केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने 2011 के मुंबई हमले के बाद आतंकवाद से लड़ने का ‘‘साहस नहीं दिखा पाने’’ को लेकर शुक्रवार को कांग्रेस की जमकर आलोचना की। साथ ही उन्होंने पुलवामा हमले के बाद हुई कार्रवाई के लिए राजग सरकार की प्रशंसा भी की।

दिल्ली भाजपा कार्यालय में वकीलों की एक बैठक को संबोधित करते हुए प्रसाद ने ‘‘सकारात्मक सोच और इच्छाशक्ति’’ के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की।

लोकसभा चुनाव : कांग्रेस ने 18 उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी की

उन्होंने कहा कि 2011 के मुंबई हमले के वक्त सेना कार्रवाई के लिए तैयार थी लेकिन कांग्रेस नेताओं ने हिम्मत नहीं दिखाई।

लेकिन पुलवामा के बाद राजग सरकार ने ना सिर्फ हिम्मत दिखाई और हवाई हमले के जरिए उचित जवाब दिय बल्कि पाकिस्तान से सर्वाधिक तरजीही राष्ट्र (एमएफएन) का दर्जा भी वापस ले लिया।