BREAKING NEWS

अयोध्या फैसले पर बोले यशवंत सिन्हा, कहा- इस फैसले में कुछ खामियां हैं, लेकिन हमें आगे बढ़ने की जरूरत◾UEA के नागरिकों को अब भारत आने पर सीधे मिलेगा वीजा◾महाराष्ट्र सरकार गठन : सोमवार को पवार सोनिया गांधी से करेंगे मुलाकात ◾विपक्ष ने संसद में अपनी संख्या बढ़ाई ◾बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर तेज हुई राजनीति◾PM मोदी ने राजपक्षे को भारत आने का दिया निमंत्रण◾प्रदूषण के मुद्दे पर केंद्र सोमवार को उत्तरी राज्यों के अधिकारियों के साथ करेगा उच्च स्तरीय बैठक ◾कर्नाटक उपचुनावों में उम्मीदवारों को भविष्य के मंत्री के तौर पर पेश कर रही है भाजपा ◾किसानो पर पुलिस बर्बरता शर्मनाक : प्रियंका◾नागरिकता विधेयक से लेकर आर्थिक सुस्ती पर विपक्ष के विरोध से शीतकालीन सत्र के गर्माने की संभावना ◾TOP 20 NEWS 17 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾मंत्री स्वाती सिंह के कथित आडियो पर प्रियंका गांधी ने सरकार को घेरा ◾अयोध्या मामले पर पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड◾उपभोक्ता खर्च के आंकड़े छिपाने के आरोपों में चिदंबरम का केंद्र सरकार पर निशाना◾प्रियंका गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को वास्तविक मुद्दों पर फोकस करने का दिया निर्देश ◾सर्वदलीय बैठक में बोले PM मोदी- सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए हैं तैयार ◾गोताबेया राजपक्षे ने जीता श्रीलंका के राष्ट्रपति का चुनाव, PM मोदी ने दी बधाई◾उन्नाव में किसानों का प्रदर्शन, UPSIDC के अधिकारियों और वाहनों पर किया हमला ◾संसद के शीतकालीन सत्र से पहले प्रहलाद जोशी ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, कई नेता हुए शामिल◾राउत और उद्धव ने बाला साहेब को दी श्रद्धांजलि, फडणवीस ने ट्वीट कर लिखा-स्वाभिमान की मिली सीख◾

देश

vijay goel : सब पर निगरानी रखने वाली प्रौद्योगिकी उपलब्ध, गोपनीयता मुद्दे का समाधान महत

नवी मुंबई : केंद्रीय मंत्री vijay goel ने आज कहा कि किसी व्यक्ति की हर गतिविधि पर नजर रखने वाले प्रौद्योगिकी उपकरण उपलब्ध हैं ऐसे में गोपनीयता जैसे मुद्दों का समाधान ढूंढना महत्वपूर्ण हो गया है। vijay goelयहां डेटा विज्ञान कांग्रेस को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा ,‘ आज दुनिया बहुत ही ‘ इंटरकनेक्टेड ’ है और इंटरनेट पर कुछ ज्यादा ही निर्भर हो गई है। ऐसे उपकरण या समाधान उपलब्ध हैं जिनके जरिए हमारी हरेक गतिविधि , कार्रवाई और लेनदेन पर निगरानी रखी जा सकती है। ’

सांख्यिकी व कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्री vijay goelने इस अवसर पर बिग डेटा के इस्तेमाल से सामने आई चुनौतियों का भी जिक्र किया जिनमें साइबरस्पेस में किसी देश की संप्रभुता , जटिलता व गोपनीयता जैसे मुद्दे शामिल हैं। उन्होंने कहा ,‘ इनके समाधान की जरूरत है। ’ उन्होंने कहा कि डेटा विज्ञान सांख्यिकी से करीबी रूप् से जुड़ा है और यह एक अवधारणा है जो वास्तविक समस्याओं और मुद्दों को समझने व उनका विश्लेषण करने के लिए सांख्यिकी , डेटा और जानकारी को एकजुट करती है। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक ढांचे में बिग डेटा का बड़ा उपयोग है और यह हमारे जीवन के कायाकल्प में बड़ी भूमिका निभा सकता है।

24X7  नई खबरों से अवगत रहने के लिए यहाँ क्लिक करें।