BREAKING NEWS

HP News: सोमवार को हिमाचल प्रदेश का दौरा करेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ◾गैंगवार से दहल जाती राजधानी, समय रहते पुलिस ने योजना बनाने के आरोप में चार को किया गिरफ्तार ◾Narendra Modi: मोदी का ट्वीट- इजराइलियों को पीएम ने यहूदी नववर्ष की शुभकामनाएं दी ◾गोवा में 20 बंग्लादेशी घुसपैठी गिरफ्तार, सीएम सावंत ने गृहमंत्रालय को निर्वासन प्रक्रिया शुरू करने का किया अनुरोध ◾Maharashtra: हम बोलते नहीं करके दिखाते! 2.5 साल से अटकी कई योजनाओं को दोबार शुरू किया... बोले CM शिंदे◾फतेहाबाद रैली के बाद विपक्षी एकता के साथ कितनी ताकत ! वामदल - समाजवादी दलों के जैसे कई क्षत्रपों का जमघट◾ कांग्रेस और वामदलों सहित एक मोर्चा बनाना समय की जरूरत : नीतीश ◾2024... मोदी vs विपक्ष! अब वक्त आ गया BJP के साम्राज्य को करें ध्वस्त, सरकार बनाने में दें हमारा सहयोग, पवार का तीखा वार◾ चंडीगढ़ हवाई अड्डे का नाम भगत सिंह के नाम करने पर उनके भतीजे ने पीएम का जताया आभार ◾मुसीबत में सियासत का जादूगर ! सचिन फैक्टर की मांग पूरी न होने पर कांग्रेस के बिखरने का डर ◾'Mann Ki Baat' कार्यक्रम को लेकर बोले जे.पी. नड्डा- मोदी को सुनने के बाद एकत्रित होकर करनी चाहिए बैठक◾ Gujarat elections: गुजरात के चुनावी रण में AIMIM ने खोले पत्ते, तीन प्रत्याशियों में से एक हिंदू महिला को दिया टिकट◾ सुरक्षाबलों ने दो आतंकवादियों को पहुंचाया जहन्नुम, माछिल सेक्टर में हुई थी मुठभेड़ ◾PAK: पीएम शहबाज शरीफ ने कहा- रूस से गेहूं आयात कर सकता है पाकिस्तान, जानें वजह◾शहीद भगत सिंह के नाम से जाना जाएगा चंडीगढ़ हवाई अड्डा, पीएम मोदी ने सुलझाया तीन राज्यों का झगड़ा ◾ankita murder case: गुस्से में देवभूमि, परिजनों ने कहा - अंतिम रिपोर्ट नहीं आने तक करेंगे अंत्येष्टि ◾विदेश मंत्री एस. जयशंकर बोले- ध्रुवीकृत दुनिया में भारत वास्तव में महत्व रखता है◾ankita murder case : बिना किसी पंजीकरण के चल रहा था आलीशान रिजॉर्ट? उत्तराखंड पर्यटन विभाग पर उठे कई सवाल ◾पंडित दीनदयाल जयंती पर बोले धनखड़- कोई वास्तव में कैसे भारत की आत्मा को समझ सकता है◾कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव से पहले शशि थरूर को झटका, गहलोत को मिला केरल के सांसदों का समर्थन ◾

भीषण गर्मी में एक बार फिर हो सकती है बिजली की किल्लत, जानें क्या है संकट

देश में अब धीरे-धीरे गर्मी का मौसम जोर पकड़ रहा है। ऐसे में बिजली की मांग में इजाफा होगा, लेकिन इसमें अब बड़ी समस्या सामने आ सकती है। बिजली संयंत्रों को गर्मी में बढ़ती मांग के बीच पर्याप्त मात्रा में कोयले की आपूर्ति न होने से देश के कई राज्यों को बिजली की किल्लत का सामना करना पड़ सकता है।  

यूरोप में कोयले की मांग बढ़ गयी है 

दूसरी तरफ, एसएंडपी के मुताबिक रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध के कारण वैश्विक स्तर पर कोयले की कीमतों में तेजी बनी हुई है। इसके कारण आपूर्ति संकट भी गहरा गया है। आपूर्ति बाधा और कीमतों में तेजी के बीच यूरोप में कोयले की मांग बढ़ गयी है, जिससे कोयले का आयात महंगा हो गया है। एसएंडपी का कहना है कि अप्रैल में कोयले का भंडार अक्टूबर 2021 के कोयला आपूर्ति संकट के समान होता जा रहा है, जब देश के 115 बिजली संयंत्रों का कोयला भंडार आपात स्तर से कम हो गया था।   

इतने फीसदी की कोयले की कमी  

महाराष्ट्र राज्य बिजली वितरण कंपनी लिमिटेड ने गत 31 मार्च को नोटिस जारी किया था कि राज्य में कृषि क्षेत्र की बिजली आपूर्ति में अस्थायी रूप से कटौती की जायेगी। इसी तरह मध्यप्रदेश, जम्मू कश्मीर, लद्दाख, पंजाब, हरियाणा और झारखंड में भी आपूर्ति संकट देखा गया। कोल इंडिया ने 28 मार्च को बताया था कि एक अप्रैल तक उसका कोयला भंडार छह करोड़ मिट्रिक टन से अधिक हो सकता है। यह गत साल की समान अवधि की तुलना में 39.39 प्रतिशत कम है।  

बिजली संयंत्रों में कोयले का भंडार 28 मार्च को 25.5 मिलियन मिट्रिक टन था, जो गत साल की तुलना में करीब 13 फीसदी कम है। गौरतलब है कि कोल इंडिया ने कहा है कि उसने अपनी उत्पादन क्षमता बढ़ाने के लिये वित्त वर्ष 22 में पूंजीगत व्यय में 1,550 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी की। वित्त वर्ष 21 में कंपनी का पूंजीगत व्यय 13,284 करोड़ रुपये था, जो गत वित्त वर्ष बढ़कर 14,834 करोड़ रुपये हो गया।