BREAKING NEWS

Presidential Election 2022: द्रौपदी मुर्मू सर्वसम्मति की उम्मीदवार हो सकती थीं, CM ममता का बड़ा बयान◾ GST collection: जून में 56% उछला जीएसटी संग्रह, मार्च 2022 के बाद से लगातार चौथा महीना है जब कलेक्शन इतना अधिक◾उप्र : नोएडा में अवैध कोरियाई रेस्तरां का भंडाफोड़, भारी मात्रा में शराब बरामद, दो गिरफ्तार◾ यूक्रेन -रूस युद्ध : ओदेसा में रूस के मिसाइल हमले में 19 लोगों की मौत◾ Punjab: क्या पंजाब लोक कांग्रेस का बीजेपी में होगा विलय? कैप्टन अमरिंदर सिंह जल्द कर सकते हैं बड़ा ऐलान ◾राहुल गांधी का भाजपा पर तीखा प्रहार, बोले- देश में ‘‘गुस्से और नफरत" का बनाया माहौल◾ भारत ने पाकिस्तान से हिरासत में रखे कैदियों को रिहा करने को कहा◾ PM Modi News: प्रधानमंत्री मोदी ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से की फोन पर बात, जानें किन मुद्दों पर हुई चर्चा◾ राजस्थान : कन्हैयालाल के कत्ल के बाद एक्शन में गहलोत प्रशासन, भड़काऊ बयान देने वाला मौलवी गिरफ्तार ◾उपराष्ट्रपति चुनाव में भी चौंका सकती हैं भाजपा, पूर्वोत्तर से हो सकता हैं राजग का उम्मीदवार ◾Prophet Remarks Row: नूपुर शर्मा को बचा रही BJP... मोहम्मद जुबैर की गिरफ्तारी क्यों? ओवैसी हमलवार ◾Yair Lapid: यैर लैपिड बने इजराइल के नए प्रधानमंत्री, PM मोदी ने बधाई देते हुए कहा- दोनों देश पूर्ण राजनयिक...◾नूपुर शर्मा को लेकर जो टिप्पणी की है उसको देखते हुए सत्तारूढ दल का सिर शर्म से झुकना चाहिए : कांग्रेस ◾ शिंदे के कदम से कमजोर नहीं होगी पार्टी, जहां ठाकरे-वहीं शिवसेना : संजय राउत ◾Maharashtra News: सत्ता पलटने के बाद ठाकरे का छलका दर्द! बोले- 2019 में अमित शाह मान जाते तो.... ◾जीएसटी ने कारोबारी सुगमता बढ़ाने में योगदान दियाः प्रधानमंत्री◾ वादे पर रहते तो आज BJP का होता मुख्यमंत्री, इस्तीफा देने के बाद उद्धव का शिंदे और भाजपा पर बड़ा हमला◾उदयपुर हत्याकांड : सीसीटीवी कैमरा फुटेज से हत्याकांड में हुआ बड़ा खुलासा, गला रेत बाइक से भागे थे आरोपी ◾ पैगंबर मोहम्मद टिप्पणी मामले में नूपुर शर्मा पर कोर्ट ने की कड़ी टिप्पणी ◾ बढ़ सकती है सिसोदिया की मुश्किलें, असम के CM सरमा ने दर्ज कराया दिल्ली के उपमुख्मंत्री पर मानहानि का मामला◾

वीजा घोटाला : बुधवार को CBI के सामने पेश हो सकते हैं कार्ति चिदंबरम

कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम कथित वीजा घोटाले के मामले में जांच में सहयोग के लिए बुधवार को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो के सामने पेश हो सकते हैं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

मामला 2011 का है जब कार्ति चिदंबरम के पिता पी. चिदंबरम के गृह मंत्री रहते 263 चीनी नागरिकों को कथित तौर पर वीजा जारी किया गया था। उच्चतम न्यायालय और सीबीआई की विशेष अदालत की अनुमति से ब्रिटेन और यूरोप की यात्रा पर गए कार्ति मंगलवार को वापस आने वाले हैं। सीबीआई विशेष अदालत के आदेश के अनुसार, कार्ति को वापस आने के 16 घंटे के भीतर सीबीआई जांच में शामिल होना है।

सीबीआई की प्राथमिकी के अनुसार, कार्ति और उनके नजदीकी सहयोगी एस. भास्कररमन को वेदांत समूह की एक कंपनी के एक उच्च अधिकारी ने 50 लाख रुपये की रिश्वत दी थी। वेदांत समूह की कंपनी तलवंडी साबो पावर लिमिटेड (टीएसपीएल) पंजाब में एक संयंत्र लगा रही थी और इसके लिए एक चीनी कम्पनी को जिम्मा दिया गया था।

प्राथमिकी के अनुसार, टीएसपीएल के अधिकारी ने 263 चीनी श्रमिकों के लिए फिर से वीजा जारी करने के एवज में कथित तौर पर 50 लाख रुपये की रिश्वत दी थी।