BREAKING NEWS

केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही BJP, शिवसेना बोली- परब के खिलाफ ED की छापेमारी....◾सरकार ने वाहनों के थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के दामों में किया इजाफा, जानिए कब से लागू होंगे नए रेट ◾दिल्ली : CM केजरीवाल ने सरकारी खेल केंद्रों को रात 10 बजे तक खुला रखने का दिया निर्देश, जानिए क्यों लिया यह फैसला ◾Delhi Lieutenant Governor: विनय कुमार सक्सेना ने दिल्ली के नए उपराज्यपाल के रूप में शपथ ली◾पूरे हुए मोदी सरकार के 8 साल... जानें किन अहम बदलावों के लिए किया जाएगा प्रधानमंत्री को याद!◾UP Budget 2022 : योगी सरकार ने महिला सुरक्षा, रोजगार और मेट्रो के लिए की घोषणा, जानिए खास बातें ◾J&K : शूटिंग पर जाने से मना किया तो टीवी कलाकार को मारी गोली, आतंकियों की तलाश में जारी है सर्च ऑपेरशन◾डिंपल यादव नहीं... जयंत चौधरी होंगे राज्यसभा जाने वाले तीसरे उम्मीदवार, SP-RLD के संयुक्त प्रत्याशी ◾महाराष्ट्र : परिवहन मंत्री अनिल परब के घर ED ने मारा छापा, सौमेया बोले- कैबिनेट के तीसरे मंत्री जेल...... ◾World Corona: 52.7 करोड़ नए मामलों की हुई पुष्टि, जानें अब तक कितने लोगों ने गंवाई जान ◾India Covid Update : पिछले 24 घंटे में आए 2,628 नए केस, 18 मरीजों की हुई मौत ◾India Covid Update : पिछले 24 घंटे में आए 2,628 नए केस, 18 मरीजों की हुई मौत ◾अभ्यास बाद में करें खिलाड़ी, IAS अफसर को ट्रैक पर टहलाना है कुत्ता, जानिए क्या है मामला ◾योगी सरकार आज पेश करेगी अपने 2.O कार्यकाल का बजट, संकल्प पत्र में किए गए वादों पर रहेगा जोर ◾अफगानिस्तान : दो अलग-अलग विस्फोट में हुई 14 लोगों की मौत, ISIS ने ली हमले की जिम्मेदारी ◾J&K: कुपवाड़ा में सुरक्षाबलों ने ढेर किए LET के 3 आतंकी, 24 घंटे में 6 का हुआ सफाया ◾Yasin Malik News: टेरर फंडिंग मामले में यासीन मलिक को हुई उम्रकैद की सजा! 10 लाख का लगाया गया जुर्माना◾यासिन मलिक को उम्रकैद की सजा मिलने के बाद घाटी में मचा कोहराम! हिंसा की वजह से बंद हुआ इंटरनेट ◾ओडिशा में दुर्घटना को लेकर मोदी बोले- इस घटना से काफी दुखी हूं, जल्द स्वस्थ होने की करता हूं कामना◾वहीर पारा को जमानत मिलने पर महबूबा मुफ्ती बोलीं- मैं आशा करती हूं वह जल्द ही बाहर आ जाएंगे◾

सोनिया गांधी को कांग्रेस को पुनर्जीवित करने में ऊर्जा लगानी चाहिए, देश सुरक्षित हाथों में है : BJP

भारतीय जनता पार्टी ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस को देश की राजनीति में औचित्य बनाए रखने के लिए ‘‘आत्मचिंतन’’ करना चाहिए, न कि देश के बारे में ‘‘चिंतन’’ करना चाहिए क्योंकि देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों में सुरक्षित है।

भाजपा की यह प्रतिक्रिया ऐसे समय आई है जब कांग्रेस का राजस्थान में झीलों की नगरी कहे जाने वाले उदयपुर में तीन दिवसीय ‘‘चिंतन शिविर’’ शुरू हुआ।

सोनिया गांधी ने देश में ‘‘डर के माहौल’’ और ‘‘ध्रुवीकरण’’ को लेकर PM मोदी पर लगाया आरोप 

इस शिविर का उद्घाटन करने के बाद अपने संबोधन में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने देश में ‘‘डर के माहौल’’ और ‘‘ध्रुवीकरण’’ को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा प्रहार किया और आरोप लगाया कि उनके ‘न्यूनतम सरकार, अधिकतम शासन’ का मतलब कुछ और नहीं बल्कि अल्पसंख्यकों को प्रताड़ित करना एवं असल मुद्दों से ध्यान भटकाना है।

कांग्रेस और सोनिया गांधी पर पलटवार करते हुए भाजपा के मीडिया विभाग के राष्ट्रीय प्रभारी अनिल बलूनी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष को अपनी ऊर्जा अपनी पार्टी के भविष्य को संवारने में लगानी चाहिए।

प्रधानमंत्री मोदी के हाथों में सुरक्षित है - भाजपा नेता

उन्होंने कहा, ‘‘देश के बारे में ‘चिंतन’ करने की जगह कांग्रेस को अपने को फिर से खड़ा करने के बारे में ‘आत्मचिंतन’ करना चाहिए क्योंकि वह न सिर्फ वह आम जन से दूर हो चुकी है बल्कि सच्चाई यानी जमीनी हकीकत से भी दूर है।’’

भाजपा नेता ने कहा कि जहां तक देश का सवाल है तो वह प्रधानमंत्री मोदी के हाथों में सुरक्षित है।

बलूनी ने कहा कि देश की जनता को प्रधानमंत्री के नेतृत्व पर पूरा भरोसा है, जिनके अधीन भारत ने नयी ऊंचाइयों को छुआ है।

उन्होंने कहा, ‘‘लोगों ने खुलकर भाजपा का समर्थन किया है और चुनाव दर चुनाव उसे अपना समर्थन दिया है जबकि कांग्रेस हताश है और एक जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका कैसे निभाई जाती है, उसके बारे में वह दिशाहीन है।’’

इससे पहले, कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘यह स्पष्ट हो गया है कि प्रधानमंत्री और उनके साथियों की ओर से ‘न्यूनतम सरकार, अधिकतम शासन’ के जो नारे दिए जाते हैं उनका क्या मतलब है? इसका मतलब निरंतर ध्रुवीकरण और लोगों को डर एवं असुरक्षा के माहौल में रहने के लिए मजबूर करना है।’’

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘न्यूनतम सरकार, अधिकतम शासन’ का मतलब अल्पसंख्यकों को निशाना बनाने, उनका उत्पीड़न करने और अक्सर उन्हें कुचलने से है जो हमारे समाज का अभिन्न हिस्सा हैं और हमारे गणराज्य में बराबर के नागरिक हैं।’’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘सरकार के ‘न्यूनतम सरकार, अधिकतम शासन’ का मतलब हमारे समाज की पुरानी विविधता का उपयोग हमें बांटने के लिए करना है। मतलब राजनीतिक विरोधियों को डराना धमकाना, उन्हें बदनाम करना और सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग कर उन्हें जेल में डालना है।’’

बलूनी ने कहा कि कांग्रेस को पहले यह चिंतन करना चाहिए कि उसके शासन वाले राजस्थान में कानून व व्यवस्था की स्थिति इतनी बदतर क्यों है और क्यों दलितों व महिलाओं पर अत्याचार हो रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘देश प्रधानमंत्री के हाथों में पूरी तरह सुरक्षित है और प्रगति कर रहा है।’’