BREAKING NEWS

अडानी पर हिंडनबर्ग का हमला, कहा- 'धोखाधड़ी को राष्ट्रवाद से ढका नहीं जा सकता'◾1 फरवरी को संसद के पटल पर होगा बजट पेश, 'लोगों को काफी उम्मीदें'◾राजस्‍थान में शीतलहर का कहर, 5वीं कक्षा तक के स्‍कूल 31 जनवरी तक बंद ◾आज का राशिफल (30 जनवरी 2022)◾सिर्फ मोदी को लगता है, चीन ने हमारी जमीन नहीं ली : राहुल गांधी◾BCCI ने भारतीय अंडर-19 महिला टीम के लिए 5 करोड़ के नकद पुरस्कार की घोषणा की◾भारतीय महिला टीम बनी अंडर-19 टी20 विश्व कप चैम्पियन, बधाइयों का लगा तांता◾बारिश भी नहीं डिगा सका बीटिंग रिट्रीट के जज्बे को, गणतंत्र दिवस समारोह का हुआ औपचारिक समापन◾दिल्ली में बारिश, अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री नीचे◾ओडिशा के मंत्री नब किशोर दास की गोली लगने से मौत, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री ने शोक जताया◾IND vs NZ : स्पिनरों के दबदबे के बीच भारत ने न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराया, श्रृंखला 1-1 से बराबर◾हमीरपुर में दूषित जल पीने से बीमार पड़ने वालों की संख्या 535 हुई, मुख्यमंत्री ने रिपोर्ट मांगी◾प्रधानमंत्री मोदी : 'तकनीकी दशक बनाने का भारत का सपना होगा साकार'◾रामचरितमानस विवाद में घिरे स्वामी प्रसाद को अखिलेश ने बनाया राष्ट्रीय महासचिव, चाचा शिवपाल को भी मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾यूपी के मंत्री जितिन प्रसाद ने स्वामी प्रसाद मौर्य के रामचरितमानस बयान को बताया चुनावी रणनीति◾Air Asia Flight: एयर एशिया के विमान से टकराया पक्षी, लखनऊ एयरपोर्ट पर हुई इमरजेंसी लैंडिंग◾ सपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की लिस्ट में पार्टी नेताओं के नाम किए घोषित,विवादों में रहें स्वामी प्रसाद मौर्य को बनाया गया महासचिव◾पाकिस्तान की जनता पर टूटा दुखों का पहाड़, पेट्रोल, डीजल के दाम 35-35 रुपये लीटर बढ़े◾Gonda Crime : धारदार हथियार से की शिक्षक की हत्या, मिले कुछ महत्वपूर्ण सुराग ◾2024 के लिए कठिन क्यों है कांग्रेस का डगर, भारत जोड़ो यात्रा से लोगों में दिखा असर◾

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने कहा- सांसद मुद्दों को उठाने से पहले निजी अध्ययनों व आंकड़ों का विश्लेषण करें

राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ ने शुक्रवार को सदस्यों से आग्रह किया कि वे किसी भी मुद्दे को उठाने के क्रम में निजी अध्ययनों या आंकड़ों का उल्लेख करने से पहले उनका विश्लेषण करें। उन्होंने कहा कि इस तरह के अध्ययन अपर्याप्त आंकड़ों पर आधारित हो सकते हैं या दूसरों के हितों से प्रभावित हो सकते हैं।

जगदीप धनखड़ ने जी-20 में भारत की सांस्कृतिक शक्ति को प्रदर्शित करने के लिए  राज्यसभा सदस्यों से सुझाव मांगे - Republic Bharat

धनखड़ ने यह टिप्पणी उच्च सदन में प्रश्नकाल के दौरान की जब केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल वैश्विक भुखमरी सूचकांक 2022 में भारत की 107वीं रैंकिंग को लेकर एक पूरक प्रश्न का उत्तर दे रहे थे। केसी (एम) सदस्य जोस के मणि ने कहा कि 121 देशों की सूची में भारत 107वें नंबर पर है। उन्होंने कहा कि नेपाल, पाकिस्तान और श्रीलंका जैसे पड़ोसी देश भी सूचकांक में भारत से आगे हैं। गोयल ने कहा, ‘‘हमने एक तरह से देश से भुखमरी को खत्म कर दिया है। हर एक राज्य ने लिखा है कि पिछले दो साल के दौरान उनके यहां भुखमरी से कोई मौत नहीं हुई। उन्होंने कहा कि भूख सूचकांक कुछ निजी व गैर सरकारी संगठनों द्वारा बनाया गया निजी सूचकांक है जो भूख से संबंधित विषय पर आधारित नहीं है। उन्होंने इस क्रम में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेएवाई) का जिक्र किया जिसके तहत सरकार ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम की सीमा के अलावा पांच किलोग्राम अनाज प्रदान किया।

Know Who Is Jagdeep Dhankhar, Whom Nda Has Made The Candidate For The Post  Of Vice President News In Hindi - Vice President Election: बंगाल के सियासी  घमासान से चर्चा में आए

गोयल ने निष्कर्ष ऐसे आंकड़े से निकाले गए हैं जो असत्यापित हैं और ऐसे माप पर भी आधारित हैं जो भारत से संबंधित नहीं हैं। मुझे लगता है कि हमें यह समझना चाहिए कि क्या आधिकारिक और मान्य है और क्या केवल प्रचार के लिए है।

सभापति धनखड़ ने कहा, ... यह गरिमामय सदन 1.3 अरब से अधिक लोगों के ज्ञान का भंडार है। इसलिए जब हम सदन में कोई मुद्दा उठाते हैं... आइए, हम अपने मूल्यों पर विश्वास करें। उन्होंने कहा कि यह मुश्किल और अनुचित होगा कि हम अपने आकलनों, उपलब्धियों का मूल्यांकन उन लोगों के लिए छोड़ दें जिनके पास या तो अपर्याप्त आंकड़े हैं या जिनके कार्य हमारे नहीं बल्कि उनके हितों से निर्धारित होते हैं। उन्होंने कहा, अपने देश को उन आकलन से आहत होने की अनुमति नहीं दी जा सकती, जिस पर हमें विश्वास नहीं है...। इसका मतलब यह नहीं है कि बाहर के आकलन की विश्वसनीयता नहीं है।’’