BREAKING NEWS

चुनाव से पहले बंगाल में फिर उठा रोहिंग्या मुद्दा, दिलीप घोष ने की केंद्रीय बलों के तैनाती की मांग◾पुणे : दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता में से एक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में लगी आग◾ट्रैक्टर रैली पर किसान और पुलिस की बैठक बेनतीजा, रिंग रोड पर परेड निकालने पर अड़े अन्नदाता ◾डेजर्ट नाइट-21 : भारत और फ्रांस के बीच युद्धाभ्यास, CDS बिपिन रावत आज भरेंगे राफेल में उड़ान◾किसानों का प्रदर्शन 57वें दिन जारी, आंदोलनकारी बोले- बैकफुट पर जा रही है सरकार, रद्द होना चाहिए कानून ◾कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में प्रधानमंत्री मोदी और सभी मुख्यमंत्रियों को लगेगा टीका◾दिल्ली में अगले दो दिन में बढ़ सकता है न्यूनतम तापमान, तेज हवा चलने से वायु गुणवत्ता में सुधार का अनुमान ◾देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 15223 नए केस, 19965 मरीज हुए ठीक◾TOP 5 NEWS 21 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾विश्व में आखिर कब थमेगा कोरोना का कहर, मरीजों का आंकड़ा 9.68 करोड़ हुआ ◾राहुल गांधी ने जो बाइडन को दी शुभकामनाएं, बोले- लोकतंत्र का नया अध्याय शुरू हो रहा है◾कांग्रेस ने मोदी पर साधा निशाना, कहा-‘काले कानूनों’ को खत्म क्यों नहीं करते प्रधानमंत्री◾जो बाइडन के शपथ लेने के बाद चीन ने ट्रंप को दिया झटका, प्रशासन के 30 अधिकारियों पर लगायी पाबंदी ◾आज का राशिफल (21 जनवरी 2021)◾PM मोदी ने शपथ लेने पर जो बाइडेन और कमला हैरिस को दी बधाई ◾केंद्र सरकार के प्रस्ताव पर किसान नेताओं का रुख सकारात्मक, बोले- विचार करेंगे ◾लोकतंत्र की जीत हुई है : अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने पहले भाषण में कहा ◾जो बाइडेन बने अमेरिका के 46 वें राष्ट्रपति ◾कमला देवी हैरिस ने अमेरिका की उपराष्ट्रपति के रूप में शपथ लेकर रचा इतिहास ◾सरकार एक से डेढ़ साल तक भी कानून के क्रियान्वयन को स्थगित करने के लिए तैयार : नरेंद्र सिंह तोमर◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

बारिश कम होने से बाढ़ की स्थिति में हुआ सुधार

राजस्थान में दक्षिण पश्चिमी मानसून के कमजोर पडऩे से बाढ़ ग्रस्त तीन जिलों में पानी के नीचे उतरने से लोगों ने राहत की सांस ली है हालांकि इन क्षेत्रों में पानी भरे होने तथा नदी नालों में पानी की आवक जारी रहने के कारण अभी भी हालात गंभीर बने हुये है।

बाढ़ नियंत्रण के अनुसार प्रदेश में बारिश के कारण अब तक 34 लोगों की मृत्यु हो चुकी है जिनमें सर्वाधिक आठ मौते बाड़मेर में हुयी है। इसके अलावा सिरोही में छह, उदयपुर और भीलवाडा में पांच-पांच, जालोर में चार, झालावाड़ और पाली में दो-दो तथा सीकर और बांसवाड़ा में एक-एक लोग शामिल है। मृतकों में 20 लोग डूबने और बहने से, आकाशीय बिजली गिरने से 11 तथा दीवार गिरने से तीन लोग शामिल है।

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में चलाये गये बचाव एवं राहत कार्यो के दौरान सेना और हेलीकाप्टर के साथ-साथ एनडीआरएफ टीम की मदद से सैकडों लोगों को बचाया गया है। वहीं सिरोही जिले में कल फंसे 200 लोगों को बचा लिया गया है। जालोर की सुकडी नदी के ओवरफ्लो के कारण वहां कई गांव पानी से घिरे हुये है। पाली जिले में बारिश का दौर थमने के बावजूद वहां 20 से अधिक बांध लबालब हो चुके है।

प्रदेश के तीन जिलों पाली, सिरोही, जालौर में चार दिनों से जारी बारिश का दौर थम गया है वहीं माउंट आबू, बाड़मेर और जोधपुर सहित कुछ क्षेत्रों में अभी भी हल्की और मध्यम दर्जे की बारिश का दौर जारी है। माउंट आबू में बारिश के कारण चट्टानें गिरने से अभी भी माउंट आबू और आबूरोड़ के बीच मार्ग बंद है तथा कई पर्यटक वहां फंसे हुये है।

बारिश थमने के बावजूद जालोर जिले के जवाई बांध में पानी की आवक बनी हुयी है जिसके कारण बांध पूरी तरह से भर गया है और उसके गेट खोलने की तैयारी की जा रही है। जिला प्रशासन ने जवाई बांध के गेट खोलने के मद्देनजर आसपास के क्षेत्रों में सर्तक रहने की मुनादी करा दी गयी है।

जोधपुर जिले की लूणी नदी में पानी की आवक तेज होने के कारण नदी का उफान बालोतरा तक पहुंच गया है तथा नदी पर सात फीट तक की चादर चल रही है। इसी तरह उदयपुर जिले के सबसे बडे माही बांध और डुंगरपुर जिले के सोम बांध पूरी तरह से लबालब हो गये है और इन पर दो से तीन फीट की चादर चल रही है। बांसवाडा जिले के घाटोल के डगिया तालाब का पेटा बह जाने और नहर टूट जाने से क्षेत्र के इलाकों में पानी भरा हुआ है। डूंगरपुर जिले के सोम बांध में पानी की आवक देखते हुये उसके दो और गेट खोल दिये गये है। बांध के सभी छह गेट खोल दिये जाने के कारण आसपास के क्षेत्रों में पानी भरने लगा है।

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के कारण मानसून का असर दक्षिणी पश्चिमी क्षेत्र से दक्षिण पूर्वी की ओर बनने की भविष्यवाणी करते हुये आगामी 48 घंटों में भारी बारिश की संभावना व्यक्त की है। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में अब तक सामान्य से कम हुयी बारिश वाले जयपुर, अलवर, कोटा, बूंदी, और हाडौती संभाग में अगले दो दिनो में भारी वर्षा हो सकती है।