BREAKING NEWS

देश के 6 राज्यों में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले, केरल और महाराष्ट्र में स्थिति बहुत खतरनाक : सरकार◾BCCI ने किया IPL की डेट शीट का ऐलान, 9 अप्रैल को विराट और रोहित की टक्कर से होगा आगाज ◾कन्याकुमारी में BJP का डोर-टू-डोर कैंपेन लॉन्च, गृह मंत्री अमित शाह ने दिखाया विक्ट्री साइन◾कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन जारी, दिल्ली की सीमा पर हरियाणा के किसान ने की आत्महत्या ◾PM मोदी की रैली के मंच पर भाजपा में शामिल हुए मिथुन चक्रवर्ती, लहराया पार्टी का झंडा ◾किसान आंदोलन 102 दिन :11 दौर की वार्ता में नहीं निकला कोई हल, सरकार मानने को तैयार नहीं ◾जन औषधि दिवस पर PM की अपील 'मोदी की दुकान' से खरीदें सस्ती दवाइयां ◾भाजपा नेता शुभेंदू अधिकारी बोले- नंदीग्राम सीट से ममता बनर्जी को भारी मतों से हराउंगा◾दुनिया में कोरोना महामारी के मामले 11.64 करोड़ के पार, 25.8 लाख लोगों की मौत◾Today's Corona Update : देश में कोरोना के 18,711 नए मामले, 100 और मरीजों की मौत◾अमित शाह आज तमिलनाडु और केरल के दौरे पर, 'विजय यात्रा’ को करेंगे संबोधित◾TOP- 5 NEWS 07 MARCH : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें◾दिल्ली में लगातार दूसरे दिन 300 से अधिक कोरोना वायरस के मामलों की हुई पुष्टि◾पीएम मोदी आज कोलकाता में चुनावी अभियान का बिगुल फूकेंगे,भाजपा ने भारी भीड़ जुटाने की बनाई योजना◾आज का राशिफल (07 मार्च 2021)◾कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए 13 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की ◾पश्चिम बंगाल : ममता बनर्जी के खिलाफ आगामी चुनाव में UP के डिप्टी CM केशव प्रसाद मौर्य का हल्ला बोल◾बंगाल चुनाव : BJP ने जारी की 57 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, ममता के खिलाफ लड़ेंगे शुभेंदु अधिकारी ◾सफलता के लिए शॉर्टकट : पश्चिम बंगाल चुनाव से पहले राजनीतिक खेमों में बंटा ‘टॉलीवुड’◾पश्चिम बंगाल : विधानसभा चुनाव से पहले ममता को एक और झटका, विधायक सोनाली गुहा BJP में होंगी शामिल◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

PMGKY के तहत 42 करोड़ से अधिक गरीबों को मिले 68,820 करोड़ रुपये

कोरोना काल में लोगों की मदद के लिए शुरू किये गये 1/70 लाख करोड़ रुपये के प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (पीएमजीकेवाई) के तहत अब तक 42 करोड़ गरीबों को 68820 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता दी गयी है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 26 मार्च को 1.70 लाख करोड़ रुपये की पीएमजीकेवाई योजना के हिस्से के तौर पर मुफ्त अनाज और महिलाओं, गरीब वरिष्ठ नागरिकों और किसानों को नकद सहायता देने की घोषणा की थी।

वित्त मंत्रालय की जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि पैकेज के क्रियान्वयन पर केन्द्र और राज्य सरकारों द्वारा लगातार नजर रखी जा रही है। प्रधानमंत्री गरीब कलयाण योजना के तहत अब तक 42 करोड़ गरीबों को 68,820 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता प्राप्त हुई है। 

मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक इस राशि में से 17,891 करोड़ रुपये प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम- किसान) की पहली किस्त के तौर पर दिये गये हैं। इसके तहत 8.94 करोड़ लाभार्थी किसानों को उनके बैंक खाते में 2,000 रुपये की पहली किस्त पहुंचाई गई है। इसके साथ ही 20.6 करोड़ महिला जनधन खाता धारकों के खाते में तीन माह के दौरान हर महीने 500 रुपये की किस्त के रूप में 30,925 करोड़ रुपये डाले गये हैं। 

मंत्रालय की विज्ञप्ति के अनुसार राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (एनएसएपी) के तहत 2.81 करोड़ बुजुर्गों, विधवाओं और दिव्यांगों को 2,814.5 करोड़ रुपये आवंटित किये गये हैं। इनमें प्रत्येक लाभार्थी को योजना के तहत 500 रुपये की दो समान किस्तों में नकद अनुदान सहायता प्राप्त हुई है। 

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत अप्रैल से जून अवधि के दौरान 75 करोड़ लाभार्थियों को 111.6 लाख टन खाद्यान्न वितरित किया गया है। इस योजना को पांच माह के लिये बढ़ाया गया है। योजना अब नवंबर 2020 तक लागू रहेगी। इसके तहत राज्य सरकारें और केन्द्र शासित प्रदेश 98.31 लाख टन अनाज उठा चुके हैं। 

विज्ञप्ति के अनुसार जुलाई में 72.18 करोड़ लाभार्थियों को 36.09 लाख टन अनाज वितरित किया गया। अगस्त में 60.44 करोड़ को 30.22 लाख टन अनाज का वितरण किया गया और सात सितंबर 2020 की स्थिति के अनुसार 3.84 करोड़ लाभार्थियों को 1.92 लाख मीट्रिक टन अनाज वितरित किया जा चुका है। 

इसके साथ ही प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 18.8 करोड़ लाभार्थियों को 5.43 लाख टन दाल भी वितरित की गई। सरकार ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत प्रवासी मजदूरों को दो महीने के लिये मुफ्त अनाज और चना देने की घोषणा की थी। राज्यों ने 2.8 करोड़ प्रवासी मजदूरों की संख्या होने का अनुमान बताया है। अगस्त तक कुल मिलाकर 5.32 करोड़ प्रवासियों को 2.67 लाख टन अनाज वितरित किया गया। इस लिहाज से हर महीने करीब 2.66 करोड़ प्रवासी लाभार्थियों को मुफ्त अनाज वितरित किया गया। यह संख्या प्रवासियों की अनुमानित संख्या के करीब 95 प्रतिशत तक है।