BREAKING NEWS

झारखंड : डायन बताकर एक ही परिवार की तीन महिलाओं को जबरन मैला खिलाया, गर्म सलाखों से दागा◾मुख्यमंत्री बनने की महत्वाकांक्षा को लेकर बेनकाब हुई कांग्रेस : BJP◾बिहार के कृषि मंत्री का विवादित बयान, अधिकारी को जूता से मारने की दी सलाह ◾गहलोत गुट के विधायकों पर फूटा अजय माकन का गुस्सा, कहा - वो तोड़ रहे अनुशासन◾'सत्यमेव जयते, नए युग की तैयारी', राजस्थान में लगे सचिन पायलट के पोस्टर◾Delhi Yamuna River : द‍िल्‍ली में यमुना नदी का जलस्‍तर चेतावनी के स्तर से पार, आगे और बढ़ने की संभावना◾उत्तर प्रदेश : पिटबुल Attack के बाद बढ़े आवारा कुत्तों के हमले, 6 लोगों को बनाया शिकार◾दिल्ली में मासूम बच्चे से दरिंदगी, दुष्कर्म के बाद प्राइवेट पार्ट में डाली रॉड ◾अरविंद केजरीवाल का गुजरात में बड़ा ऐलान, संविदा कर्मियों को नियमित करने का किया वादा◾जनता की सेवा नहीं करना चाहती... सिर्फ सत्ता का सुख भोगना चाहती है कांग्रेस : अनुराग ठाकुर◾हिमाचल प्रदेश : कुल्लू में खाई में गिरा ट्रैवलर, 7 लोगों की मौत, PM मोदी ने जताया दुख◾गहलोत गुट के विधायकों के तेवर से नाराज हुई सोनिया गांधी, सीएम के इन समर्थकों पर होगी कार्रवाई◾दिल्ली : कई दिनों से हो रही बारिश के चलते अब कुछ जगहों पर पड़ने लगा है कोहरा ◾देशभर में शारदीय नवरात्रों की धूम, वैष्णो देवी मंदिर में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़◾'आप किसी को बेवकूफ नहीं बना रहे हैं ...', अमेरिका पर भड़के विदेश मंत्री जयशंकर◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटो में कोरोना के 4,129 नए मामले दर्ज़, 20 लोगों की मौत ◾राजस्थान में सियासी हलचल तेज, गहलोत गुट के विधायकों ने पार्टी आलाकमान के सामने रखी तीन शर्त◾आज का राशिफल (26 सितंबर 2022)◾राजस्थानः 80 से ज्यादा विधायकों का इस्तीफा, गिर जाएगी गहलोत की सरकार? समझें पूरा गेमप्लान◾Election 2024: विपक्षी एकता की राह में कांग्रेस बनेगी रोड़ा? KCR और ममता बनर्जी का नहीं मिल रहा साथ◾

LAC पर तनाव घटाने के लिए भारत और चीनी के बीच आज होगी 7वें दौर की अहम बैठक

भारत और चीनी सेना के प्रतिनिधि आज पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तनाव कम करने के मुद्दे पर बातचीत करेंगे। दोनों देशों की सेनाओं के बीच कोर कमांडर स्तर पर ये सातवें दौर की बातचीत होगी। भारत की ओर से लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह, जो कोर कमांडर के रूप में अपना कार्यकाल समाप्त कर रहे हैं, और उनके उत्तराधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल पी.जी.के. मेनन बातचीत का नेतृत्व करेंगे। 

विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव नवीन श्रीवास्तव भी बातचीत में हिस्सा लेंगे। सूत्रों के मुताबिक, पिछले महीने तनाव में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई, लेकिन कमी की भी कोई खबर नहीं है। विवादित भारत-चीन सीमा पर महत्वपूर्ण पर्वत चोटियों और दरे पर तापमान शून्य से 20 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया है, जिससे इस क्षेत्र में दोनों ओर से जमा हजारों सैनिकों के सामने एक नई चुनौती पैदा हो गई है। 

30 अगस्त को, भारत ने रेचन ला, रेजांग ला, मुकर्पी, और टेबलटॉप जैसी महत्वपूर्ण पर्वत ऊंचाइयों पर कब्जा कर लिया था। पैंगोंग झील के दक्षिणी तट पर स्थित ये क्षेत्र अभी तक मानव रहित थे। भारत ने ब्लैकटॉप के पास भी कुछ तैनाती की है। चीन के उकसाने वाले सैन्य कदम उठाने की कोशिश के बाद भारत ने ये तैनाती की है। 

अब, इन 13 चोटियों पर भारत के नियंत्रण से चीनी सेना पर नजर रखना आसान हो गया है। पिछली कोर कमांडर स्तर की वार्ता के दौरान, चीन ने जोर देकर कहा था कि भारत इन सामरिक रूप से महत्वपूर्ण ऊंचाइयों को खाली करे। चीन ने भारत से कहा था कि वह पूर्वी लद्दाख में सैन्य ताकत कम करने पर चर्चा नहीं करेगा, जहां दोनों पक्षों की तैनाती ने पिछले चार महीनों में युद्ध जैसी स्थिति पैदा कर दी है। 

वरिष्ठ भारतीय और चीनी कमांडरों ने 21 सितंबर को सैन्य कमांडर-स्तर की बैठक के छठे दौर का आयोजन किया था। चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) इस बात पर अडिग है कि पैंगोंग झील के दक्षिणी तट की स्थिति को भारत पहले सुलझाए। यहां भारतीय सैनिक अच्छी स्थिति में हैं। लेकिन भारत चाहता है कि लद्दाख में गतिरोध (तनाव) तनाव कम करने के लिए एक रोडमैप तैयार हो। 

बता दें कि भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा पर पिछले छह महीने से गतिरोध बरकरार है। कई स्तरों के संवाद के बावजूद कोई सफलता नहीं मिली और गतिरोध जारी है।