BREAKING NEWS

कार्यकर्ताओं से थरूर का वादा - बंद करूंगा एक लाइन की पंरपरा, क्षत्रपों को दूंगा बढ़ावा ◾कांग्रेस का अध्यक्ष मैं हूं? थरूर बोले- पार्टी को लेकर मेरा अपना दृष्टिकोण.... मैं हूं शशि पीछे नहीं हटूंगा ◾KCR द्वारा राष्ट्रीय पार्टी की औपचारिक घोषणा के बाद विमान खरीदेगा टीआरएस ◾अफगानिस्तान : धमाके में बिखर गए मासूमों के शरीर, काबुल के स्कूल में फिदायीन हमला ◾ अफगानिस्तान : धमाके में बिखर गए मासूमों के शरीर, काबूल के स्कूल में फिदायीन हमला ◾पंजाब : कांग्रेस ने भगवंत मान पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप, पूछा- क्या हुआ उन उपदेशों का ?◾CDS जनरल चौहान ने कार्यभार संभालने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से की मुलाकात ◾कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में नामांकन कर सबको चौंकाने वाले केएन त्रिपाठी कौन ? चुनाव को लेकर कितने गंभीर ◾इलाहाबाद HC ने मुख्यमंत्री योगी द्वारा दिए गए राजस्थान में आपत्तिजनक भाषण पर दायर याचिका को खारिज किया ◾खड़गे vs थरूर! कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर बोले मल्लिकार्जुन- मुझे पूरा विश्वास... मैं ही जीतूंगा◾कांग्रेस मुख्यालय में पहुंचे गहलोत, सचिन पायलट के समर्थकों ने की नारेबाजी◾Ankita Murder Case : अंकिता हत्याकांड में विशेष जांच दल को हाथ लगा बड़ा सबूत, SIT को मिला मोबाइल ?◾प्रमोद तिवारी का भाजपा पर तंज, कहा- अपनी आंख खोलो और देखो कांग्रेस में चुनाव होता है आपके यहां नहीं ◾हाथ पर हाथ धरी रह गई सपा, दफ्तर पर चल गया सरकार का बुल्डोजर◾गुजरात में बोले PM मोदी-21वीं सदी के भारत को देश के शहरों से मिलने वाली नई गति◾कौन होगा कांग्रेस का अध्यक्ष? गहलोत बोले- हम मल्लिकार्जुन खड़गे के साथ खड़े, वह एक अनुभवी नेता है ◾कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव : थरूर, त्रिपाठी , खड़गे में कड़ा मुकाबला, असमंजस में बनी स्थिति साफ ◾SC ने संसद भवन के शेर की मूर्ति को लेके दायर याचिका कि खारिज, कहा- कानून का नहीं हुआ कोई उल्लंघन ◾रोचक बनी कांग्रेस अध्यक्ष की लड़ाई, खड़गे के समर्थन में उतरे गहलोत◾राहुल गांधी के फर्जी वीडियो वायरल करने पर कांग्रेस ने अशोक पंडित के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत◾

केन्द्रीय मंत्री ने वायु प्रदूषण को बताया शहरी क्षेत्रों की समस्या, वायु गुणवत्ता की निगरानी कर रही है सरकार

पर्यावरण वन और जलवायु राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने बृहस्पतिवार को एक सवाल के लिखित जवाब में कहा कि वायु प्रदूषण मुख्य रूप से शहरों में होता है, इसलिए वह शहरी क्षेत्रों में परिवेशी वायु गुणवत्ता की निगरानी पर ध्यान केंद्रित कर रही है।

शहरी क्षेत्रों में वायु गुणवत्ता पर ध्यान दे रही है सरकार

दरअसल, आज इस भीड़भाड़ वाली दुनियां में वायुप्रदूषण की समस्या आम हो गई है। मंत्री ने कहा ‘‘वायु प्रदूषण मुख्य रूप से शहरों में होता है। इसलिए सरकार शहरी क्षेत्रों में परिवेशी वायु गुणवत्ता की निगरानी पर ध्यान केंद्रित कर रही है। तदनुसार 28 राज्यों और सात केंद्र शासित प्रदेशों में 465 शहरों को शामिल करते हुए 1243 निगरानी स्टेशन स्थापित किए गए हैं।’’

उन्होंने कहा कि पंजाब के ग्रामीण क्षेत्रों में 24 और दमन व दीव और दादरा व नगर हवेली में दो निगरानी स्टेशन प्रायोगिक आधार पर स्थापित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इसके अलावा विभिन्न राज्यों के ग्रामीण क्षेत्रों में 17 नए निगरानी स्टेशन को मंजूरी दी गई है। हिमाचल प्रदेश और मिजोरम में पांच-पांच, केरल, ओडिशा और उत्तर प्रदेश में दो-दो तथा त्रिपुरा में एक निगरानी स्टेशन को मंजूरी दी गई है।

ग्रामीण क्षेत्रों में वायु प्रदूषण की निगरानी 

हालांकि, विशेषज्ञों का कहना है कि अगर सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में वायु प्रदूषण की निगरानी नहीं करती है, तो इसका अर्थ यह नहीं है कि यह वहां मौजूद नहीं है। सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरनमेंट (सीएसई) से जुड़े विवेक चट्टोपाध्याय ने कहा, वायु प्रदूषण एक क्षेत्रीय मुद्दा है और इससे सभी क्षेत्र प्रभावित होते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के नजदीक पास द्योग, ताप बिजली घर, और ईंट भट्टे स्थापित किए जाते हैं तथा ग्रामीण घरों में ठोस ईंधन (लकड़ी, कोयला आदि) का इस्तेमाल किया जाता है।

उन्होंने कहा कि सरकार की वायु प्रदूषण प्रबंधन रणनीति को शहर केंद्रित दृष्टिकोण से बढ़ने तथा सभी क्षेत्रों को इसके दायरे में लाने की आवश्यकता है उन्होंने कहा कि उदाहरण के लिए, सिर्फ दिल्ली में वायु गुणवत्ता में सुधार से स्थिति नहीं सुधरेगी, अगर बाहरी क्षेत्रों में वायु प्रदूषण को ठीक से नियंत्रित नहीं किया जाता है। इंटरनेशनल फोरम फॉर एनवायरनमेंट, सस्टेनेबिलिटी एंड टेक्नोलॉजी (आईफॉरेस्ट) के मुख्य कार्याधिकारी (सीईओ) चंद्र भूषण ने कहा कि बहुत सारे उपग्रह आंकड़े और अध्ययन हैं जिनसे पता लगता है कि वायु प्रदूषण शहरी क्षेत्रों की तरह ग्रामीण क्षेत्रों में भी एक बड़ी समस्या है।