BREAKING NEWS

ED के कसते शिकंजे से बौखलाए आजम खान! कहा- ईडी या सीडी जो भी बुलाएगा जाएंगे और कुछ.......◾शिंदे ने संभाला कार्यभार, कार्यालय में बाल ठाकरे, दिघे की लगायी तस्वीर ◾लीना मणिमेकलाई का BJP-RSS पर हमला, कहा-हिंदुत्व कभी भारत नहीं बन सकता◾Bhagwant Maan Wedding : गुरप्रीत कौर संग हुई भगवंत मान की शादी, अरविंद केजरीवाल ने निभाई पिता की रस्में◾Maharashtra Political Crisis: ठाकरे को लगा बड़ा झटका... ठाणे नगर निगम के पार्षद शिंदे गुट में हुए शामिल ◾Nupur Sharma: बेपरवाह अंदाज में मुस्कुरा रहा चिश्ती..., पुलिस कस्टडी में दिखाया टशन, BJP हमलावर! ◾पश्चिम बंगाल : TMC नेता समेत 3 लोगों की हत्या, अंधाधुंध फायरिंग कर आरोपी फरार ◾जुबैर की याचिका पर SC में कल होगी सुनवाई, हाई कोर्ट के FIR रद्द नहीं करने के आदेश को दी है चुनौती◾Udaipur Murder Case: CCTV फुटेज आया सामने, हत्या के बाद गौस-रियाज ने की थी इस शख्स से मुलाकात ◾नूपुर शर्मा को धमकी देने वाले चिश्ती का हमदर्द बन रहे DSP पर गिरी गाज, हुए लाइन हाजिर ◾देश में कोरोना संक्रमण ने पकड़ी रफ़्तार, एक दिन में 19 हजार के करीब नए मामले दर्ज◾'काली' पोस्टर के बाद डायरेक्टर लीना ने किया नया Tweet, BJP बोली- यह जानबूझकर उकसावे का मामला◾PM मोदी आज वाराणसी में अखिल भारतीय शिक्षा समागम का करेंगे उद्घाटन ◾आज का राशिफल ( 07 जुलाई 2022)◾नकवी और आरसीपी सिंह ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से दिया इस्तीफा ; स्मृति ईरानी बनीं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री, सिंधिया को मिला इस्पात मंत्रालय◾एकनाथ शिंदे ने शरद पवार से मुलाकात का किया खंडन ◾दक्षिणी राज्यों की चार दिग्गज हस्तियां राज्यसभा के लिये मनोनीत◾देवी काली विवाद : Twitter ने निर्देशक का Tweet हटाया, महुआ मोइत्रा के खिलाफ FIR दर्ज◾PM मोदी 12 जुलाई को देवघर में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे, एम्स का करेंगे उद्घाटन ◾राष्ट्रपति ने नकवी और इस्पात मंत्री रामचंद्र प्रसाद सिंह के इस्तीफे को किया मंजूर◾

चंदा कोचर को SC ने दिया बड़ा झटका, बॉम्बे HC के फैसले के खिलाफ चुनौती वाली दायर याचिका खारिज

बंबई हाई कोर्ट ने आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी चंदा कोचर की उनके पद से हटाने के खिलाफ दायर याचिका को खारिज कर दिया था। अब सुप्रीम कोर्ट ने भी चंदा कोचर को एक बड़ा झटका दें दिया है, मंगलवार को आईसीआईसीआई की पूर्व सीईओ चंदा कोचर की उस याचिका को खारिज कर दिया जिसमें उन्होंने बैंक से उन्हें बर्खास्त करने के खिलाफ दायर अर्जी को बंबई हाई कोर्ट द्वारा खारिज किए जाने के फैसले को चुनौती दी थी।

सुप्रीम कोर्ट में न्यायमूर्ति संजय किशन कौल की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि हमें माफ कीजिए, हम हाई कोर्ट के आदेश में हस्तक्षेप करने को इच्छुक नहीं हैं। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यह मामला निजी बैंक और कर्मचारी के बीच का है। पीठ चंदा कोचर की अपील पर सुनवाई कर रही थी जिसमें उन्होंने बंबई हाई कोर्ट द्वारा 5 मार्च को दिए आदेश को चुनौती दी थी। हाई कोर्ट ने आईसीआईसीआई बैंक के प्रबंधक निदेशक और सीईओ पद से बर्खास्त करने के खिलाफ अर्जी खारिज कर दी थी और साथ ही कहा था कि यह विवाद कार्मिक सेवा की संविदा से उत्पन्न हुआ है।

इस साल मार्च में बंबई हाई कोर्ट ने आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी चंदा कोचर की उनके पद से हटाने के खिलाफ दायर याचिका को खारिज कर दिया था, जिसके बाद चंदा कोचर ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। हाई कोर्ट ने भी यही कहा कि कोचर से जुड़ा विवाद अनुबंध पर आधारित है और यह एक निजी संस्था का विषय है।दरअसल, चंदा कोचर को देश के दूसरे सबसे बड़े निजी क्षेत्र के बैंक से उनके बैंक को छोड़ने के कुछ महीनों बाद नौकरी से निकाल दिया गया था। अपने नौकरी से निकाले जाने के निर्णय को चुनौती देते हुए कोचर ने 30 नवंबर 2019 को हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। 

चंदा कोचर के वकील विक्रम नानकनी ने दलील दी थी कि बैंक ने कोचर के स्वैच्छिक इस्तीफे को 5 अक्टूबर 2018 को स्वीकार कर लिया था। इसलिए बाद में उन्हें नौकरी से निकाला जाना अवैध है। चंदा कोचर ने अपनी याचिका में यह भी कहा था कि बैंक ने उनका वेतन और अप्रैल 2009 से मार्च 2018 के बीच मिले बोनस और शेयर विकल्प आय को भी देने से मना कर दिया। कोचर पर आरोप है कि उन्होंने वीडियोकॉन समूह को अवैध तरीके से 3,250 करोड़ रुपये का ऋण देने में कथित भूमिका अदा की और इससे उनके पति दीपक कोचर को इससे लाभ हुआ।