BREAKING NEWS

कृषि विधेयकों के मुद्दे पर अकाली दल ने NDA से तोड़ा 22 साल पुराना गठबंधन◾PM मोदी ने श्रीलंका में अल्पसंख्यक तमिलों के लिये सत्ता में भागदारी की हिमायत की◾देश के हितों की रक्षा करने में अपने सशस्त्र बलों की क्षमता पर विश्वास करने की जरूरत है : जयशंकर ◾KKR vs SRH (IPL 2020) : केकेआर ने सनराइजर्स हैदराबाद को 7 विकेट से हराया◾देश में कोरोना वायरस का कहर जारी, संक्रमितों की संख्या 60 लाख के करीब पहुंची◾UN के मंच से पीएम मोदी की नसीहत, कोरोना महामारी से निपटने में संयुक्त राष्ट्र कहां है? ◾संयुक्त राष्ट्र के मंच से पीएम मोदी का संबोधन: UN की निर्णायक इकाई से भारत को आखिर कब तक दूर रखा जाएगा◾अमित शाह ने लद्दाख के जन प्रतिनिधियों से की मुलाकात◾ड्रग केस : श्रद्धा कपूर, सारा अली खान से एनसीबी की पूछताछ खत्म, किसी को नया समन नहीं भेजा गया ◾राहुल ने किया केंद्र से आग्रह : प्रस्तावित कृषि कानूनों को वापस ले सरकार, एमएसपी की गारंटी दे◾ड्रग्स केस : एनसीबी के सामने दीपिका पादुकोण ने कबूली ड्रग चैट की बात, पांच घंटे तक हुई पूछताछ ◾वैज्ञानिकों ने हर मुश्किल और सामने आई सभी चुनौतियों को अवसर में बदला है: हर्षवर्धन◾वीरेंद्र सहवाग ने CSK का उड़ाया मजाक, कहा - टीम के बल्लेबाजों को ग्लूकोज चढ़वाने की जरूरत ◾भारत ने श्रीलंका में अल्पसंख्यक तमिलों के लिये सत्ता में भागदारी की हिमायत की : विदेश मंत्रालय◾BJP की नई टीम का ऐलान, राम माधव सहित 4 महासचिव बदले, देखें पूरी लिस्ट◾कांग्रेस का तीखा वार : श्रम सुधार संबंधी संहिताएं मजूदर विरोधी, सरकार के ‘डीएनए में’ है निर्णय थोपना◾ड्रग केस : अभिनेत्री श्रद्धा कपूर और सारा अली खान पर एनसीबी ने दागे तीखे सवाल , पूछताछ जारी◾पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर राजौरी में LOC पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया ◾पीएम मोदी UNGA को आज करेंगे संबोधित, आतंकवाद समेत इन मुद्दों पर होगी चर्चा ◾मोदी सरकार द्वारा किसानों पर किए जा रहे अत्याचार के खिलाफ साथ मिलकर उठाएं आवाज : राहुल गांधी ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

शिवसेना ने केंद्र पर लगाया हिंदुओं-मुसलमानों का ‘अदृश्य विभाजन’ करने का आरोप

लोकसभा में नागरिकता (संशोधन) विधेयक (कैब) पेश किए जाने के मद्देनजर शिवसेना ने सवाल उठाए कि क्या हिंदू अवैध शरणार्थियों की ‘‘चुनिंदा स्वीकृति’’ देश में धार्मिक युद्ध छेड़ने का काम नहीं करेगी और उसने केंद्र पर विधेयक को लेकर हिंदुओं तथा मुस्लिमों का ‘‘अदृश्य विभाजन’’ करने का आरोप लगाया। 

उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी ने यह भी कहा कि विधेयक की आड़ में ‘‘वोट बैंक की राजनीति’’ करना देश के हित में नहीं है। पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ में एक संपादकीय में शिवसेना ने विधेयक के समय पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘‘भारत में अभी दिक्कतों की कमी नहीं है लेकिन फिर भी हम कैब जैसी नयी परेशानियों को बुलावा दे रहे हैं। 

ऐसा लगता है कि केंद्र ने विधेयक को लेकर हिंदुओं और मुस्लिमों का अदृश्य विभाजन किया है।’’ साथ ही शिवसेना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कुछ पड़ोसी देशों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की अपील की। शिवसेना ने सवाल किया, ‘‘यह सच है कि हिंदुओं के लिए हिंदुस्तान के अलावा कोई दूसरा देश नहीं है, लेकिन अवैध शरणार्थियों में से केवल हिंदुओं को स्वीकार करके देश में एक गृह युद्ध नहीं छिड़ जाएगा?’’ 

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का जन्मदिन आज, PM मोदी समेत कई नेताओं ने दी बधाई

उसने कहा, ‘‘अगर कोई नागरिकता (संशोधन) विधेयक की आड़ में वोट बैंक की राजनीति करने की कोशिश करता है तो यह देश के हित में नहीं है।’’ संपादकीय में कहा गया है, ‘‘पाकिस्तान की तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अन्य पड़ोसी देशों को भी कड़ा सबक सिखाना चाहिए जो हिंदू, सिख, ईसाई, पारसी और जैन समुदायों पर अत्याचार करते हैं।’’ शिवसेना ने कहा कि प्रधानमंत्री ने पहले ही दिखाया है कि कुछ चीजें ‘‘मुमकिन’’ हैं। 

उसने जम्मू कश्मीर में कश्मीरी पंडितों का ‘‘पुनर्वास न किए जाने’’ का लेकर भी भाजपा पर तीखा हमला किया। पार्टी ने कहा, ‘‘यह स्पष्ट नहीं है कि वे (पंडित) अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद भी जम्मू कश्मीर जाएंगे या नहीं। क्या केंद्र जम्मू कश्मीर में पड़ोसी देशों के अवैध शरणार्थियों को फिर से बसाएगा क्योंकि अब वह आधिकारिक रूप से देश के शेष हिस्से से जुड़ा हुआ है?’’