गांधी परिवार से आने वाले पूर्व प्रधानमंत्रियों के कार्यकाल के दौरान हुए कई “संदेहास्पद” रक्षा सौदों को लेकर भाजपा के उनके साथ गंभीर मतभेद हैं, लेकिन उन पर कभी देशद्रोह का आरोप नहीं लगाया गया। उन्होंने कहा, “उन्होंने (राहुल गांधी ने) हमारे ईमानदार प्रधानमंत्री पर आरोप लगाकर स्वयं पर कीचड़ उछाला है। हम जनता के सामने उनके झूठ का पर्दाफाश करेंगे।”