BREAKING NEWS

युवा विश्व चैंपियनशिप में भारत की सात महिला मुक्केबाजों को स्वर्ण ◾भारत में एक दिन में सर्वाधिक मामले, ऑक्सीजन आपूर्ति सुनिश्चित करने का केंद्र का राज्यों को निर्देश◾पडीक्कल के शतक और कोहली के अर्धशतक से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर 10 विकेट से जीता ◾दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए तीन प्रशासनिक अधिकारी नियुक्त ◾महाराष्ट्र में कोविड-19 के 67,013 नए मामले, और 568 लोगों की मौत◾PM मोदी कोविड प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों संग करेंगे संवाद, डिजिटल माध्यम से बंगाल के मतदाताओं को करंगे संबोधित◾फाइजर ने की भारत में गैर-मुनाफे वाली कीमत पर कोविड वैक्सीन आपूर्ति की पेशकश◾ऑक्सीजन की आपूर्ति पर कर रहा हूं बारीकी से निगरानी, अन्य राज्यों को कोटे के अनुसार आपूर्ति की जा रही : CM खट्टर◾उत्तर प्रदेश : कोरोना से पिछले 24 घंटे में 195 मरीजों ने तोड़ा दम, 34379 नए मामले की पुष्टि◾कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर हरियाणा में शाम छह बजे तक सभी दुकानें बंद करने का आदेश ◾लॉकडाउन में युवक ने जताई गर्लफ्रेंड से मिलने की इच्छा, मुंबई पुलिस की हाजिरजवाबी ने जीता दिल ◾केंद्रीय गृह मंत्रालय ने ऑक्सीजन के निर्बाध उत्पादन, आपूर्ति के लिए आपदा प्रबंधन कानून लागू किया ◾PM मोदी ने कोविड-19 के कारण रद्द कीं बंगाल में होने वाली सभी चुनावी रैलियां, कोरोना के हालात पर करेंगे बैठक ◾केंद्र सरकार के पास पीएम केयर्स फंड में पर्याप्त धन, लेकिन मुफ्त टीका उपलब्ध नहीं करायेगी : ममता ◾अमित शाह का TMC पर प्रहार - ममता के वोट बैंक और अवैध प्रवासी बंगाल में हैं असली बाहरी◾देशभर में ऑक्सीजन की कमी को लेकर मचा हाहाकार, प्रधानमंत्री मोदी ने की उच्च स्तरीय बैठक◾सोशल मीडिया पर राहुल गांधी ने दिया सन्देश - हम वायरस को हराएंगे, फिर से गले मिलेंगे◾मनीष सिसोदिया बोले- राजधानी के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन हुई खत्म, केंद्र से की ये मांग ◾ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए सरोज सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल ने दिल्ली HC का खटखटाया दरवाजा ◾ऑक्सीजन और दवाओं की कमी पर SC ने केंद्र सरकार से मांगा जवाब, पूछा- क्या है कोविड पर नेशनल प्लान◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

महाराष्ट्र पर फैसला आने तक विधायकों को 'संभालने' की कोशिश

कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और शिवसेना अपने-अपने विधायकों को होटलों में ठहराने की व्यवस्था की है, ताकि भाजपा और राकांपा का बागी गुट उनकी एकता में सेंध न लगा पाएं। 

शिवसेना ने अपने विधयकों को होटल ललित में, कांग्रेस ने जेडबल्यू मैरिअट में और राकांपा ने रिनेसां में ठहराया है। 

शिवसेना नेता सुभाष देसाई शिवसैनिक विधायकों से संपर्क बनाए हुए हैं। होटल की घेराबंदी की गई है और वहां से किसी विधायक को बाहर जाने की अनुमति नहीं है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के निर्देश पर विधायकों की सुरक्षा की जिम्मेदारी मिलिंद नार्वेकर संभाल रहे हैं। 

उद्धव के उत्तराधिकारी आदित्य ठाकरे भी विधायकों से मिलकर उनका मनोबल बढ़ाने में जुटे हैं। 

राकांपा में विधायकों को संभालने की जिम्मेदारी जितेंद्र अहवद संभाल रहे हैं। वह खासतौर से गणेश नाइक पर नजर रख रहे हैं, जिन्होंने चुनाव से पहले भाजपा से संपर्क साधने की कोशिश की थी। पार्टी प्रमुख शरद पवार स्वयं अपने विधायकों से मिल रहे हैं, जबकि मुंबई इकाई के प्रमुख नवाब मलिक और विधायक दल के नेता जयंत पाटिल होटल रिनेसां का लगातार चक्कर लगा रहे हैं। 

वहीं, कांग्रेस अपने विधायकों की निगरानी के लिए दिल्ली से आए नेताओं पर निर्भर है। पार्टी ने शुरुआत में अपने विधायकों को मुंबई से बाहर किसी होटल में ठहराने की योजना बनाई थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट का आदेश आने की उम्मीद व शरद पवार की सलाह पर पार्टी ने अपने विधायकों को मुंबई में ही ठहराने का निर्णय लिया। 

कांग्रेस के विधायक खासतौर से पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण और पृथ्वीराज चव्हाण की निगरानी में हैं। इन दोनों की अनुमति के बिना कोई कांग्रेस विधायकों से नहीं मिल सकता। 

कांग्रेस विधायकों को संभाले रखने का पूरा प्रबंध पार्टी के संकट मोचन माने जाने वाले अहमद पटेल संभाले हुए हैं। वह यहीं से कानूनी मामले देख रही दिल्ली टीम को भी निर्देश दे रहे हैं।