BREAKING NEWS

रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ PMLA मामला : प्रवासी कारोबारी थम्पी की हिरासत 4 दिनों के लिए बढ़ी ◾3-4 दिनों में मंत्रिमंडल का विस्तार होगा : बी एस येदियुरप्पा◾CAA के बाद देश से वापस लौटने वाले बांग्लादेशी प्रवासियों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है : BSF◾TOP 20 NEWS 24 January : आज की 20 सबसे बड़ी ◾विजयवर्गीय के पोहे वाले बयान पर जावड़ेकर बोले- मैं भी पोहा खाता हूं ◾मुख्यमंत्री केजरीवाल बोले- चुनाव काम के आधार पर लड़ा जाएगा, न कि जाति या धर्म के आधार पर◾कांग्रेस, आप ने वोट बैंक की राजनीति की, भाजपा जो कहती है, वह करती है : नड्डा ◾प्रधानमंत्री मोदी बोले- भारत सिर्फ 130 करोड़ लोगों का घर ही नहीं बल्कि एक जीवंत परंपरा है◾भारत ने न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराया, सीरीज में 1-0 से आगे ◾कोरोना वायरस : मुंबई में मिले दो संदिग्ध मरीज, कस्तूरबा अस्पताल में बनाया गया विशेष वार्ड◾महाराष्ट्र : राकांपा नेता नवाब मलिक बोले- मोदी सरकार ने पवार के दिल्ली स्थित आवास से सुरक्षा हटाई◾योग गुरु बाबा रामदेव बोले-महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर काम करे सरकार◾जेएनयू छात्रों को दिल्ली HC ने दी राहत, कहा- पुरानी फीस पर ही होगा छात्रों का रजिस्ट्रेशन◾दिल्ली विधानसभा चुनाव : कपिल मिश्रा के विवादित बयान पर सिसोदिया का पलटवार, कहा- जीतेगा तो भारत ही◾CM केजरीवाल ने शाह के बयान पर साधा निशाना, बोले- सिर्फ वाईफाई नहीं, बैटरी चार्जिग भी फ्री है◾पाकिस्तान वाले ट्वीट पर कपिल मिश्रा को EC का नोटिस, बोले-सच बोलना इस देश में अपराध नहीं◾BJP महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने खान-पान का तरीका देख मजदूरों को बताया बांग्लादेशी◾ उत्तर प्रदेश में CAA के खिलाफ अनोखा विरोध, कब्रिस्तान पहुंच कर पूर्वजों की कब्र पर रोने लगे कांग्रेसी नेता◾विधानसभा चुनाव : आज दिल्ली में 3 सार्वजनिक रैलियों को संबोधित करेंगे अमित शाह ◾चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 25 हुई, 830 मामलों की पुष्टि ◾

शिवसेना ने PM मोदी को दी सलाह, सुरक्षित एवं स्वच्छ यात्रा का सूत्र सीखे जापान से

शिवसेना ने सुरक्षित एवं स्वच्छ यात्रा का सूत्र जापान से सीखने की सलाह देते हुए ऐसे समय में बुलेट ट्रेन परियोजना की व्यवहार्यता पर आज सवाल उठाया जब ट्रेनों के पटरी से उतरने की मैराथन जारी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके जापानी समकक्ष शिंजो आबे ने अहमदाबाद और मुंबई के बीच भारत की पहली बुलेट ट्रेन परियोजना का कल शिलान्यास किया था। यह ट्रेन तीन घंटे से भी कम समय में 500 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करेगी।

शिवसेना ने ऐसे समय में इस परियोजना की व्यवहार्यता पर आशंका जताई है जब देश में हाल में कई रेल दुर्घटनाएं हुई हैं। पार्टी ने अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में लिखा, किसी को इस बात पर शक नहीं है कि यह भारतीय रेल की ओर से लापरवाही का सबसे शर्मनाक समय है। आजकल, बमुश्किल ही कोई ऐसा दिन गुजरता है जब कोई ट्रेन पटरी से नहीं उतरती। ऐसा लगता है जैसे ट्रेनों के बीच पटरी से उतरने की प्रतिस्पर्धा चल रही है।

\"\"

केंद्र एवं महाराष्ट्र में भाजपा की सहयोगी शिवसेना ने कहा, यहां तक कि रेल विभाग की सबसे प्रतिष्ठित ट्रेन राजधानी एक्सप्रेस भी पीछे नहीं रही। यह राष्ट्रीय राजधानी के निकट पटरी से उतर गई। देश के सबसे सुरक्षित रेल खंड में भारतीय रेलवे की सबसे प्रतिष्ठित रेल का पटरी से उतरना क्या गंभीर बात नहीं है? संपादकीय में कहा गया है कि जापान में वर्ष 1964 से 500 से 600 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बुलेट ट्रेन चल रही है। गति महत्वपूर्ण नहीं है लेकिन देखने वाली बात यह है कि इतनी तीव, गति के बावजूद कभी कोई रेल हादसा नहीं हुआ।

पार्टी ने कहा, यह जानना महत्वपूर्ण है कि जापान में बुलेट ट्रेन की सफाई सात मिनट के अंदर हो जाती है और ट्रेन की यात्रा में एक भी मिनट की देरी की जांच होती है। जापान की तुलना में यहां ट्रेनें रेंगती हैं और ट्रेनों के पटरी से उतरने की मैराथन के बावजूद कोई जवाबदेही तय नहीं है। शिवसेना ने कहा, हम रेल यात्रा में 100 प्रतिशत सुरक्षा सुनिश्चित करने की कला जापान से क्यों नहीं सीख सकते? क्या हम सुरक्षित एवं स्वच्छ यात्रा का उनका सूत्र नहीं सीख सकते? यदि भारत ने जापान से सुरक्षित रेल यात्रा की तकनीक सीखी होती तो देश को ज्यादा खुशी होती।

\"\"

इसमें कहा गया है कि यदि सरकार ने जापान ने रेल संचालन के गुर सीखे होते तो यात्री स्वयं को अधिक सुरक्षित महसूस करते। शिवसेना ने बुलेट ट्रेन परियोजना की आलोचना करते हुए कल कहा था कि यह परियोजना आम आदमी का नहीं, बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना है। शिवसेना ने यह भी जानना चाहा था कि क्या उच्च गति वाली अहमदाबाद-मुंबई ट्रेन परियोजना की वास्तव में देश को आवश्यकता है?

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय राजधानी में कल जम्मू तवी-नयी दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस का एक डिब्बा नयी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पटरी से उतर गया था। इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ था। इससे पहले सात सितंबर को जबलपुर जा रही शक्तिपुंज एक्सप्रेस के सात डिब्बे उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में पटरी से उतर गए थे। उसी दिन दिल्ली में मिंटो ब्रिज के पास रांची-दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस का इंजन और पावर कार पटरी से उतर गए थे। इस घटना में एक व्यक्ति घायल हो गया था। इसी दिन महाराष्ट्र के खंडाला में एक मालगाड़ी के दो डिब्बे पटरी से उतर गए थे।