BREAKING NEWS

दिल्ली: MCD चुनाव पर भाजपा की रणनीति, BJP अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा- संविदा शिक्षकों को करेंगे नियमित◾सियासी पिच पर जीतने का प्रयास, ओडिशा के पदमपुर उपचुनाव के लिए तेज हुआ प्रचार◾हिमाचल में फिर खिलेगा कमल? पूर्व सीएम धूमल ने ठोका दावा- कांग्रेस खोखले दावे जनता के सामने परोस रही ◾महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग ने स्वामी रामदेव को भेजा नोटिस, रामदेव ने महिलाओं को लेकर दिया था बयान ◾Maharashtra: फसल नष्ट होने के बाद बीमा की नगण्य राशि मिलने से निराश हैं किसान, क्या सरकार सुनेगी फरियाद?◾Gujarat: गुजरात चुनाव में सियासत गर्म! ओवैसी ने केजरीवाल पर जमकर साधा निशाना- कह डाली यह बात◾जेपी नड्डा ने किया दावा, कहा- AAP से तंग आकर एमसीडी चुनाव में BJP को वोट देने को बेताब लोग◾सीएम केजरीवाल ने कहा, BJP Video बनाने वाली कंपनी है, हर वार्ड में खोलेगी दुकान◾जनसंख्या नियंत्रण पर गरजे गिरिराज सिंह, कहा- चीन से मुकाबला करना है तो लाना ही पड़ेगा विधेयक◾Belarus: बेलारूस के विदेश मंत्री व्लादिमीर मेकी का निधन, 64 वर्ष में ली आखिरी सांस, देश में शोक की लहर ◾UNSC की अध्यक्षता के दौरान भारत की प्राथमिकताएं होंगी टेररिज्म का मुकाबला, बहुपक्षवाद में सुधार◾UP News: उत्तर प्रदेश के बलिया में नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म, शादी का झांसा देकर किया कांड, आरोपी गिरफ्तार ◾ICMR की सलाह, कम बुखार होने पर एंटीबायोटिक लेने से करें परहेज◾ठंड ने दी दस्तक, राष्ट्रीय राजधानी में न्यूनतम तापमान 7.9 डिग्री सेल्सियस रहा◾अरविंद केजरीवाल ने कर दी भविष्यवाणी, कहा- गुजरात में कांग्रेस की सरकार आ रही◾'भारत जोड़ो यात्रा' से केंद्र पर वार! कांग्रेस ने कहा- बदल रहा राष्ट्रीय राजनीति का परिद्दश्य◾संसद में मचेगा बवाल! राज्यपालों की भूमिका, बेरोजगारी, महंगाई के मुद्दे पर शीतकालीन सत्र में सरकार को घेरेगा विपक्ष◾गणतंत्र दिवस पर मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतेह होंगे चीफ गेस्ट, कोरोना की वजह से विदेशी मेहमान नहीं हो रहे थे शामिल ◾Mann Ki Baat : PM नरेंद्र मोदी ने कहा- भारत को जी-20 की अध्यक्षता मिलने का उपयोग ‘विश्व कल्याण’ पर ध्यान लगाने में करना है◾दिल्ली के एमसीडी चुनाव में यूपी के डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने भरी हुंकार◾

केन्द्र और राज्यों के बीच अधिक सहयोग होना चाहिएः ममता

नई दिल्ली में नीति आयोग की संचालन परिषद की बैठक को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने जोर देकर कहा कि केंद्र और राज्यों के बीच ‘‘अधिक सहयोग’’ होना चाहिए। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो ने यह भी कहा कि राज्य सरकारों पर राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) लागू करने के लिए दबाव नहीं डाला जाना चाहिए। ख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रविवार को इस बात पर जोर दिया कि केंद्र को राज्य सरकारों की मांगों को अधिक गंभीरता से लेना चाहिए और उन पर कोई नीति थोपी नहीं जानी चाहिए।

केन्द्र और राज्यों के बीच होना चाहिए सहयोग 

पश्चिम बंगाल सरकार एनईपी को लागू करने की इच्छुक नहीं थी। इसने एनईपी की जांच करने और शिक्षा पर राज्य स्तरीय नीति की आवश्यकता का आकलन करने के लिए अप्रैल में विशेषज्ञों की 10 सदस्यीय समिति का गठन किया। उन्होंने बैठक में अपने लगभग 15 मिनट के संबोधन के दौरान कहा कि केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के बीच अधिक से अधिक सहयोग होना चाहिए। 

बैठक में 23 मुख्यमंत्री भी थे शामिल 

कोविड-19 महामारी की शुरुआत के बाद से संचालन परिषद की यह पहली प्रत्यक्ष बैठक है। वर्ष 2021 की बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हुई थी। बैठक में 23 मुख्यमंत्रियों, तीन उपराज्यपालों, दो प्रशासकों और केंद्रीय मंत्रियों ने भाग लिया। संचालन परिषद ने चार प्रमुख एजेंडा मदों - फसल विविधीकरण और दलहन, तिलहन एवं अन्य कृषि-वस्तुओं में आत्मनिर्भरता प्राप्त करना, स्कूली शिक्षा में राष्ट्रीय शिक्षा नीति का कार्यान्वयन, उच्च शिक्षा में एनईपी का कार्यान्वयन और शहरी शासन पर चर्चा की।