BREAKING NEWS

तृणमूल के विधायक, कई पार्षदों ने थामा BJP का दामन◾‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ पर बुधवार सुबह निर्णय लेंगे कांग्रेस और सहयोगी दल ◾अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में कांग्रेस के बने नेता◾स्पीकर के चुनाव में बिड़ला का समर्थन करेगा UPA, ''एक राष्ट्र, एक चुनाव'' पर अभी निर्णय नहीं ◾बजट से पहले मोदी के साथ महत्वपूर्ण विभागों के सचिवों की बैठक ◾J&K : पुलवामा में पुलिस थाने पर ग्रेनेड हमला, 5 घायल, 2 की हालत गंभीर◾PM मोदी ने 19 जून को बुलाई सर्वदलीय बैठक, 'एक राष्ट्र एक चुनाव' पर करेंगे चर्चा◾मेरठ : गमगीन माहौल में हुआ शहीद मेजर का अंतिम संस्कार, अंतिम दर्शन को उमड़ा जनसैलाब ◾WORLD CUP 2019, ENG VS AFG : इंग्लैंड ने अफगानिस्तान के खिलाफ रिकार्डों की झड़ी लगाई ◾विपक्ष ने महाराष्ट्र के वित्त मंत्री के ट्विटर हैंडल पर बजट लीक को लेकर की सरकार आलोचना की◾Top 20 News - 18 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾बिहार के CM नीतीश ने एईएस पीड़ित बच्चों को लेकर दिए आवश्यक निर्देश ◾लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए NDA उम्मीदवार ओम बिड़ला को मिला BJD का समर्थन ◾मेरठ पहुंचा शहीद मेजर का पार्थिव शरीर, झलक पाने को उमड़ी भारी भीड़ ◾2005 अयोध्या आतंकी हमले में 4 आरोपियों को उम्रकैद, एक बरी◾सोनिया गांधी, हेमा मालिनी और मेनका गांधी ने ली लोकसभा सदस्यता की शपथ ◾रक्षा मंत्री राजनाथ ने मेजर केतन को दी श्रद्धांजलि ◾बीजेपी सांसद ओम बिड़ला ने लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए पर्चा भरा◾पश्चिम बंगाल : हड़ताल खत्म कर काम पर लौटे डॉक्टर , अस्पताल में सामान्य सेवाएं बहाल ◾व्हील चेयर पर लोकसभा में पहुंचे मुलायम, निर्धारित क्रम से पहले ली शपथ ◾

देश

2019 के जनादेश ने लोकतंत्र को परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण के नासूरों से निकाला : शाह

लोकसभा चुनाव परिणाम को ऐतिहासिक करार देते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कहा कि देश के लोकतंत्र को ‘परिवारवाद’, ‘जातिवाद’ और ‘तुष्टीकरण’- इन तीन नासूरों ने डसा हुआ था और 2019 के जनादेश ने इन नासूरों को राजनीति से बाहर निकाल दिया है । 

संसद के केंद्रीय कक्ष में भाजपा एवं राजग के घटक दलों के सांसदों एवं नेताओं को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ‘‘ 60 के दशक के बाद इस देश के लोकतंत्र को ‘परिवारवाद’, ‘जातिवाद’ और ‘तुष्टीकरण’- इन तीन नासूरों ने डसा हुआ था। हर जनादेश कहीं न कहीं परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण की राजनीति से ग्रसित था।’’ 

उन्होंने कहा कि 2019 के जनादेश ने परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण को राजनीति से बाहर निकाल दिया है। शाह ने कहा कि ये प्रचंड जनादेश जो हमें मिला है वह ऐतिहासिक जनादेश है। भाजपा के 303 सांसद चुनकर आना और एनडीए के 353 सांसद चुनकर आना, जनता का अपार समर्थन दर्शाता है। 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि चुनाव अभियान के समय कई सवाल उठाए जाते थे, लेकिन हमारे सभी साथियों को विश्वास था कि हम 50 प्रतिशत की लड़ाई लड़ेंगे और राजग को मोदी जी के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत प्राप्त होगा । 

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से मोदी जी ने पांच साल शासन चलाया, उसे देश की जनता ने स्वीकारा है। वह बताता है कि देश की जनता ने नरेन्द्र मोदी एक्सपेरिमेंट को मन से फिर एक बार स्वीकारा है । 

शाह ने कहा कि जनता के मन में एक टीस थी कि आतंकवाद पर ठोस कार्रवाई नहीं होती। मोदी जी के आने के बाद जनता को विश्वास हुआ कि अब एक नेता ऐसा आया है जो आतंकवादियों के घर में घुसकर कार्रवाई कर सकता है । 

उन्होंने कहा कि कश्मीर से कन्याकुमारी और कामाख्या से कच्छ तक जनता ने मोदी जी के समर्थन में मतदान किया है। चुनाव प्रक्रिया के समय देश में हर जगह मोदी जी की सुनामी दिखाई देती थी, इस सुनामी ने विपक्षी पार्टियों को ध्वस्त कर दिया है ।

शाह ने बाद में अपने ट्वीट में कहा, ‘‘ नरेन्द्र मोदी जी को भाजपा संसदीय दल और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का सर्वसम्मति से नेता चुने जाने पर बधाई।’’ उन्होंने इसके लिए राजग के घटक दलों के नेताओं का भी आभार जताया।