BREAKING NEWS

मुख्यमंत्री गहलोत ने मोदी सरकार पर लगाया आरोप, कहा- केंद्रीय एजेंसियों का कर रही है इस्तेमाल ◾CM ममता ने भाषण देने से किया इनकार, PM मोदी बोले- कोलकाता आकर भावुक महसूस कर रहा हूं ◾विक्टोरिया मेमोरियल में नेताजी की जयंती पर ‘पराक्रम दिवस’ समारोह, PM मोदी और CM ममता मौजूद◾जम्मू-कश्मीर : पाक की एक और साजिश नाकाम, बीएसएफ और इंटेलिजेंस ने खोजी भूमिगत सुंरग ◾भारत जैसे बड़े देश में होनी चाहिए 4 राजधानी, इतिहास बदलने की कोशिश में केंद्र : CM ममता◾राहुल ने तमिलनाडु में चुनाव अभियान का किया आगाज, कहा- जनता से जुड़ी हर चीज को बेच रहे हैं PM मोदी ◾LAC विवाद सुलझाने को लेकर भारत व चीन के बीच जल्द होगी नौंवें दौर की कॉर्प्स कमांडर स्तर की बैठक◾पीएम मोदी की अपील- अपना नम्बर आने पर जरूर लगवाएं कोरोना वैक्सीन, विपक्ष के लिए कही ये बात ◾ट्रैक्टर परेड षडयंत्र मामले में संदिग्ध युवक पर बोले टिकैत- 'प्रशासन और सरकार ही करवाते हैं इस तरह की हरकत' ◾LAC तनाव : भारत का सख्त संदेश- जब तक चीन नहीं हटाएगा सैनिक, तब तक डटे रहेंगे भारतीय जवान◾असम : पीएम मोदी ने भूमिहीन मूल निवासियों के लिए भूमि पट्टा वितरण अभियान की शुरुआत की◾गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड पर निर्णय आज, करीब 30 किलोमीटर के हो सकते हैं 3 रूट ◾भारत में एक दिन में कोरोना के 14256 नए मामलों की पुष्टि, एक्टिव केस 1 लाख 85 हजार से अधिक ◾दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, महामारी से मरने वालों का आंकड़ा 21 लाख से पार ◾असम विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए PM मोदी और अमित शाह आज राज्य का करेंगे दौरा ◾TOP 5 NEWS 23 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती आज, पीएम मोदी और अमित शाह ने किया नमन ◾सिंघु बॉर्डर से पकड़ा गया संदिग्ध, किसानों ने साजिश रचे जाने का आरोप लगाया◾आज का राशिफल (23 जनवरी 2021)◾अयोध्या में राम जन्मभूमि पर मंदिर का निर्माण कार्य फिर शुरू ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

अभयारण्यों के जीव तक टैंकर के पानी पर निर्भर

जगदलपुर : छत्तीसगढ़ का इंद्रावती राष्ट्रीय उद्यान और पामेड़ अभयारण्य में कम वर्षा और भीषण गर्मी के कारण जलसंकट उत्पन्न हो गया है। परिस्थितियों से निपटने के लिए विभाग वन्यप्राणियों के लिए जलस्रोतों में बोरिंग और टैंकरों से पानी भरवा रहा है।

बताया जा रहा है कि पानी की तलाश में अधिकांश वन्यप्राणी राष्ट्रीय उद्यान में उत्तर में बहने वाली इंद्रावती नदी की तरफ चले गए हैं। अवैध शिकार से इन जीवों को बचाने के लिए विभाग भी मुस्तैद हो गया है। इधर कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान व भैरमगढ़ अभयारण्य में फिलहाल स्थिति ठीक है।

बस्तर संभाग में दो राष्ट्रीय उद्यान और अभयारण्य हैं। यहां विचरण करने वाले वन्यप्राणियों के लिए कुल 186 प्राकृतिक जलस्रोत हैं। इनके अलावा इंद्रावती टाइगर रिजर्व विभाग की ओर से कोर व बफर इलाके में दर्जनों कृत्रिम जलस्रोत के रूप में तालाब व चेकडैम बनवाए गए हैं।

वहीं कई हैंडपंप भी लगवाए गए हैं। बावजूद इसके, इंद्रावती राष्ट्रीय उद्यान के कोर एरिया में और पामेड़ अभयारण्य में वन्यप्राणियों के अधिकांश जलस्रोत सूख गए हैं। इंद्रावती टाइगर रिजर्व के कोर व बफर एरिया और पामेड़ व भैरमगढ़ अभयारण्य में कुल 144 और कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान में 42 प्राकृतिक जलस्रोत हैं,

लेकिन टाइगर प्रोजेक्ट रिजर्व एरिया के 75 से अधिक जलस्रोत सूख गए हैं, इसलिए इंद्रावती राष्ट्रीय उद्यान के एक लाख 20 हजार हेक्टयेर कोर एरिया और पामेड़ अभयारण्य के 45 हजार हेक्टेयर में विचरण करने वाले वन्यप्राणियों के सामने जलसंकट उत्पन्न हो गया है।

विभाग की तत्परता के चलते जलसंकट के कारण किसी वन्यप्राणी की मौत की खबर नहीं है। पानी की तलाश में कुछ वन्यप्राणी कोर एरिया के पश्चिमी इलाके और पासेवाड़ा व सेंड्रा की तरफ चले गए हैं। कुटरू और फरसेगढ़ इलाके में भी जलसंकट है।

सीसीएफ (वन्यप्राणी) श्रीनिवास राव ने कहा कि इंद्रावती टाइगर रिजर्व के कोर व बफर एरिया और पामेड़ अभयारण्य में विभाग की ओर से खुदवाए गए तालाबों व अन्य जलस्रोतों में टैंकरों व हैंडपंपों से पानी भरा जा रहा है। जलसंकट है, लेकिन समस्या गंभीर नहीं है। स्थान परिवर्तन करने वाले वन्यप्राणियों पर सूक्ष्मता से निगरानी की जा रही है। जंगलों में लगाए गए विशेष कैमरों से भी प्राणियों पर नजर रखी जा रही है।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।