BREAKING NEWS

रॉबर्ट वाड्रा को कोर्ट से बड़ी राहत, मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए विदेश जाने की मिली अनुमति◾बीजेपी ने छह सीटें जीतने के साथ कर्नाटक विधानसभा में बहुमत किया हासिल ◾झारखंड में बोले राहुल- सत्ता में आने पर लोगों को जल, जंगल और जमीन लौटाया जाएगा◾कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश विभाजन किया जिसके कारण नागरिकता कानून में संशोधन की जरूरत पड़ी : अमित शाह◾अखिलेश यादव ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया भारत और संविधान का अपमान◾झारखंड में बोले PM मोदी- कांग्रेस कभी भी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरी◾गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में पेश किया नागरिकता संशोधन विधेयक◾शिवसेना नागरिकता संशोधन विधेयक का करेगी समर्थन: संजय राउत ◾हैदराबाद एनकाउंटर मामले पर बुधवार को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾कर्नाटक उपचुनाव : कांग्रेस नेता शिवकुमार ने मानी हार, बोले-लोगों ने दलबदलुओं को किया स्वीकार◾विभाजनकारी चालक के साथ कैब की सवारी है ‘कैब’ विधेयक: कपिल सिब्बल ◾शिवसेना ने केंद्र पर लगाया हिंदुओं-मुसलमानों का ‘अदृश्य विभाजन’ करने का आरोप◾कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का जन्मदिन आज, PM मोदी समेत कई नेताओं ने दी बधाई◾दिल्ली: अनाज मंडी में 24 घंटे बाद फिर लगी इमारत में आग, मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियां◾कर्नाटक उपचुनाव : येदियुरप्पा का दावा- भाजपा जीतेगी 15 में से 13 सीटें◾कर्नाटक उपचुनाव : मतगणना जारी, परिणाम तय करेंगे BJP का भविष्य ◾असम में नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ 16 संगठनों का मंगलवार को बंद का आह्वान ◾दिल्ली : आग की त्रासदी के बाद अस्पताल में भयावह दास्तां ◾दिल्ली अग्निकांड : दमकलकर्मी ने इमारत में फंसे 11 लोगों को बचाया ◾दिल्ली अग्निकांड : इमारत का पिछले हफ्ते हुआ था सर्वेक्षण, ऊपरी मंजिलों पर ताला लगा हुआ था - अधिकारिक सूत्र◾

देश

अनुच्छेद 370 हटाने के खिलाफ दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट आज करेगा सुनवाई

 superrme court

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के खिलाफ और कश्मीर में पत्रकारों पर प्रतिबंध लगाने पर केंद्र सरकार के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई करेगा। दरअसल, एक वकील की ओर से दायर याचिका में अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35 ए को लेकर जारी की गई अधिसूचना को असंवैधानिक बताया गया है।

पहली याचिका में एमएल शर्मा ने कहा कि सरकार ने अनुच्छेद  370 हटाकर मनमानी की है, उसने संसदीय रास्ता नहीं अपनाया, राष्ट्रपति का आदेश असंवैधानिक है। वहीँ, दूसरी याचिका में कश्मीर टाइम्स की एक्जीक्यूटिव एडिटर अनुराधा भसीन ने कहा कि अनुच्छेद 370 समाप्त होने के बाद पत्रकारों पर लगाए गए नियंत्रण खत्म किए जाएं। 

इन याचिका पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, एस अब्दुल नज़ीर और जस्टिस एस ए बोबड़े की बेंच पर सुनवाई करेंगे।  इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा था कि जम्मू-कश्मीर का मसला संवेदनशील है, इस पर केंद्र सरकार को थोड़ा समय देना होगा।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए गए इतने दिन हो गए हैं लेकिन अभी भी वहां पर धारा 144 लागू है। जिस कारण से स्कूल-कॉलेज, इंटरनेट, मोबाइल कॉलिंग आदि सेवाएं बंद है। साथ ही टीवी-केबिल पर भी रोक लगी हुई है। इसी बीच पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती, सज्जाद लोन समेत मर अब्दुल्ला को नज़रबंद किया गया है। बता दें कि मोदी सरकार ने जब अनुच्छेद 370 पर फैसला लिया। तभी से इस फैसले पर कांग्रेस समेत विपक्ष की कुछ पार्टियों ने सवाल खड़े किये हैं।

पहलू खान मामले में सभी आरोपी बरी, प्रियंका गांधी ने बताया चौंकाने वाला फैसला