BREAKING NEWS

राजनाथ सिंह बोले-मेक इन इंडिया पर है रक्षा उत्पादन में हमारी सरकार का जोर◾कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव : खड़गे ने नेता प्रतिपक्ष से दिया इस्तीफा, अब कौन होगा राज्यसभा में LOP?◾खड़गे को अध्यक्ष बनाना गांधी परिवार की बनी मजबूरी, इन दो कारणों ने बिगाड़ा दिग्विजय सिंह का खेल◾देश में 5G सर्विस नए दौर की दस्तक और अवसरों के अनंत आकाश की शुरुआत : मोदी◾पाकिस्तान पर बड़ी डिजिटल स्ट्राइक, भारत में शहबाज सरकार के ट्वीटर पर BAN ◾नीतीश नहीं तेजस्वी यादव के हाथों में होगी बिहार की बागडोर? राजद नेताओं ने कर दिया ऐलान ◾ '... जाके कछु नहीं चाहिए, वे शाहन के शाह', दिग्विजय सिंह के इस tweet के क्या हैं मायने?◾Amazing स्पीड के साथ...No बफरिंग, 10 गुना होगी इंटरनेट की रफ्तार, देश में लॉन्च हुई 5G सर्विस◾दिल्ली : पुरानी आबकारी नीति से मालामाल हुई दिल्ली सरकार, एक महीने में कमाए 768 करोड़◾Pitbull का बढ़ता कहर, अब पंजाब में एक रात एक अंदर 12 लोगों को बनाया शिकार◾RBI Hike Repo Rate : ग्राहकों को लगा बड़ा झटका, रेपो रेट के बाद SBI समेत इन बैंकों में बयाज दर में बढ़ोतरी◾अशोक गहलोत का बड़ा खुलासा, जानिए अंतिम समय में क्यों अध्यक्ष पद चुनाव लड़ने से किया मना◾दिल्ली : हैवानियत का शिकार हुआ मासूम हारा जिंदगी की जंग, LNJP अस्पताल में 14 दिन बाद मौत◾कोविड19 : देश में पिछले 24 घंटो में कोरोना संक्रमण के 3,805 नए मामले दर्ज़, 26 मरीजों मौत ◾अजब प्रेम की गज़ब कहानी : पाकिस्तान की लड़की को हुई नौकर से मोहब्बत, कहा- प्यार अमीर-गरीब नहीं देखता ◾उत्तराखंड : केदारनाथ मंदिर के पास खिसका बर्फ का पहाड़, देखें Video◾LPG Price Update : 25.5 रुपए की कटौती के साथ सस्ता हुआ कमर्शियल LPG गैस सिलेंडर◾मल्लिकार्जुन खड़गे के समर्थन में उतरे गहलोत, जानिए अध्यक्ष पद चुनाव को लेकर क्या कहा ◾आखिरकार क्यों अध्यक्ष पद चुनाव से कटा दिग्विजय सिंह का पत्ता? जानिए हाईकमान ने खड़गे के नाम पर कैसे लगाई मुहर◾आज का राशिफल (01 अक्टूबर 2022)◾

पीएम मोदी समेत इन नेताओं ने मकर संक्रांति के अवसर पर देशवासियों को दी शुभकामनाएं

देश के माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मकर संक्रांति और पोंगल के त्योहार की देश के प्रियवासियों को हार्दिक बधाई दी। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई नेताओं ने देशवासियों को बधाई दी है। पीएम मोदी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर पांच भाषाओं में त्योहारों की बधाई दी है। प्रधानमंत्री द्वारा एक ट्वीट हिंदी में किया गया। पीएम मोदी ने लिखा, 'मकर संक्रांति की आप सभी को बहुत-बहुत शुभकामनाएं. प्रकृति के पूजन से जुड़ा यह उतस्व हर किसी के जीवन में आरोग्य और आनंद लेकर आए।' 

पीएम मोदी ने मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर ये कहा- 

प्रधानमंत्री ने इसके बाद कई और ट्वीट कर देशवासियों को बधाई दी। उन्होंने माघ बिहू त्योहार की बधाई दी और सुख एवं समृद्धि की कामना की। उन्होंने गुजरात के लोगों को उत्तरायण की शुभकामनाएं दीं। पीएम मोदी ने पोंगल की शुभकामनाएं देते हुए कहा, पोंगल तमिलनाडु की जीवंत संस्कृति का पर्याय है। इस विशेष अवसर पर, सभी को और विशेष रूप से पूरी दुनिया में फैले तमिल लोगों को मेरी बधाई। मैं प्रार्थना करता हूं कि प्रकृति के साथ हमारा बंधन और हमारे समाज में भाईचारे की भावना गहरी हो।' 

इन नेताओं ने दी देशवासियों को शुभकामनाएं 

इस अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी देशवासियों को बधाई दी। उन्होंने ट्वीट किया, 'मकर संक्रांति, पोंगल, माघ बिहू, उत्तरायण और पौष पर्व के पावन अवसर पर सभी को बधाई। सभी को सुख, शांति और समृद्धि का आशीर्वाद मिले। आपके अच्छे स्वास्थ्य और कुशलक्षेम के लिए प्रार्थना।' पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, 'मकर संक्रांति के पावन अवसर पर आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं, सभी को ढेर सारी खुशियां, शांति और समृद्धि प्राप्त हो।' 

मायावती ने भी देशवासियों को शुभकामनायें दी 

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने शुक्रवार को मकर संक्रान्ति एवं देश के विभिन्न हिस्सों में मनाये जाने वाले अन्य पर्वों की देशवासियों को शुभकामनायें दी हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘‘मकर संक्रान्ति, पौष, पोंगल व रोंगाली बिहु आदि पर्व की सभी देशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनायें। ये पर्व आप सबके जीवन को सुख व खुशहाली से भर दे, ऐसी कुदरत से कामना।’’ उल्लेखनीय है कि आज मकर संक्रान्ति का पर्व हर्षोललास के साथ मनाया जा रहा है। 

इन तरीको से मामला उलझ जाएगा 

बता दें कि मकर संक्रांति अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग नाम और तरीकों से मनाया जाता है। उत्तर भारत में जहां इसे मकर संक्रांति कहा जाता है तो तमिलनाडु में पोंगल के नाम से जाना जाता है। असम में इसे माघ बिहू और गुजरात में इसे उत्तरायण कहते हैं, पंजाब और हरियाणा में इस समय नई फसल का स्वागत किया जाता है और लोहड़ी पर्व मनाया जाता है।