BREAKING NEWS

LIVE : संजय राउत को अस्पताल से मिली छुट्टी, कहा- महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री तो शिवसेना का ही होगा◾शिवसेना का BJP पर तीखा वार, कहा-सरकार गठन को लेकर जारी गतिरोध का आनंद उठा रही है पार्टी◾कर्नाटक के 17 विधायक अयोग्य, लेकिन लड़ सकते हैं चुनाव : SC◾महाराष्ट्र : राज्यपाल के फैसले को SC में चुनौती देने वाली याचिका का उल्लेख नहीं करेगी शिवसेना◾लगातार 5 दिन से बढ़ते पेट्रोल के दाम पर लगा ब्रेक, डीजल के दाम भी स्थिर ◾महाराष्ट्र : शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस का नहीं हुआ गठबंधन, अब ऑपरेशन लोटस की तैयारी में BJP◾दिल्ली-NCR में सांस लेना हुआ दूभर, गंभीर श्रेणी में पहुंची हवा◾राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी ने गुरु नानक जयंती की दी शुभकामनाएं◾भारत को गुजरात में बदलने के प्रयास : तृणमूल कांग्रेस सांसद ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने डच समकक्ष के साथ विभिन्न विषयों पर चर्चा की ◾महाराष्ट्र गतिरोध : राकांपा नेता अजित पवार राज्यपाल से मिलेंगे ◾महाराष्ट्र : शिवसेना का समर्थन करना है या नहीं, इस पर राकांपा से और बात करेगी कांग्रेस ◾महाराष्ट्र : राज्यपाल ने दिया शिवसेना को झटका, और वक्त देने से किया इनकार◾CM गहलोत, CM बघेल ने रिसॉर्ट पहुंचकर महाराष्ट्र के नवनिर्वाचित विधायकों से मुलाकात की ◾दोडामार्ग जमीन सौदे को लेकर आरोपों पर स्थिति स्पष्ट करें गोवा CM : दिग्विजय सिंह ◾सरकार गठन फैसले से पहले शिवसेना सांसद संजय राउत की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती◾महाराष्ट्र: सरकार गठन में उद्धव ठाकरे को सबसे बड़ी परीक्षा का करना पड़ेगा सामना !◾महाराष्ट्र गतिरोध: उद्धव ठाकरे ने शरद पवार से की मुलाकात, सरकार गठन के लिए NCP का मांगा समर्थन ◾अरविंद सावंत ने दिया इस्तीफा, बोले- महाराष्ट्र में नई सरकार और नया गठबंधन बनेगा◾महाराष्ट्र में सरकार गठन पर बोले नवाब मलिक- कांग्रेस के साथ सहमति बना कर ही NCP लेगी फैसला◾

देश

SIT की चार्जशीट में हुआ बड़ा खुलासा, हनीप्रीत ने पंचकूला में दंगे फैलाने की बात कबूली

हरियाणा पुलिस ने हनीप्रीत के खिलाफ पंचकूला की विशेष अदालत में 1200 पन्नों की चार्जशीट दाखिल की है। बता दे की SIT टीम ने सीजेएम रोहित वॉट्स की कोर्ट में हनीप्रीत के खिलाफ चार्जशीट पेश की। जिसमें हनीप्रीत के पंचकूला हिंसा में हाथ होने की बात कबूली है। डेरा मामले में अहम कड़ी हनीप्रीत अंबाला जेल से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पेश हुई।

SIT ने जाच पड़ताल के बाद कोर्ट में हनीप्रीत के खिलाफ चार्जशीट दायर की है। रिपोर्ट में बताया गया है कि 9 दिनों के रिमांड में हनीप्रीत ने दंगों में उसका हाथ होने की बात कबूली थी। इस चार्जशीट में पुलिस ने राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसा समेत 15 अन्य लोगों को हिंसा की घटना के लिए आरोपी बनाया है।

एसआईटी ने जाच पड़ताल के बाद कोर्ट में हनीप्रीत के खिलाफ चार्जशीट दायर की है। रिपोर्ट में बताया गया है कि 9 दिनों के रिमांड में हनीप्रीत ने दंगों में उसका हाथ होने की बात कबूली थी। इसके अलावा पुलिस को हनीप्रीत से मोबाइल ,लैपटॉप, डायरी और कई अहम दस्तावेज मिले थे।

आपको बता दे की पंचकुला की विशेष अदालत में हरियाणा पुलिस की एसआईटी ने हनीप्रीत के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल करते हुए गंभीर आरोप लगाए हैं। इस आरोप पत्र के तीन पन्नों में गुरमीत राम रहीम और डेरा सच्चा सौदा के 6 सुरक्षाकर्मियों का जिक्र है। इस मामले में कुल 67 चश्मदीद शामिल हैं। साथ ही विशेष अदालत ने इस मामले के एक अन्य आरोपी सुरेंद्र धीमान की जमानत अर्जी भी खारिज कर दी। धीमान के वकील ने अदालत में इस बात का हवाला दिया कि पुलिस 90 दिनों तक भी धीमान के खिलाफ चार्जशीट दाखिल नहीं कर पाई थी। हालांकि अदालत ने धीमान के वकील की इस दलील को खारिज कर दिया और उसे जमानत देने से इनकार कर दिया। गौरतलब है कि पुलिस ने हनीप्रीत समेत 15 लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 121, 121A, 216, 145, 150, 151, 152, 153 और 120B के तहत केस बनाया है।

इस मामले में कुल 67 चश्मदीद शामिल हैं। साथ ही विशेष अदालत ने इस मामले के एक अन्य आरोपी सुरेन्दर धीमान की जमानत अर्जी भी खारिज कर दी। सुरेन्दर के वकील ने अदालत में इस बात का हवाला दिया कि पुलिस 90 दिनों तक भी धीमान के खिलाफ चार्जशीट दाखिल नहीं कर पाई थी। हालांकि अदालत ने धीमान के वकील की इस दलील को खारिज कर दिया और उसे जमानत देने से इनकार कर दिया।

पुलिस अब तक डेरे से जुड़े कुल 155 केसों में से 150 में चालान पेश कर चुकी है। 5 मामलों में 15 से 20 आरोपियों की गिरफ्तारियां बाकी हैं। पंचकूला पुलिस की 9 एसआइटी ने 155 एफआइआर पर जांच शुरू की थी। गाडिय़ों को आग लगाने के मामलों में अलग-अलग 50 से ज्यादा चालान हैं। एक केस में 15 से लेकर 100 लोगों तक को आरोपी बनाया गया है। इन मामलों में अफसर, ड्यूटी मजिस्ट्रेट और पुलिस को गवाह बनाया गया है।

हनीप्रीत पर राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के दिन पंचकूला में हिंसा फैलाने और राम रहीम को पुलिस कस्टडी से छुड़ाने की साजिश रचने का आरोप है। पंचकूला में हिंसा के बाद हनीप्रीत फरार हो गई थी। 38 दिन की फरारी के बाद पुलिस ने हनीप्रीत को गिरफ्तार कर लिया था। फिलहाल हनीप्रीत अंबाला सेंट्रल जेल में बंद हैं।