BREAKING NEWS

गणतंत्र दिवस 2022: परेड में वायुसेना की झांकी का हिस्सा बनीं देश की पहली महिला राफेल विमान पायलट◾गणतंत्र दिवस 2022: परेड में होवित्जर तोप से लेकर वॉरफेयर की दिखी झलक, राजपथ बना शक्तिपथ◾गणतंत्र दिवस समारोह: PM मोदी उत्तराखंड की टोपी और मणिपुरी स्टोल में आए नजर, दिया ये संकेत◾यूपी: रायबरेली में जहरीली शराब पीने से चार की मौत, 6 लोगों की हालत नाजुक◾RPN सिंह के भाजपा में शामिल होने पर शशि थरूर का कटाक्ष, बोले- छोड़कर जा रहे हैं घर अपना, उधर भी सब अपने हैं◾दिल्ली में ठंड का कहर जारी, फिलहाल बारिश होने के आसार नहीं: आईएमडी◾RRB-NTPC Exam: परीक्षार्थियों के विरोध प्रदर्शन के बाद रेलवे ने भर्ती परीक्षा पर लगाई रोक, जांच के लिए बनाई समिति◾विधानसभा चुनाव तक चलेगी हिंदू-मुसलमानको लेकर तीखी बयानबाजी: राकेश टिकैत◾World Corona: दुनियाभर में जारी है कोरोना का कोहराम, संक्रमित मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 35.79 करोड़ के पार◾Corona Update: देश में तीसरी लहर का सितम जारी, संक्रमण के 2 लाख 85 हजार से अधिक नए केस, 665 लोगों की मौत ◾दिल्ली: गणतंत्र दिवस समारोह के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम, 27,000 से अधिक पुलिसकर्मी तैनात◾गणतंत्र दिवस पर पीएम मोदी समेत कई नेताओं ने दी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं◾PM मोदी असली नायकों का सम्मान करने के लिए प्रतिबद्ध : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पद्म पुरस्कार पर कहा ◾बुद्धदेव को पद्म पुरस्कार देने की घोषणा से पहले उनकी पत्नी को इसके बारे में सूचित किया गया था : सूत्र ◾प्रधानमंत्री ने पद्म पुरस्कार विजेताओं को दी बधाई ◾गणतंत्र दिवस : 189 वीरता पदक सहित 939 पुलिस पदक दिये जाने की घोषणा ◾पद्म पुरस्कार 2022 से सम्मानित किये जाने वालों की पूरी सूची ◾प्रियंका ने BJP और SP पर साधा निशाना - दोनों को पसंद है ध्रुवीकरण, UP को अलग तरह की राजनीति चाहिए◾बिहार में युवाओं के प्रदर्शन पर राहुल ने कहा- डबल इंजन सरकार ने किया डबल अत्याचार◾देश में अब तक कोविड रोधी टीके की 163 करोड़ से ज्यादा खुराक दी गई : सरकार ◾

सीमा पर गांव का मुद्दा: भारत ने कहा- चीन के अनुचित दावों को हमने कभी नहीं किया स्वीकार

दिल्ली में 7 देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के बीच बैठक हुई। इस दौरान अफगानिस्तान के मुद्दे पर चर्चा हुई। इस बैठक में पाकिस्तान को भी निमंत्रण दिया गया था। अफगान को लेकर हुई इस महत्वपूर्ण बैठक में पाकिस्तान ने हिस्सा नहीं लिया। इस पर भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि इससे पता चलता है उनका अफगानिस्तान के मुद्दे पर क्या रवैया है।

अमेरिकी रक्षा विभाग 'पेंटागन' की रिपोर्ट में चीन द्वारा भारत-चीन बॉर्डर के पास निर्माण कार्यों व कथित तौर पर गांव बसाने का दावा किया गया है। इसे लेकर बागची ने कहा कि सरकार ने हमेशा राजनयिक माध्यम से चीन की ऐसी गतिविधियों का कड़ा विरोध किया है और भविष्य में भी ऐसा करना जारी रखेगी। चीन ने पहले भी सीमा से लगते क्षेत्र में निर्माण कार्य किए हैं जिसमें दशकों के दौरान अवैध रूप से कब्जा किया गया क्षेत्र शामिल है। सरकार भारत की सुरक्षा पर असर डालने वाले घटनाक्रमों पर लगातार नजर रखे हुए है। संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए सभी उपाय किए जा रहे हैं।

बागची ने कहा कि सरकार ने सीमावर्ती क्षेत्र में सड़कें, पुल आदि के निर्माण सहित बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए कई कदम उठाए हैं, जिससे सीमावर्ती क्षेत्र में स्थानीय आबादी को ज़रूरी सुविधाएं और कनेक्टिविटी प्रदान की गई। आगे भी सरकार द्वारा ऐसे कार्य किए जाएंगे। 

1500 यात्री गुरु पर्व पर जाएंगे पाकिस्तान

भारत-पाकिस्तान के बीच सड़क यात्रा की इजाजत को लेकर उन्होंने कहा कि दोनों पक्ष के समन्वय में अटारी वाघा एकीकृत चेक पोस्ट के माध्यम से सीमित पैमाने पर यात्रा की जा रही थी। गुरु पर्व के चलते निर्णय लिया गया कि 1500 तीर्थयात्रियों का एक जत्था उत्तर वाघा आईसीपी के रास्ते 17 से 26 नवंबर तक पाकिस्तान की यात्रा करेगा।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने अफगानिस्तान पर दिल्ली में आयोजित एनएसए स्तर की बैठक को लेकर कहा कि पाकिस्तान को भी इसका न्योता दिया गया था, लेकिन वह नहीं आए। इससे अफगानिस्तान को लेकर उनके रवैए का पता चलता है। बागची ने कहा कि अफगानिस्तान के लोगों को भारत का समर्थन बहुत स्पष्ट है। हम वर्षों से अफगानिस्तान के लोगों की मदद कर रहे हैं, लेकिन बीते कुछ माहों से वहां के हालात काफी खराब हो गए हैं। 

आईआईसी के दूत की पीओके यात्रा पर ऐतराज

विदेश मंत्रालय ने इस्लामिक देशों के संगठन OIC के दूत की पाक कब्जे वाले कश्मीर PoJK की यात्रा पर कड़ा ऐतराज जताया। बागची ने कहा कि यह हमारा आंतरिक मामला है। मैंने पहले भी कहा था कि ऐसी यात्राओं को हम हमारे आंतरिक मामलों में दखल मानते हैं।