BREAKING NEWS

आज का राशिफल (03 फरवरी 2023)◾पाकिस्तान: PM शहबाज शरीफ ने कराची में परमाणु संयंत्र की तीसरी इकाई का उद्घाटन किया◾वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा- 'दिल्ली के LG पर गैरजिम्मेदाराना टिप्पणी करना उचित नहीं'◾यूपी: राम जन्मभूमि स्थल को बम से उड़ाने की 'धमकी', पुलिस सतर्क◾दिल्ली: HC का जेल अधिकारियों को निर्देश, PFI के पूर्व प्रमुख अबूबकर को प्रभावी इलाज कराया जाए उपलब्ध ◾CM योगी बोले- सप्तऋषि की तरह देश का मार्गदर्शन करेगा केंद्रीय बजट, यूपी को होगा विशेष लाभ◾महाराष्ट्र एटीएस ने PFI के पांच गिरफ्तार सदस्यों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया ◾CM केजरीवाल ने कहा- मेरी अंग्रेजी इतनी अच्छी नहीं है, जितनी अच्छी हमारे स्कूलों के बच्चे बोलते हैं◾बिहार : 'वीडियो बंद करिए न', खगड़िया में महिला हेल्थ ऑफिसर से फेस मसाज कराने का वीडियो वायरल, जानें पूरा मामला ◾स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा- अपमानजनक टिप्पणियों का दर्द केवल महिलाएं और शूद्र ही समझ सकते हैं◾उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट GNCTD संशोधन अधिनियम को खत्म कर देगा : मुख्यमंत्री केजरीवाल◾लश्कर के आतंकी के पास से पहली बार मिला 'Perfume Bomb', सरकारी स्कूल में पढ़ाता था आतंकी◾छत्तीसगढ़: CRPF ने नक्सल प्रभावित जिले में स्थापित किया शिविर◾बाल विवाह के खिलाफ असम में 4000 से ज्यादा मुकदमे, CM himant biswa लेंगे एक्शन◾रामचरितमानस विवाद: VHP की सपा व राजद की मान्यता रद्द करने की मांग, सीईसी से मिलने का समय मांगा◾कांग्रेस के नेतृत्व वाली विपक्षी दलों ने Adani group के मामले में JPC जांच की मांग की◾मनीष सिसोदिया ने कहा- LG वीके सक्सेना के दखल की वजह से दिल्ली सरकार शिक्षकों को प्रशिक्षण के लिए विदेश नहीं भेज पा रही◾पाकिस्तान में बलूचिस्तान के लासबेला में भूकंप के झटके महसूस किए गए◾बिहार में बड़ा रेल हादसा : दो हिस्सों में बटी सत्याग्रह एक्सप्रेस, बाल-बाल बचे यात्री◾अडानी पर हमलावर हुआ विपक्ष, पवन खेड़ा ने कहा- PM मोदी ने एक गुब्बारा फुलाया और वो फुस्स हो गया◾

राज्य कोविड-19 के क्लीनिकल उपचार में उपयोग होने वाली दवाओं का पर्याप्त भंडारण सुनिश्चित करें : केंद्र सरकार

केंद्र सरकार ने बृहस्पतिवार को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा कि कोविड-19 के क्लीनिकल उपचार में उपयोग होने वाली आठ महत्वपूर्ण दवाओं का पर्याप्त भंडारण सुनिश्चित करें और उन्हें सलाह दी कि मामलों में बढ़ोतरी की आशंका के मद्देनजर अस्पतालों की तैयारियों की समीक्षा करें।

स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से एक बयान में कहा

ओमीक्रोन स्वरूप के लिए जन स्वास्थ्य तैयारियों और टीकाकरण की प्रगति की वीडियो कांफ्रेंस से समीक्षा करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य सचिवों और एनएचएम के एमडी से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि सभी अस्पतालों में वेंटिलेटर, पीएसए संयंत्र और ऑक्सीजन सांद्रक सुचारू रूप से काम कर रहे हों। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया, ‘‘राज्यों को सूचित किया गया कि केंद्र द्वारा दिए गए कई वेंटिलेटरों की अभी तक पैकिंग नहीं खोली गई है और उनका इस्तेमाल नहीं किया गया है।

कोविड-19 और इसके स्वरूपों पर नियंत्रण के लिए पांच स्तरीय रणनीति

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बयान में कहा, ‘‘इसकी तुरंत समीक्षा करने की जरूरत है ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि सभी पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र, ऑक्सीजन सांद्रक और वेंटिलेटर लगाए जाएं और वे काम करें।’’ कोविड-19 और इसके स्वरूपों पर समय पर नियंत्रण करने के लिए पांच स्तरीय रणनीति बनाई गई है जिसमें जांच करना, पता लगाना, उपचार करना, टीकाकरण करना और कोविड उपयुक्त व्यवहार करना शामिल है। बयान में कहा गया कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा गया है कि जांच बढ़ाएं और निगरानी पर ध्यान दें ताकि संदिग्धों की जल्द पहचान हो सके और उन्हें अलग-थलग किया जा सके। 

अस्पतालों में सुविधाओं की तैयारियां सुनिश्चित

उन्हें सलाह दी गई कि सभी जिलों में आरटी-पीसीआर जांच की उपलब्धता सुनिश्चित करें। बयान में बताया गया कि ठंड के मौसम को देखते हुए उन्हें सलाह दी गई कि इन्फ्लुएंजा जैसी बीमारी, श्वसन संबंधी बीमारी पर नजर रखने की जरूरत है। मामलों में अगर बढ़ोतरी होती है तो सभी अस्पतालों में सुविधाओं की तैयारियां सुनिश्चित करने के लिए राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को सलाह दी गई कि वे गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के लिए तैयार रहें।