BREAKING NEWS

ब्रह्मोस मिसाइल आपूर्ति : भारत ने ‘रक्षा उपकरण’ की बिक्री के लिए फिलिपीन के साथ समझौते पर किया हस्ताक्षर ◾TMC की शिकायत पर EC का आदेश, 72 घंटे में हटाएं PM मोदी की तस्वीर◾उमर ने भारत और पाकिस्तान के बीच संपर्क का किया स्वागत ◾असम में सहयोगी दलों के साथ सीटों के बंटवारे पर हुआ भाजपा का समझौता, घोषणा जल्द ◾जिस सीढ़ी पर चढ़कर ऊंचे मुकाम पर पहुंचे, क्या उसे गिराना सही: खुर्शीद ने समूह-23 के नेताओं से पूछा ◾भारत बायोटेक की COVAXIN का थर्ड फेज ट्रायल का रिजल्ट जारी ◾राजनीति से रहूंगी दूर, जयललिता के स्वर्णयुगीन शासन के लिए प्रार्थना करूंगी : शशिकला ◾ अखिलेश यादव बोले- पश्चिम बंगाल की जनता को भ्रमित कर रहे हैं योगी ◾इमरजेंसी वाले बयान पर जावड़ेकर का पलटवार,कहा- आरएसएस को समझने में बहुत समय लगेगा◾वैक्सीन सर्टिफिकेट पर छपी PM मोदी की फोटो पर TMC ने जताया ऐतराज, EC से की शिकायत ◾भारत बायोटेक की कोवैक्सिन के तीसरे चरण के ट्रायल नतीजे जारी, टीका 81 फीसदी तक प्रभावी◾कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए समयसीमा खत्म, अब चौबीसों घंटे लगवा सकते हैं टीका : हर्षवर्धन◾यौन उत्पीड़न के आरोपों में फंसने के बाद रमेश जारकिहोली ने दिया इस्तीफा, कही ये बात ◾एमसीडी उप चुनावों में AAP का जलवा, केजरीवाल बोले- जनता ने ‘काम के नाम’ पर किया मतदान ◾बॉलीवुड सितारों पर लटकी इनकम टैक्स की तलवार, अभिनेता और निर्माताओं के ठिकानों पर छापेमारी ◾SC ने खारिज की फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ याचिका, सरकार की राय से अलग विचार रखने वाला देशद्रोह नहीं◾वेबिनार के संबोधन में PM मोदी बोले- कई क्षेत्रों में प्रतिभावान युवाओं के लिये खुल रहे दरवाजे◾दिल्ली MCD उपचुनाव में नहीं चली मोदी लहर, AAP ने 5 वॉर्ड में से 4 पर किया कब्जा, 1 पर कांग्रेस ◾BJP सांसद के बेटे पर बदमाशों के हमले को लेकर पुलिस ने किया दावा- रिश्तेदार से खुद पर चलवाई गोली◾Covid-19 : पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना के 14989 नए मामलों की पुष्टि, 98 लोगों की मौत ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

हैदराबाद एनकाउंटर मामले में SC ने 3 सदस्यीय जांच आयोग का किया गठन

हैदराबाद एनकाउंटर मामले में सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को जांच के लिए तीन सदस्यीय न्यायिक आयोग का गठन किया है। मामले में सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस एसए बोवडे ने कहा कि लोगों को सच जानने का अधिकार है। हम इस मामले में निष्पक्ष जांच चाहते हैं। कोर्ट ने कहा की अगले आदेश तक कोई अन्य कोर्ट या प्राधिकरण इस मामले में पूछताछ नहीं करेगा।सुप्रीम कोर्ट ने तेलंगाना सरकार के इस तर्क को खारिज कर दिया कि मामले में पहले से ही जांच चल रही है। 

ऐसे में दो अलग-अलग जांच की जरूरत नहीं है। इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने आरोपियों की मेडिकल और फॉरेंसिक रिपोर्ट मांगी है। तेलंगाना पुलिस की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने कहा कि कोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट के मामले की जांच की निगरानी करने के लिए सेवानिवृत्त न्यायाधीश को पहले नियुक्त किया है और एक जज जांच नहीं कर सकते है। 

आईयूएमएल ने नागरिकता संशोधन विधेयक को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती

मुकुल रोहतगी ने कहा कि इस मामले में फिलहाल SIT की जांच चल रही है। इस पर कोर्ट ने सहमति जताते हुए कहा, राज्य सरकार ने जांच के लिए जो SIT का गठन किया है वो चलती रहेगी। उन्होंने ये भी कहा कि अगर जज को लगता है कि किसी पहलू की जांच नहीं हुई तो वो जांच अपने हिसाब से करवा सकते हैं। 

कोर्ट ने कहा कि अगर आप पुलिस वालों के खिलाफ क्रिमिनल ट्रायल चलाते है तो हम कोई आदेश नहीं जारी करेंगे, लेकिन अगर आप ऐसा नहीं करते तो हम जांच का आदेश देंगे। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने कहा की फाइनल ऑर्डर आने तक प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर रोक बरकरार रहेगी।