BREAKING NEWS

संयुक्त किसान मोर्चा ने सरकार का प्रस्ताव किया खारिज, किसान अपनी मांगों पर अड़े◾मुख्यमंत्री केजरीवाल का आदेश, कहा- झुग्गी झोपड़ी में रहने वालों को जल्दी से जल्दी फ्लैट आवंटित किए जाएं ◾ममता की बढ़ी चिंता, मौलाना अब्बास सिद्दीकी ने बंगाल में बनाई नई राजनीतिक पार्टी, सभी सीटों पर लड़ सकती है चुनाव ◾सीरम इंस्टीट्यूट में भीषण आग से 5 मजदूरों की मौत, CM ठाकरे ने दिए जांच के आदेश◾चुनाव से पहले TMC को झटके पर झटका, रविंद्र नाथ भट्टाचार्य के बेटे BJP में होंगे शामिल◾रोज नए जुमले और जुल्म बंद कर सीधे-सीधे कृषि विरोधी कानून रद्द करे सरकार : राहुल गांधी ◾पुणे : दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता में से एक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में लगी आग◾अरुणाचल प्रदेश में गांव बनाने की रिपोर्ट पर चीन ने तोड़ी चुप्पी, कहा- ‘हमारे अपने क्षेत्र’ में निर्माण गतिविधियां सामान्य ◾चुनाव से पहले बंगाल में फिर उठा रोहिंग्या मुद्दा, दिलीप घोष ने की केंद्रीय बलों के तैनाती की मांग◾ट्रैक्टर रैली पर किसान और पुलिस की बैठक बेनतीजा, रिंग रोड पर परेड निकालने पर अड़े अन्नदाता ◾डेजर्ट नाइट-21 : भारत और फ्रांस के बीच युद्धाभ्यास, CDS बिपिन रावत आज भरेंगे राफेल में उड़ान◾किसानों का प्रदर्शन 57वें दिन जारी, आंदोलनकारी बोले- बैकफुट पर जा रही है सरकार, रद्द होना चाहिए कानून ◾कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में प्रधानमंत्री मोदी और सभी मुख्यमंत्रियों को लगेगा टीका◾दिल्ली में अगले दो दिन में बढ़ सकता है न्यूनतम तापमान, तेज हवा चलने से वायु गुणवत्ता में सुधार का अनुमान ◾देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 15223 नए केस, 19965 मरीज हुए ठीक◾TOP 5 NEWS 21 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾विश्व में आखिर कब थमेगा कोरोना का कहर, मरीजों का आंकड़ा 9.68 करोड़ हुआ ◾राहुल गांधी ने जो बाइडन को दी शुभकामनाएं, बोले- लोकतंत्र का नया अध्याय शुरू हो रहा है◾कांग्रेस ने मोदी पर साधा निशाना, कहा-‘काले कानूनों’ को खत्म क्यों नहीं करते प्रधानमंत्री◾जो बाइडन के शपथ लेने के बाद चीन ने ट्रंप को दिया झटका, प्रशासन के 30 अधिकारियों पर लगायी पाबंदी ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

भाजपा की सोच राष्ट्रवादी है, पर आप की अलगाववादी

चंडीगढ़ : पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता व आम आदमी पार्टी के भुल्तथ से विधायक सुखपाल सिंह खैहरा ने लुधियाना में पास्टर सुल्तान मसीह की हत्या के पीछे आर.एस.एस., विश्व हिन्दू परिषद व भाजपा का हाथ हो सकने के जो आरोप लगाए हैं, वह तथ्य विहीन और बेबुनियादी आरोप है तथा जिसकी हम सख्त शब्दों में निंदा करते हैं। यह कहना है भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष हरजीत सिंह ग्रेवाल व प्रदेश सचिव विनीत जोशी का जो कि आज चंडीगढ़ में पत्रकार वार्ता कर आम आदमी पार्टी के आरोपों का जवाब दे रहे थे।

उन्होंने कहा कि भाजपा की सोच राष्ट्रवादी है, पर आम आदमी पार्टी की सोच अलगाववादी है। नवनिर्वाचित विपक्ष के नेता सुखपाल खैहरा द्वारा मास्टर मसीह की हत्या का आरोप आर.एस.एस., वी.एच.पी. व भाजपा पर लगाकर स्वयं अपना मजाक उड़वाया है। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ सभी धर्मों का सम्मान करने वाला एक राष्ट्रीय संगठन है जिसके नेताओं ने देश के लिए कई शहादतें दी हैं। ताजा उदाहरण आर.एस.एस. पंजाब प्रांत के सह-प्रांत संघचालक जगदीश गगनेजा पिछले साल शहीद होना है।

हैरानी की बात है कि चाहे जगदीश गगनेजा की हत्या हो, चाहे माता चंद कौर की, चाहे अमित शर्मा की, चाहे दुर्गा गुप्ता, चाहे सतपाल व रमेश की तथा अंत में 15 जुलाई को पादरी सुल्तान मसीह की, इन सभी में एक तरीके से ही कार्रवाई को अंजाम दिया गया। इस पृष्ठ भूमि में खैहरा द्वारा इस तरह के आरोप लगाना दिमागी दीवालियापन का निशाना है। ग्रेवाल व जोशी ने खैहरा को चुनौती देते हुए कहा कि या तो पास्टर मसीह की हत्या में आर.एस.एस., वीएचपी व भाजपा का हाथ होने के तथ्य पुलिस को दें या फिर माफी मांगे। ग्रेवाल व जोशी ने खैहरा को याद करवाया कि आर.एस.एस. व भाजपा का इतिहास शहादतों का रहा है और अगर हम सिर्फ पंजाब की बात करें, तो लुधियाना के पास मोगा में 25 जून 1989 को उग्रवादियों द्वारा आर.एस.एस. की शाखा पर किए गए हमले में 27 स्वयंसेवक शहीद हो गए थे।

इसी तरह भाजपा पंजाब के सैंकड़ों नेताओं व कार्यकर्ताओं ने शहादत दी है, जिसमें पंजाब भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बाबू हित्ताभिलाषी, पटियाला से शंभू प्रसाद, अमृतसर से हरबंस लाल खन्ना, कादियां से रामप्रकाश प्रभाकर, जैतों से गुरबचन सिंह पतंगा व डा. धर्मवीर सिंह भाटिया, लुधियाना के खुशीराम शर्मा, प्रकाश चंद दुआ व तरसेम सिंह बहार प्रमुख हैं व इसके अलावा भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष स्व. डा. बलदेव प्रकाश व वर्तमान में भाजपा के राष्ट्रीय परिषद के सदस्य डा. बलदेव चावला पर कई आतंकी हमले हुए।

- अनूप कुमार